भारत

दिल्ली में सीवर सफाई के दौरान फिर तीन कर्मचारियों की मौत

रविवार को दिल्ली के लाजपत नगर इलाके में सफाई के दौरान तीनों कर्मचारी जहरीली गैस की चपेट में आ गए थे. 15 जुलाई को घिटोरनी इलाके में चार सफाई कर्मचारियों की मौत हो गई थी.

(प्रतीकात्मक तस्वीर: रॉयटर्स)

(प्रतीकात्मक तस्वीर: रॉयटर्स)

घटना दोपहर एक बजे की है. तीनों कर्मचारी लाजपत नगर इलाके में स्थित कबीर राम मंदिर के नज़दीक एक सीवर लाइन की सफाई के लिए उसके अंदर गए थे. जहरीली गैस की चपेट में आने के बाद तीनों बेहोशी की हालत में निकाले गए. इसके बाद उन्हें एम्स के ट्रामा सेंटर ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

पुलिस ने बताया कि मृतकों में से दो पीड़ितों की पहचान जोगिंदर (32) और अन्नू (28) के रूप में की गई, तीसरे कर्मचारी की पहचान अभी नहीं हो सकी है.

इसी तरह मध्य प्रदेश के देवास ज़िले से तकरीबन 60 किलोमीटर दूर पिपलरावा थाना इलाके के गांव बरदु में सेप्टिक टैंक की सफाई करने के लिए घुसे चार सफाईकर्मियों की 31 जुलाई को मौत हो गई थी.

मृतकों की पहचान विजय सिहोते (20), ईर सिहोते (35), दिनेश गोयल (35) और रिंकू गोयल (16) के रूप में हुई. ये सभी देवास के रहने वाले थे.

इससे पहले बीती 15 जुलाई को दक्षिण दिल्ली के घिटोरनी इलाके में सेप्टिक टैंक की सफाई के दौरान दम घुटने से चार सफाई कर्मचारियों की मौत हो गई थी. चारों की पहचान स्वर्ण सिंह (45), दीपू (28), अनिल (23) और बलविंदर (32) के तौर पर हुई थी. सभी कर्मचारी छतरपुर के आंबेडकर कॉलोनी के रहने वाले थे.