दुनिया

कोरोना वायरस: देश में संक्रमण के कुल मामले 98 लाख के पार, विश्व में 7 करोड़ से अधिक हुए

भार में कोरोना वायरस संक्रमण से बीते 24 घंटे में 442 लोगों की मौत होने से मृतक संख्या बढ़कर 142,628 पर पहुंच गई है, जबकि विश्व में यह महामारी अब तक 15.94 लाख लोगों की जान ले चुकी है.

Workers wearing protective face masks sit inside a shop selling iron pipes at a wholesale iron market, after authorities eased lockdown restrictions that were imposed to slow the spread of the coronavirus disease (COVID-19), in Kolkata, India, June 15, 2020. Credit: Reuters

(फोटो: रॉयटर्स)

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस के एक दिन के भीतर 30,006 नए मामले सामने आने के साथ संक्रमण के कुल मामले 98.26 लाख हो गए. वहीं 9,324,328 लोगों के संक्रमण से उबरने से संक्रमण मुक्त होने की राष्ट्रीय दर बढ़कर शनिवार को 94.88 फीसदी हो गई.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह आठ बजे के अद्यतन आंकड़ों के अनुसार देश में कोरोना वायरस के कुल 9,826,775 मामले हैं. 24 घंटे के भीतर 442 संक्रमितों की मौत होने से मृतक संख्या बढ़कर 142,628 पर पहुंच गई है.

इन आंकड़ों के मुताबिक कोविड-19 के कारण जान गंवाने वालों की दर और घट गई है. यह अब 1.45 फीसदी है.

आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोना वायरस से संक्रमित 359,819 लोगों का इलाज चल रहा है, जो देश में संक्रमण के कुल मामलों का 3.66 फीसदी है.

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के मुताबिक 11 दिसंबर तक कुल 152,697,399 नमूनों की कोरोना वायरस संबंधी जांच की गई, जिनमें से 1,065,176 नमूनों की जांच शुक्रवार को की गई.

बीते 24 घंटे में संक्रमण के कारण जिन 442 लोगों की मौत हुई है, उनमें से 87 की महाराष्ट्र में, 60 की दिल्ली में, 50 की पश्चिम बंगाल में, 29-29 की केरल और पंजाब में, 23 की हरियाणा में, 16 की कर्नाटक में तथा 14-14 संक्रमितों की मौत उत्तर प्रदेश और छत्तीसगढ़ में हुई.

कोरोना वायरस के कारण देश में कुल 142,628 लोगों की मौत हुई है, जिनमें से 48,059 की महाराष्ट्र में, 11,928 की कर्नाटक में, 11,870 की तमिलनाडु में, 9,934 की दिल्ली में, 8,966 की पश्चिम बंगाल में, 8,025 की उत्तर प्रदेश में, 7,049 की आंध्र प्रदेश में, 5,036 की पंजाब में और 4,148 संक्रमितों की मौत गुजरात में हुई है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि कोरोना वायरस के कारण जान गंवाने वाले 70 फीसदी से अधिक लोग अन्य रोगों से भी पीड़ित थे.

भारत में कोविड-19 के कुल मामले सात अगस्त को 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख, पांच सितंबर को 40 लाख, 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख के पार, 11 अक्टूबर को 70 लाख के पार, 29 अक्टूबर को 80 लाख के पार हो गए और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे.

आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कोविड-19 संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 10 लाख से 20 लाख तक पहुंचने में 21 दिनों का समय लगा था, जबकि 20 से 30 लाख की संख्या होने में 16 और दिन लगे. हालांकि 30 लाख से 40 लाख तक पहुंचने में मात्र 13 दिनों का समय लगा है. वहीं, 40 लाख के बाद 50 लाख की संख्या को पार करने में केवल 11 दिन लगे.  मामलों की संख्या 50 लाख से 60 लाख होने में 12 दिन लगे थे. 60 से 70 लाख होने में इसे 13 दिन लगे. 70 से 80 लाख होने में 19 दिन लगे और 80 से 90 लाख होने में 13 दिन लगे.

देश में 110 दिन में कोविड-19 के मामले एक लाख हुए थे और 59 दिनों में वह 10 लाख के पार चले गए थे.

वायरस के मामले और मौतें

24 घंटे में सामने आए नए मामलों की बात करें तो बीते 11 दिसंबर को 29,398, 10 दिसंबर को 31,521, नौ दिसंबर को 32,080, आठ दिसंबर को 26,567, सात दिसंबर को 32,981, छह दिसंबर को 36,011, पांच दिसंबर को 36,652, चार दिसंबर को 36,595, तीन दिसंबर को 35,551, दो दिसंबर को 36,604 और एक दिसंबर को 31,118 नए मामले सामने आए थे.

इसी तरह बीते 24 घंटे के दौरान  11 दिसंबर को 414, 10 दिसंबर को 412, नौ दिसंबर को 402, आठ दिसंबर को 385, सात दिसंबर को 391, छह दिसंबर को 482, पांच दिसंबर को 512, चार दिसंबर को 540, तीन दिसंबर को 526, दो दिसंबर को 501 और एक दिसंबर को 482 लोगों की मौत हुई.

