भारत

गुजरात: अहमदाबाद की रासायनिक फैक्टरी में विस्फोट से मरने वालों की संख्या बढ़कर 12 हुई

गुजरात के अहमदाबाद शहर के बाहरी इलाके के एक औद्योगिक क्षेत्र में स्थित रासायनिक फैक्टरी में बुधवार को हुआ विस्फोट इतना जबरदस्त था कि बगल में स्थित कपड़े के गोदाम की इमारत भी ढह गई. इधर, महाराष्ट्र में रायगढ़ ज़िले की एक रासायनिक फैक्टरी में हुए विस्फोट में दो लोगों की मौत की सूचना है.

बचाव कार्य करते दमकल कर्मी (फोटो: पीटीआई)

बचाव कार्य करते दमकल कर्मी (फोटो: पीटीआई)

अहमदाबाद/मुंबई: गुजरात में एक रासायनिक फैक्टरी में बुधवार सुबह हुए विस्फोट से इसका एक हिस्सा ढह गया. धमाका इतना जबरदस्त था कि फैक्टरी के बगल में स्थित कपड़ों के एक गोदाम की इमारत ढह गई.

इस हादसे में मरने वालों की संख्या बढ़कर 12 हो गई है. इनमें पांच महिलाएं भी शामिल हैं. हादसे में नौ लोग घायल हैं. इधर, महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में बुधवार देर रात एक रसायन फैक्टरी में विस्फोट से दो लोगों की मौत की सूचना है.

गुजरात में हुए हादसे को लेकर अधिकारियों ने बताया कि अहमदाबाद शहर के बाहरी इलाके में स्थित एक औद्योगिक क्षेत्र, पिराना-पिपलाज रोड पर स्थित फैक्टरी में विस्फोट हुआ. इसके गोदाम में रासायनिक से भरे ड्रम रखे हुए थे.

नौ घंटे तक तलाश और बचाव अभियान के दौरान शहर के अग्निशमन दल ने मलबे से 12 शवों को निकाला और नौ अन्य लोगों को बचाया.

अभियान रात करीब आठ बजकर 30 मिनट पर समाप्त हुआ. घायलों को अहमदाबाद नगर निगम संचालित एलजी अस्पताल ले जाया गया है.

गोदाम में सुबह 11 बजे शक्तिशाली विस्फोट की वजह से ढांचे को नुकसान पहुंचा और पड़ोसी गोदामों में आग लग गई, जहां मजदूर तैयार कपड़ों को पैक कर रहे थे.

दमकल विभाग के प्रमुख अधिकारी एमएफ दस्तूर ने कहा, ‘हमारा बचाव अभियान समाप्त हो गया. हमने मलबे से 12 शवों को निकाला. नौ लोगों को जिंदा बचाया गया. आग पर 30 मिनट के भीतर काबू पा लिया गया. हमारा अभियान मुख्य रूप से मलबे में फंसे लोगों को बाहर निकालना था.’

उन्होंने बताया कि शाम में राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल की टीम ने भी काम शुरू किया था.

अधिकारी ने बताया कि लोगों की मौत विस्फोट की वजह से हुई है और बाकी क्षति भी इसकी वजह से हुई. आग मामूली रूप से ही लगी थी. इमारत विस्फोट की वजह से गिरी थी.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, रासायनिक बॉयलर की फैक्टरी शाहिल इंटरप्राइजेज में ये विस्फोट हुआ था. धमाके के प्रभाव से उससे सटे कनिका टैक्सो फैब का गोदाम भी ढह गया.

कनिका टैक्सो फैब ने कहा कि धमाके के दौरान गोदाम में 30 श्रमिक काम कर रहे थे.

इंडियन एक्सप्रेस से कनिका टैक्सो फैब कंपनी के मालिक ध्रुव चोपड़ा ने कहा, ‘मैं धमाके की आवाज सुनकर ही गोदाम की पार्किंग में पहुंच गया था. कुछ मिनटों के लिए मैंने अपने होश खो दिए और किसी तरह एम्बुलेंस के लिए 108 को फोन किया. बाद में मेरे कार्यकर्ताओं ने पुलिस और दमकल विभाग को सूचित किया. मेरे गोदाम में 30 कर्मचारी थे जो कपड़ों की पैकिंग कर रहे थे.’

