दुनिया

कोरोना वायरसः 24 घंटे के दौरान 23,950 नए मामले आए और 333 लोगों की मौत

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले 10,099,066 हो गए हैं और मृतक संख्या बढ़कर 146,444 हो गई है. विश्व में संक्रमण के मामले 7.8 करोड़ से ज़्यादा हैं और अब तक 17.18 लाख से अधिक लोग दम तोड़ चुके हैं.

Chennai: A health worker guides passengers to a quarantine centre on their arrival from the United Kingdom, at the Chennai International Airpor, in Chennai, Tuesday, Dec. 22, 2020. Indian government has temporarily suspended all passengers flights from the United Kingdom in the wake the new COVID-19 strain found in the country. (PTI Photo) (PTI22-12-2020 000149B)

ब्रिटेन में कोरोना वायरस का नया प्रकार मिलने के बाद चेन्नई एयरपोर्ट पर वहां से लौटे यात्रियों को क्वारंटीन सेंटर की ओर जाने का इशारा करता स्वास्थ्यकर्मी. (फोटोः पीटीआई)

नई दिल्ली: भारत में एक दिन में कोविड-19 के 23,950 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 10,099,066 हो गए हैं, जबकि इनमें से 96.63 लाख से अधिक लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, 333 और मरीजों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 146,444 हो गई है.

मंत्रालय के अनुसार 9,663,382 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं, जिसके साथ ही संक्रमण से उबरने की राष्ट्रीय दर 95.69 प्रतिशत हो गई है, जबकि कोविड-19 से मृत्युदर 1.45 प्रतिशत है. कोविड-19 का इलाज करा रहे लोगों यानी सक्रिय मामलों की संख्या की संख्या लगातार दूसरे दिन तीन लाख से कम रही.

आंकड़ों के अनुसार देश में इलाज करा रहे लोगों की संख्या 289,240 है, जो कुल मामलों का 2.86 प्रतिशत है.

भारतीय आयुर्विज्ञान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार 22 दिसंबर तक कुल 164,268,721 नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच की गई. इनमें से 1,098,164 नमूनों की जांच मंगलवार को की गई.

आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटे में जिन 333 लोगों की मौत हुई, उनमें से महाराष्ट्र के 75, पश्चिम बंगाल के 38, केरल के 27 और दिल्ली के 25 लोग थे.

मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, देश में वायरस से अभी तक 146,444 लोगों की मौत हो चुकी है, जिनमें से महाराष्ट्र के 48,876, कर्नाटक के 12,029, तमिलनाडु के 12,012, दिल्ली के 10,329, पश्चिम बंगाल के 9,439, उत्तर प्रदेश के  8,224, आंध्र प्रदेश के 7,082 और पंजाब के 5,230 लोग थे.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि अभी तक जिन लोगों की मौत हुई, उनमें से 70 प्रतिशत से ज्यादा मामलों में मरीजों को अन्य बीमारियां भी थीं.

आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कोविड-19 संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 10 लाख से 20 लाख (सात अगस्त को) तक पहुंचने में 21 दिनों का समय लगा था, जबकि 20 से 30 लाख (23 अगस्त को) की संख्या होने में 16 और दिन लगे. हालांकि 30 लाख से 40 लाख (पांच सितंबर) तक पहुंचने में मात्र 13 दिनों का समय लगा है.

वहीं, 40 लाख के बाद 50 लाख (16 सितंबर को) की संख्या को पार करने में केवल 11 दिन लगे. मामलों की संख्या 50 लाख से 60 लाख (28 सितंबर को) होने में 12 दिन लगे थे. 60 से 70 लाख (11 अक्टूबर) होने में इसे 13 दिन लगे. 70 से 80 लाख (29 अक्टूबर को) होने में 19 दिन लगे और 80 से 90 लाख (20 नवंबर को) होने में 13 दिन लगे. 90 लाख से एक करोड़ (19 दिसंबर को) होने में 29 दिन लगे.

देश में 110 दिन में कोविड-19 के मामले एक लाख हुए थे और 59 दिनों में वह 10 लाख के पार चले गए थे.

वायरस के मामले और मौतें

24 घंटे में सामने आए नए मामलों की बात करें तो बीते 22 दिसंबर को 19,556, 21 दिसंबर को 24,337, 20 दिसंबर को 26,624, 19 दिसंबर को 25,153, 18 दिसंबर 22,890, 17 दिसंबर को 24,010, 16 दिसंबर को 26,382, 15 दिसंबर को 22,065, 14 दिसंबर को 27,071, 13 दिसंबर को 30,254, 12 दिसंबर को 30,006, 11 दिसंबर को 29,398, 10 दिसंबर को 31,521, नौ दिसंबर को 32,080, आठ दिसंबर को 26,567, सात दिसंबर को 32,981, छह दिसंबर को 36,011, पांच दिसंबर को 36,652, चार दिसंबर को 36,595, तीन दिसंबर को 35,551, दो दिसंबर को 36,604 और एक दिसंबर को 31,118 नए मामले सामने आए थे.

इसी तरह बीते 24 घंटे के दौरान 22 दिसंबर को 301, 21 दिसंबर को 333, 20 दिसंबर को 341, 19 दिसंबर को 347, 18 दिसंबर 338, 17 दिसंबर को 355, 16 दिसंबर को 387, 15 दिसंबर को 354, 14 दिसंबर को 336, 13 दिसंबर को 391, 12 दिसंबर को 442, 11 दिसंबर को 414, 10 दिसंबर को 412, नौ दिसंबर को 402, आठ दिसंबर को 385, सात दिसंबर को 391, छह दिसंबर को 482, पांच दिसंबर को 512, चार दिसंबर को 540, तीन दिसंबर को 526, दो दिसंबर को 501 और एक दिसंबर को 482 लोगों की मौत हुई.

