राजनीति

बिहार: प्रचार के दौरान प्रत्याशी की हत्या, समर्थकों ने एक हमलावर को पीट-पीटकर मार डाला

बिहार के शिवहर विधानसभा क्षेत्र का मामला. मृतक श्रीनारायण सिंह जनता दल राष्ट्रवादी के प्रत्याशी थे. हमले में उनके एक समर्थक की भी मौत हो गई है. पुलिस ने इसे निजी दुश्मनी का मामला बताया है.

श्रीनारायण सिंह. (फोटो साभार: फेसबुक)

श्रीनारायण सिंह. (फोटो साभार: फेसबुक)

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव में शनिवार को शिवहर विधानसभा क्षेत्र में प्रचार के दौरान जनता दल राष्ट्रवादी (जेडीआर) पार्टी के एक प्रत्याशी की और उनके एक समर्थक की गोली मारकर हत्या कर दी गई.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, इस घटना के बाद मृतक नेता के समर्थकों ने एक हमलाकर की पीट-पीटकर हत्या कर दी.

पुलिस ने कहा कि जनता दल राष्ट्रवादी पार्टी के प्रत्याशी श्रीनारायण सिंह शनिवार की शाम को अपने समर्थकों के साथ हथसार गांव में चुनाव प्रचार कर रहे थे. इसी दौरान दो मोटरसाइकिलों पर सवार चार हमलावरों ने सिंह और उनके समर्थकों पर गोलीबारी शुरू कर दी.

सिंह की हॉस्पिटल ले जाने के दौरान रास्ते में ही मौत हो गई, वहीं घटना में उनके एक समर्थक की भी मौत हो गई, जबकि दो समर्थक गंभीर रूप से घायल हो हैं.

प्रभात खबर की रिपोर्ट के अनुसार, गंभीर रूप से घायल दो लोगों को इलाज के लिए सीतामढ़ी के नंदीपत मेमोरियल हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था, जहां संताेष साह की मौत हो गई, जबकि दूसरे घायल आलोक रंजन उर्फ डब्ल्यू खतरे से बाहर है. एक अन्य घायल का इलाज शिवहर के एक अस्पताल में चल रहा है.

पुलिस ने कहा कि सिंह के समर्थकों ने चार में से एक हमलावर को पकड़ लिया और जावेद के रूप में पहचान किए गए उस हमलावर की पीट-पीटकर हत्या कर दी.

इससे पहले राजद के साथ जुड़े रहने वाले सिंह इस बार उपेंद्र कुशवाहा नेतृत्व वाले गठबंधन के हिस्से जनता दल राष्ट्रवादी से चुनाव लड़ रहे थे. बता दें कि इस गठबंधन में असदुद्दीन औवेसी की एआईएमआईएम और बसपा भी शामिल है.

पुर्नहिया पुलिस स्टेशन प्रभारी मुन्ना कुमार गुप्ता ने कहा, ‘हम हमले के पीछे की वजह पता लगाने की कोशिश में लगे हैं. प्रथमदृष्टया यह निजी दुश्मनी का मामला लग रहा है.

यह पूछे जाने पर कि क्या इस हमले के पीछे राजनीतिक वजहें हैं, ‘गुप्ता ने कहा कि ऐसा कहना जल्दबाजी होगी.’

शिवहर पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार ने कहा, ‘मामले की जांच की जा रही है. कानून-व्यवस्था को नियंत्रण में रखना शीर्ष प्राथमिकता है.’

बता दें कि शिवहर विधानसभा क्षेत्र में जदयू विधायक शर्फूद्दीन और राजद नेता चेतन आनंद सिंह के बीच बेहद करीबी मुकाबला देखने को मिल रहा है. सिंह जेल में बंद सांसद आनंद सिंह के बेटे हैं.

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, शिवहर के जिला निर्वाचन अधिकारी और जिलाधिकारी अविनाश कुमार सिंह ने साफ किया कि घटना की वजह से मतदान कार्यक्रम पर कोई असर नहीं पड़ेगा और चुनाव आयोग द्वारा तय समय पर ही मतदान कराए जाएंगे.