दुनिया

कोरोना वायरस: 20 हज़ार से कम नए मामले आए, 99 लाख से ज़्यादा लोग संक्रमण मुक्त

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 10,305,788 हो गई है और अब तक 149,218 लोगों की मौत हो चुकी है. विश्व में संक्रमण के 8.39 करोड़ से ज़्यादा मामले सामले आए हैं और 18.27 लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. सर्वाधिक प्रभावित देश अमेरिका में संक्रमण के कुल मामले दो करोड़ के पार हुए.

A doctor stands outside the emergency entrance at Maimonides Medical Center, as the spread of the coronavirus disease (COVID-19) continues, in Brooklyn, New York City, U.S., December 4, 2020. REUTERS/Brendan McDermid/File Photo

(फोटो: रॉयटर्स)

नई दिल्ली: देश में शनिवार को कोविड-19 के 20,000 से कम नए मामले सामने आए, जिसके बाद संक्रमण के मामले बढ़कर 10,305,788 हो गए. वहीं देश में संक्रमण मुक्त होने वाले लोगों की संख्या 99 लाख पार कर गई है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, देश में एक दिन में संक्रमण के 19,079 नए मामले सामने आए, वहीं 224 और लोगों की संक्रमण से मौत होने से मृतक संख्या बढ़कर 149,218 हो गई.

देश में संक्रमण मुक्त होने वाले व्यक्तियों की संख्या बढ़कर 9,906,387 हो गई है, जिससे संक्रमण से ठीक होने की राष्ट्रीय दर 96.12 प्रतिशत हो गई है, वहीं संक्रमण से मृत्यु दर 1.45 प्रतिशत है.

आंकड़े के अनुसार देश में लगातार 12वें दिन इलाज करा रहे लोगों यानी सक्रिय मामलों की संख्या तीन लाख से कम रही. देश में इलाज करा रहे लोगों की संख्या वर्तमान में 250,183 है.

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार देश में एक जनवरी तक कुल 173,941,658 नमूनों की जांच की गई, जिनमें से 829,964 नमूनों की जांच शुक्रवार को की गई.

संक्रमण से जान गंवाने वाले 224 व्यक्तियों में से महाराष्ट्र में 59, पश्चिम बंगाल में 26, केरल में 23 और 21 लोगों की मौत दिल्ली में हुई.

देश में अब तक संक्रमण से हुई 1,49,218 मौतों में से, महाराष्ट्र में सबसे अधिक 49,580 इसके बाद तमिलनाडु में 12,135, कर्नाटक में 12,096, दिल्ली में 10,557, पश्चिम बंगाल में 9,738, उत्तर प्रदेश में 8,379, आंध्र प्रदेश में 7,108 और पंजाब में 5,349 लोगों की मौत हुई.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि कुल मौतों में से 70 प्रतिशत से अधिक मामलों में मरीज अन्य बीमारियों से भी पीड़ित थे.

आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कोविड-19 संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 10 लाख से 20 लाख (सात अगस्त को) तक पहुंचने में 21 दिनों का समय लगा था, जबकि 20 से 30 लाख (23 अगस्त को) की संख्या होने में 16 और दिन लगे. हालांकि 30 लाख से 40 लाख (पांच सितंबर) तक पहुंचने में मात्र 13 दिनों का समय लगा है.

वहीं, 40 लाख के बाद 50 लाख (16 सितंबर को) की संख्या को पार करने में केवल 11 दिन लगे. मामलों की संख्या 50 लाख से 60 लाख (28 सितंबर को) होने में 12 दिन लगे थे. 60 से 70 लाख (11 अक्टूबर) होने में इसे 13 दिन लगे. 70 से 80 लाख (29 अक्टूबर को) होने में 19 दिन लगे और 80 से 90 लाख (20 नवंबर को) होने में 13 दिन लगे. 90 लाख से एक करोड़ (19 दिसंबर को) होने में 29 दिन लगे.

देश में 110 दिन में कोविड-19 के मामले एक लाख हुए थे और 59 दिनों में वह 10 लाख के पार चले गए थे.

वायरस के मामले और मौतें

24 घंटे में सामने आए नए मामलों की बात करें तो बीते एक जनवरी को 20,035 मामले आए थे और इस दौरान 256 लोगों की मौत हुई थी.

दिसंबर महीने 24 घंटे के दौरान पांच दिसंबर को संक्रमण के अधिकतम 36,652 मामले सामने आए थे और चार दिसंबर को संक्रमण से अधिकतम 540 लोगों की मौत हुई थी. नवंबर महीने 24 घंटे के दौरान सात नवंबर को संक्रमण के अधिकतम 50,356 मामले सामने आए थे और पांच नवंबर को संक्रमण से अधिकतम 704 लोगों की मौत हुई थी.