नवंबर महीने 24 घंटे के दौरान सात नवंबर को संक्रमण के अधिकतम 50,356 मामले सामने आए थे और पांच नवंबर को संक्रमण से अधिकतम 704 लोगों की मौत हुई थी.

अक्टूबर महीने की बात करें तो एक तारीख को अधिकतम 86,821 और 28 अक्टूबर को न्यूनतम 43,893 मामले 24 घंटे के दौरान सामने आए थे. अक्टूबर में 24 घंटे में मरने वालों की अधिकतम संख्या 1 अक्टूबर को 1,181 थी.

सात सितंबर को 90,802 और 30 सितंबर को 80,472 नए मामले दर्ज किए गए थे. सात से 30 सितंबर के बीच नए मामलों की संख्या घटती बढ़ती रही. इस अवधि में 22 सितंबर को 75,083 (न्यूनतम) और 17 सितंबर को 97,894 (अधिकतम) मामले दर्ज किए गए थे, जो अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा भी है.

छह सितंबर को संक्रमण के नए मामले पहली बार 90 हजार (90,632) के पार हो गए थे. 28 अगस्त को पहली बार 70 हजार (75,760) के पार, सात अगस्त को पहली बार 60 हजार (62,538) के पार, 30 जुलाई को पहली बार 50 हजार के पार हो गए थे.

इसी तरह 20 जुलाई को यह पहली बार 40 हजार के पार, 16 जुलाई को पहली बार 30 हजार के पार, 10 जुलाई को पहली बार 25 हजार (26,506) के पार, तीन जुलाई को पहली बार 20 हजार के पार, 21 जून को पहली बार 15 हजार के पार और 20 जून को संक्रमण के नए मामलों की संख्या पहली बार 14 हजार के पार हुई थी.

सितंबर महीने में एक दिन में मरने वालों की बात करें तो एक सितंबर को इनकी संख्या 819 और 29 सितंबर को न्यूनतम 776 थी. इन दो तारीखों के अलावा पूरे महीने हर दिन मरने वालों की संख्या एक हजार से अधिक रही है. 16 सितंबर को 1290 लोगों की जान गई, जो एक दिन में मरने वालों का सर्वाधिक आंकड़ा है.

10 अगस्त से 31 अगस्त तक बीते 24 घंटे या एक दिन में मरने वालों की संख्या 1007 से अधिकतम 1,092 (19 अगस्त का आंकड़ा) के बीच रही. 24 जुलाई से नौ अगस्त के बीच एक दिन या 24 घंटे में मौत का आंकड़ा 700 से लेकर 933 (आठ अगस्त का आंकड़ा) के बीच रहा है. एक जुलाई से 23 जुलाई के बीच यह आंकड़ा 507 से 1,129 के बीच रहा.

11 जून से 30 जून के बीच मरने वालों की संख्या 300 से 500 के अंदर रही है. 22 जून को एक दिन में मरने वालों की संख्या पहली बार 400 से अधिक रही थी. और 11 जून को पहली बार मरने वालों की संख्या 300 के आंकड़े को पार कर गई थी.

दुनियाभर में मामले 7.8 करोड़ से ज़्यादा, 17.18 लाख से अधिक लोगों की मौत

अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, पूरी दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 78,077,208 हो गए हैं और अब तक 1,718,371 लोगों की जान जा चुकी है.

दुनियाभर में कोरोना से अमेरिका सबसे अधिक प्रभावित देश है. यहां संक्रमण के अब तक 18,236,614 मामले सामने आए हैं, जबकि मरने वालों की संख्या 322,832 हो चुकी है.

भारत संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित दूसरा देश है. भारत के बाद तीसरे सर्वाधिक प्रभावित देश ब्राजील में संक्रमण के अब तक 7,318,821 मामले मिले हैं और 188,259 लोग दम तोड़ चुके हैं.

ब्राजील के बाद चौथे प्रभावित देश रूस में संक्रमण के 2,905,196 मामले आए हैं, जबकि 51,810 मरीजों की मौत दर्ज की जा चुकी है.

रूस के बाद पांचवें सर्वाधिक प्रभावित फ्रांस में संक्रमण के 2,547,577 मामले आए हैं, जबकि 61,821 मरीजों की मौत दर्ज की जा चुकी है.

फ्रांस के बाद छठे सर्वाधिक प्रभावित देश ब्रिटेन में संक्रमण के 2,116,609 मामले हैं और 68,409 लोगों ने जान गंवा दी है. ब्रिटेन के बाद सातवें सर्वाधिक प्रभावित देश तुर्की में संक्रमण के 2,062,960 मामले सामने आए हैं और 18,602 मौतें हुई हैं.

तुर्की के बाद आठवें सर्वाधिक प्रभावित देश इटली में संक्रमण के 1,977,370 मामले दर्ज हुए हैं, जबकि 69,842 मौतें हुई हैं. इटली के बाद नौवें प्रभावित देश स्पेन में संक्रमण के 1,829,903 मामले सामने आए हैं और 49,520 मौतें हुई हैं.

स्पेन के बाद अर्जेंटीना को पछाड़कर जर्मनी 10वां सर्वाधिक प्रभावित देश बन गया है. यहां संक्रमण के 1,570,371 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि 28,103 लोगों की यह महामारी जान ले चुकी है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)