अधिकारियों के मुताबिक, 12 मृत श्रमिकों में से पांच महिलाएं कनिका टैक्सो फैब में कार्यरत थीं, जबकि अन्य शाहिल एंटरप्राइजेज के श्रमिक थे.

उन्होंने बताया कि चार महिलाओं सहित नौ घायलों को आपातकालीन उपचार के लिए एलजी अस्पताल ले जाया गया है, जिनमें से छह की हालत गंभीर है.

एलजी अस्पताल के सहायक चिकित्सा अधिकारी डॉ. गोपाल देसाई ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया, ‘अस्पताल में लाए गए कुल 22 लोगों में से आठ महिलाएं और 14 पुरुष थे, जिनमें से बारह लोगों को मृत घोषित कर दिया गया, जबकि नौ का इलाज चल रहा है.’

इसकी जांच के लिए श्रम और रोजगार विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव विपुल मित्रा और गुजरात प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अध्यक्ष संजीव कुमार के साथ दो सदस्यीय जांच समिति का गठन किया गया है.

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने मृतक के परिवारों को चार-चार लाख रुपये की राशि मुआवजे के रूप में देने की घोषणा की है.

मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने इस घटना पर दुख जताया. उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘अहमदाबाद विस्फोट त्रासदी की खबर से गहरा दुख हुआ. अधिकारियों को जरूरी काम करने के निर्देश दिए हैं. मेरी प्रार्थना सभी प्रभावित लोगों के साथ है. जो लोग घायल हुए हैं वे जल्द से जल्द ठीक हो जाएं. मैं दिवंगत आत्माओं के लिए प्रार्थना करता हूं. ओम शांति’

एक सरकारी विज्ञप्ति में बताया गया कि मुख्यमंत्री ने वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों विपुल मित्रा और संजीव कुमार को घटना की जांच के लिए नियुक्त किया है.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि वह अहमदाबाद में एक गोदाम में आग लगने से हुई मौतों की खबर सुनकर दुखी हैं. कोविंद ने ट्वीट किया, ‘गुजरात के अहमदाबाद में एक गोदाम में आग लगने से हुई मौतों की खबर सुनकर दुख हुआ. शोकाकुल परिवार के साथ मेरी संवेदनाएं. घायलों के जल्द ठीक होने की कामना करता हूं.’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस घटना पर शोक व्यक्त किया. उन्होंने ट्वीट में कहा, ‘अहमदाबाद के गोदाम में आग लगने से जानमाल के नुकसान की खबर से मैं व्यथित हूं. मृतकों को श्रद्धांजलि और घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करता हूं. अधिकारी प्रभावित लोगों को हरसंभव मदद पहुंचा रहे हैं.’

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भी घटना पर शोक जताया. उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘अहमदाबाद में कपड़ों के गोदाम में आग लगने की सूचना अत्यंत दुखद है. स्थानीय प्रशासन घटनास्थल पर हरसंभव सहायता प्रदान करने में जुटा है. इस दुर्घटना में जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं और घायलों के शीघ्र ही स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं.’

महाराष्ट्र में रसायन फैक्टरी में विस्फोट से दो की मौत, छह घायल

महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में बुधवार देर रात एक रसायन फैक्टरी में विस्फोट से दो लोगों की मौत हो गई और छह अन्य घायल हो गए.

एक पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी दी.

उन्होंने कहा कि मुंबई से 70 किलोमीटर दूर स्थित खोपोली उपनगर के सजगांव औद्योगिक क्षेत्र के ढेकु में देर रात 2:30 बजे के आसपास एक फैक्टरी में धमाका हुआ, जिसके बाद परिसर में आग लग गई.

खोपोली पुलिस थाने के अधिकारी ने कहा कि इस हादसे में दो लोगों की मौत हो गई और छह अन्य घायल हो गए.

उन्होंने कहा कि अग्निशमन दल और पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे और उन्होंने आग बुझाने तथा बचाव अभियान शुरू किया.

घायलों को खोपोली स्थित सरकारी अस्पताल ले जाया गया. अधिकारी के अनुसार सुबह तक आग बुझाने का काम जारी था.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)