नवंबर महीने 24 घंटे के दौरान सात नवंबर को संक्रमण के अधिकतम 50,356 मामले सामने आए थे और पांच नवंबर को संक्रमण से अधिकतम 704 लोगों की मौत हुई थी.

अक्टूबर महीने की बात करें तो एक तारीख को अधिकतम 86,821 और 28 अक्टूबर को न्यूनतम 43,893 मामले 24 घंटे के दौरान सामने आए थे. अक्टूबर में 24 घंटे में मरने वालों की अधिकतम संख्या 1 अक्टूबर को 1,181 थी.

सात सितंबर को 90,802 और 30 सितंबर को 80,472 नए मामले दर्ज किए गए थे. सात से 30 सितंबर के बीच नए मामलों की संख्या घटती बढ़ती रही. इस अवधि में 22 सितंबर को 75,083 (न्यूनतम) और 17 सितंबर को 97,894 (अधिकतम) मामले दर्ज किए गए थे, जो अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा भी है.

छह सितंबर को संक्रमण के नए मामले पहली बार 90 हजार (90,632) के पार हो गए थे. 28 अगस्त को पहली बार 70 हजार (75,760) के पार, सात अगस्त को पहली बार 60 हजार (62,538) के पार, 30 जुलाई को पहली बार 50 हजार के पार हो गए थे.

इसी तरह 20 जुलाई को यह पहली बार 40 हजार के पार, 16 जुलाई को पहली बार 30 हजार के पार, 10 जुलाई को पहली बार 25 हजार (26,506) के पार, तीन जुलाई को पहली बार 20 हजार के पार, 21 जून को पहली बार 15 हजार के पार और 20 जून को संक्रमण के नए मामलों की संख्या पहली बार 14 हजार के पार हुई थी.

सितंबर महीने में एक दिन में मरने वालों की बात करें तो एक सितंबर को इनकी संख्या 819 और 29 सितंबर को न्यूनतम 776 थी. इन दो तारीखों के अलावा पूरे महीने हर दिन मरने वालों की संख्या एक हजार से अधिक रही है. 16 सितंबर को 1290 लोगों की जान गई, जो एक दिन में मरने वालों का सर्वाधिक आंकड़ा है.

10 अगस्त से 31 अगस्त तक बीते 24 घंटे या एक दिन में मरने वालों की संख्या 1007 से अधिकतम 1,092 (19 अगस्त का आंकड़ा) के बीच रही. 24 जुलाई से नौ अगस्त के बीच एक दिन या 24 घंटे में मौत का आंकड़ा 700 से लेकर 933 (आठ अगस्त का आंकड़ा) के बीच रहा है. एक जुलाई से 23 जुलाई के बीच यह आंकड़ा 507 से 1,129 के बीच रहा.

11 जून से 30 जून के बीच मरने वालों की संख्या 300 से 500 के अंदर रही है. 22 जून को एक दिन में मरने वालों की संख्या पहली बार 400 से अधिक रही थी. और 11 जून को पहली बार मरने वालों की संख्या 300 के आंकड़े को पार कर गई थी.

दुनियाभर में मामले 7.1 करोड़ से ज़्यादा, 15.94 लाख से अधिक लोगों की मौत

अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, पूरी दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 71,081,996 हो गए हैं और अब तक 1,594,807 लोगों की जान जा चुकी है.

दुनियाभर में कोरोना से अमेरिका सबसे अधिक प्रभावित देश है. यहां संक्रमण के अब तक 15,842,789 मामले सामने आए हैं, जबकि मरने वालों की संख्या 295,473 हो चुकी है.

भारत संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित दूसरा देश है. भारत के बाद तीसरे सर्वाधिक प्रभावित देश ब्राजील में संक्रमण के अब तक 6,836,227 मामले मिले हैं और 180,437 लोग दम तोड़ चुके हैं.

ब्राजील के बाद चौथे प्रभावित देश रूस में संक्रमण के 2,574,319 मामले आए हैं, जबकि 45,370 मरीजों की मौत दर्ज की जा चुकी है.

रूस के बाद पांचवें सर्वाधिक प्रभावित फ्रांस में संक्रमण के 2,405,210 मामले आए हैं, जबकि 57,641 मरीजों की मौत दर्ज की जा चुकी है.

फ्रांस के बाद छठे सर्वाधिक प्रभावित देश ब्रिटेन में संक्रमण के 1,814,395 मामले हैं और 63,603 लोगों ने जान गंवा दी है. ब्रिटेन के बाद सातवें सर्वाधिक प्रभावित देश इटली में संक्रमण के 1,805,873 मामले सामने आए हैं और 63,387 मौतें हुई हैं.

इटली के बाद आठवें सर्वाधिक प्रभावित देश स्पेन में संक्रमण के 1,730,575 मामले दर्ज हुए हैं, जबकि 47,624 मौतें हुई हैं. स्पेन के बाद नौवें प्रभावित देश अर्जेंटीना में संक्रमण के 1,489,328 मामले सामने आए हैं और 40,606 मौतें हुई हैं.

अर्जेंटीना के बाद 10वें सर्वाधिक प्रभावित देश कोलंबिया में 1,408,909 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि 38,669 लोगों की यह महामारी जान ले चुकी है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)