भारत

बिहार: पंचायत द्वारा कथित तौर पर थूक चाटने पर मजबूर किए जाने के बाद युवक ने आत्महत्या की

मामला बिहार के कैमूर ज़िले का मामला है. युवक पर एक लड़की को परेशान करने का आरोप लगा था, जिससे वह कथित तौर पर प्रेम करता था. मृतक के पिता ने लड़की के परिवारवालों और पंचायत के सदस्यों के ख़िलाफ़ प्राथमिकी दर्ज कराई है.

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

कैमूर: बिहार के कैमूर जिले में पंचायत द्वारा कथित तौर पर अपना ही थूक चाटने पर मजबूर किए जाने के बाद युवक ने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली.

युवक पर एक लड़की को परेशान करने का आरोप लगा था, जिससे वह कथित तौर पर प्रेम करता था.

कैमूर जिले के पुलिस अधीक्षक दिलनवाज अहमद ने संवाददाताओं को बताया कि सोमवार रात (29 दिसंबर) को 22 वर्षीय शिवशंकर गुप्ता का शव उसके घर की छत से लटकता पाया गया. यह घटना चैनपुर पुलिस थानांतर्गत क्षेत्र की है.

मृतक के पिता द्वारा दर्ज कराई गई प्राथमिकी के मुताबिक, शनिवार-रविवार (26-27 दिसंबर) की मध्य रात्रि को उस समय यह मामला शुरू हुआ, जब मृतक शिवशंकर गुप्ता पास ही रहने वाली लड़की के घर अपना मोबाइल फोन वापस मांगने गया.

शिकायतकर्ता का दावा है कि लड़की शिवशंकर गुप्ता के आने की जानकारी मिलने पर फरार हो गई और उसके परिवार वालों ने युवक के साथ मारपीट की और उस पर लड़की का उत्पीड़न करने के मकसद से आने का आरोप लगाया.

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक एसएचओ उदयभानु सिंह ने कहा कि मृतक के पिता राजेश गुप्ता के लिखित बयान पर पांच लोगों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज की गई है.

प्राथमिकी के अनुसार, शिवशंकर गुप्ता को लड़की के परिवार के सदस्यों ने 24 दिसंबर की रात अपने आवास पर पकड़ा था. उस पर बुरी तरह से हमला किया गया और यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया गया.

सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और युवक को लड़की के परिवार के सदस्यों के चंगुल से मुक्त कराया.

मामले को प्रेम संबंध मानते हुए पुलिस ने परिवार के सदस्यों को सुझाव दिया कि इसको सौहार्दपूर्ण ढंग से हल किया जाए.

यह मामला दो अलग-अलग जातियों के लोगों से संबंधित होने के चलते इलाके में तनाव हो गया, जिसके बाद फैसले के लिए पंचायत बुलाई गई.

उदयभानु सिंह ने कहा, ‘लड़की का परिवार और स्थानीय लोगों का एक समूह 26 दिसंबर को गांव में इकट्ठा हुआ और युवक को बुलाया गया. बैठक में उसके साथ फिर से मारपीट की गई. बाद में पंचायत ने उन्हें जमीन पर थूकने और उसे चाटने का आदेश दिया.’

प्राथमिकी के हवाले से अधीक्षक ने बताया कि इस अपमान के बाद युवक परिवार के सदस्यों के साथ घर वापस आ गया और बाद में सोमवार रात को अपना कमरा बंद करके आत्महत्या कर ली.

उन्होंने बताया कि मृतक के पिता ने लड़की के परिवारवालों और पंचायत के सदस्यों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है. अधिकारी ने बताया कि फिलहाल किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है और मामले की जांच की जा रही है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)