अक्टूबर महीने की बात करें तो एक तारीख को अधिकतम 86,821 और 28 अक्टूबर को न्यूनतम 43,893 मामले 24 घंटे के दौरान सामने आए थे. अक्टूबर में 24 घंटे में मरने वालों की अधिकतम संख्या 1 अक्टूबर को 1,181 थी.

सात सितंबर को 90,802 और 30 सितंबर को 80,472 नए मामले दर्ज किए गए थे. सात से 30 सितंबर के बीच नए मामलों की संख्या घटती बढ़ती रही. इस अवधि में 22 सितंबर को 75,083 (न्यूनतम) और 17 सितंबर को 97,894 (अधिकतम) मामले दर्ज किए गए थे, जो अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा भी है.

छह सितंबर को संक्रमण के नए मामले पहली बार 90 हजार (90,632) के पार हो गए थे. 28 अगस्त को पहली बार 70 हजार (75,760) के पार, सात अगस्त को पहली बार 60 हजार (62,538) के पार, 30 जुलाई को पहली बार 50 हजार के पार हो गए थे.

इसी तरह 20 जुलाई को यह पहली बार 40 हजार के पार, 16 जुलाई को पहली बार 30 हजार के पार, 10 जुलाई को पहली बार 25 हजार (26,506) के पार, तीन जुलाई को पहली बार 20 हजार के पार, 21 जून को पहली बार 15 हजार के पार और 20 जून को संक्रमण के नए मामलों की संख्या पहली बार 14 हजार के पार हुई थी.

सितंबर महीने में एक दिन में मरने वालों की बात करें तो एक सितंबर को इनकी संख्या 819 और 29 सितंबर को न्यूनतम 776 थी. इन दो तारीखों के अलावा पूरे महीने हर दिन मरने वालों की संख्या एक हजार से अधिक रही है. 16 सितंबर को 1290 लोगों की जान गई, जो एक दिन में मरने वालों का सर्वाधिक आंकड़ा है.

10 अगस्त से 31 अगस्त तक बीते 24 घंटे या एक दिन में मरने वालों की संख्या 1007 से अधिकतम 1,092 (19 अगस्त का आंकड़ा) के बीच रही. 24 जुलाई से नौ अगस्त के बीच एक दिन या 24 घंटे में मौत का आंकड़ा 700 से लेकर 933 (आठ अगस्त का आंकड़ा) के बीच रहा है. एक जुलाई से 23 जुलाई के बीच यह आंकड़ा 507 से 1,129 के बीच रहा.

11 जून से 30 जून के बीच मरने वालों की संख्या 300 से 500 के अंदर रही है. 22 जून को एक दिन में मरने वालों की संख्या पहली बार 400 से अधिक रही थी. और 11 जून को पहली बार मरने वालों की संख्या 300 के आंकड़े को पार कर गई थी.

दुनियाभर में मामले 8.39 करोड़ से ज़्यादा, 18.27 लाख से अधिक लोगों की मौत

अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, पूरी दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 83,979,200 हो गए हैं और अब तक 1,827,796 लोगों की जान जा चुकी है.

दुनियाभर में कोरोना से अमेरिका सबसे अधिक प्रभावित देश है. यहां संक्रमण के अब तक 20,135,305 मामले सामने आए हैं, जबकि मरने वालों की संख्या 347,865 हो चुकी है.

भारत संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित दूसरा देश है. भारत के बाद तीसरे सर्वाधिक प्रभावित देश ब्राजील में संक्रमण के अब तक 7,700,578 मामले मिले हैं और 195,411 लोग दम तोड़ चुके हैं.

ब्राजील के बाद चौथे प्रभावित देश रूस में संक्रमण के 3,153,960 मामले आए हैं, जबकि 56,798 मरीजों की मौत दर्ज की जा चुकी है.

रूस के बाद पांचवें सर्वाधिक प्रभावित फ्रांस में संक्रमण के 2,697,014 मामले आए हैं, जबकि 64,892 मरीजों की मौत दर्ज की जा चुकी है.

फ्रांस के बाद छठे सर्वाधिक प्रभावित देश ब्रिटेन में संक्रमण के 2,549,689 मामले हैं और 74,237 लोगों ने जान गंवा दी है. ब्रिटेन के बाद सातवें सर्वाधिक प्रभावित देश तुर्की में संक्रमण के 2,220,855 मामले सामने आए हैं और 21,093 मौतें हुई हैं.

तुर्की के बाद आठवें सर्वाधिक प्रभावित देश इटली में संक्रमण के 2,129,376 मामले दर्ज हुए हैं, जबकि 74,621 मौतें हुई हैं. इटली के बाद नौवें प्रभावित देश स्पेन में संक्रमण के 1,928,265 मामले सामने आए हैं और 50,837 मौतें हुई हैं.

स्पेन के बाद 10वें सर्वाधिक प्रभावित देश जर्मनी में संक्रमण के 1,762,733 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि 34,145 लोगों की यह महामारी जान ले चुकी है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)