राजनीति

वरिष्ठ कांग्रेस नेता अहमद पटेल का निधन

तक़रीबन एक महीने पहले कांग्रेस नेता और राज्यसभा सांसद अहमद पटेल कोरोना वायरस से संक्रमित हुए थे. इलाज के दौरान उनके कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के विश्वस्त सहयोगियों में से एक पटेल उनके राजनीतिक सलाहकार भी थे.

अहमद पटेल. (फोटो: पीटीआई)

अहमद पटेल. (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद अहमद पटेल का बुधवार तड़के निधन हो गया. वह 71 वर्ष के थे और कुछ हफ्ते पहले कोरोना वायरस से संक्रमित हुए थे.

पटेल के पुत्र फैसल पटेल और पुत्री मुमताज सिद्दीकी ने ट्विटर पर एक बयान जारी कर बताया कि उनके पिता ने बुधवार को तड़के करीब 3:30 बजे अंतिम सांस ली.

उन्होंने कहा, ‘दुख के साथ अपने पिता अहमद पटेल की दुखद और असामयिक मृत्यु की घोषणा कर रहा हूं. 25 तारीख को सुबह करीब 3.30 बजे उनका निधन हो गया.’

फैसल और मुमताज ने बताया कि लगभग एक महीने पहले उनके पिता कोरोना वायरस से संक्रमित हुए थे. इलाज के दौरान उनके कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया.

पटेल को गुड़गांव के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उन्होंने अंतिम सांस ली.

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के विश्वस्त सहयोगियों में से एक पटेल उनके राजनीतिक सलाहकार थे. कांग्रेस के कोषाध्यक्ष रहे पटेल पार्टी के संकटमोचक के रूप में भी जाने जाते थे.

कांग्रेस के कोषाध्यक्ष अहमद पटेल तीन बार 1977 से 1989 तक लोकसभा सांसद रहे थे और 1993 से गुजरात का प्रतिनिधित्व करते हुए राज्यसभा सांसद थे. संप्रग सरकार के समय वह कांग्रेस पार्टी के शीर्ष वार्ताकारों में से एक थे.

पटेल एक ऐसे भरोसेमंद सहयोगी थे जिनकी जगह कोई नहीं ले सकता: सोनिया

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए बुधवार को कहा कि पटेल एक ऐसे कॉमरेड, निष्ठावान सहयोगी और मित्र थे जिनकी जगह कोई नहीं ले सकता.

सोनिया ने यह भी कहा कि पटेल का पूरी जीवन कांग्रेस को समर्पित था.

उन्होंने एक शोक संदेश में कहा, ‘श्री अहमद पटेल के जाने से मैंने एक ऐसा सहयोगी खो दिया है, जिनका पूरा जीवन कांग्रेस पार्टी को समर्पित था. उनकी निष्ठा और समर्पण, अपने कर्तव्य के प्रति उनकी प्रतिबद्धता, मदद के लिए हमेशा मौजूद रहना और उनकी शालीनता कुछ ऐसी खूबियां थीं, जो उन्हें दूसरों से अलग बनाती थीं.’

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘मैंने ऐसा कॉमरेड, निष्ठावान सहयोगी और मित्र खो दिया जिनकी जगह कोई नहीं ले सकता. मैं उनके निधन पर शोक प्रकट करती हूं और उनके परिवार के प्रति गहरी संवेदना प्रकट करती हूं.’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा, मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला और कई अन्य नेताओं ने पटेल के निधन पर दुख जताया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘अहमद पटेल जी के निधन से दुखी हूं. उन्होंने सार्वजनिक जीवन में कई साल बिताए और समाज की सेवा की. वह अपने तेज दिमाग के लिए जाने जाते थे. कांग्रेस पार्टी को मजबूत बनाने में उनकी भूमिका हमेशा याद किया जाएगा. उनके बेटे फैसल से बात कर शोक संवेदना व्यक्त की. अहमद भाई की आत्मा को शांति मिले.’

कांग्रेस नेता राहुल गांधी उन्हें पार्टी का स्तंभ बताया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘यह एक दुखद दिन है. श्री अहमद पटेल कांग्रेस पार्टी के स्तंभ थे. वह कांग्रेस के लिए जिए और सबसे खराब समयों में भी पार्टी के साथ खड़े रहे. वह एक महत्वपूर्ण संपदा थे.’

उन्होंने कहा, ‘हम उन्हें याद करेंगे. फैसल, मुमताज और उनके परिवार के प्रति मेरा प्यार और शोक संवेदनाएं.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)