भारत

गुजरात: किसान आंदोलन के समर्थन में कथित आपत्तिजनक फेसबुक पोस्ट पर युवक के ख़िलाफ़ केस दर्ज

गुजरात के आणंद का मामला. आरोप है कि खंभात की शान नाम से फेसबुक पेज चलाने वाले शख़्स ने किसान आंदोलन के समर्थन में प्रधानमंत्री नरेंद्र के ख़िलाफ़ आपत्तिजनक पोस्ट की और लोगों को भड़काने का काम किया.

(फोटो साभार: पिक्साबे)

(फोटो साभार: पिक्साबे)

अहमदाबादः केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के विरोध में प्रदर्शन कर रहे किसानों के समर्थन में फेसबुक पोस्ट करने के लिए गुजरात पुलिस ने आणंद के एक शख्स के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने कथित तौर पर राष्ट्रीय एकता बाधित करने का प्रयास करने के लिए मामला दर्ज किया है.

आरोप है कि युवक ने आंदोलन के समर्थन में प्रधानमंत्री नरेंद्र के खिलाफ आपत्तिजनक पोस्ट की और लोगों को भड़काने का काम किया.

पुलिस के मुताबिक, वडोदरा के रहने वाले शैलेश परमार ‘खंभात की शान’ नाम से फेसबुक पेज चलाते हैं, जिस पर उन्होंने कई तरह के आपत्तिजनक पोस्ट किए थे, इस वजह से रविवार को खंभात पुलिस ने उनके खिलाफ मामला दर्ज किया.

आणंद के पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘हमें जानकारी मिली है कि शैलेश परमार ‘खंभात के शान’ नाम से फेसबुक पेज चलाते हैं और वे उस पर आपत्तिनजक पोस्ट करते हैं.’

पुलिस ने सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ कथित तौर पर आपत्तिजनक पोस्ट करने और लोगों को भड़काने के लिए यह मामला दर्ज किया गया है.

आरोप है कि शैलेश ने सिलसिलेवार ढंग से आठ पोस्ट कर केंद्र सरकार के कृषि कानूनों को लेकर प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ गुस्सा जाहिर किया था.

उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 153बी और 505(1)(बी) के तहत मामला दर्ज किया गया है.

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस का कहना है कि शैलेष परमार ने राष्ट्रीय एकता को तोड़ने तथा राज्य के खिलाफ सार्वजनिक शांति को खतरा पैदा करने जैसा अपराध किया है.

पुलिस अधीक्षक अजीत राज यान तथा पुलिस उपाधीक्षक आरएल सोलंकी के निर्देश के बाद सिटी पुलिस ने शैलेश परमार को गिरफ्त में लेकर उसके खिलाफ विविध धाराओं के तहत कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है.