दुनिया

कोरोना वायरस: 24 घंटे में संक्रमण के 18,177 नए मामले और 217 लोगों की मौत

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 10,323,965 हो गई है और अब 149,435 लोग जान गंवा चुके हैं. विश्व में कुल मामले 8.45 करोड़ से ज़्यादा हो गए हैं, जबकि 18.35 लाख से अधिक लोगों की मौत हुई है. सर्वाधित प्रभावित देश अमेरिका में मृतक संख्या 3.5 लाख से अधिक हो गई है.

Gabriel Cervera and Sanjana Krishnan take a break from treating coronavirus patients at United Memorial Medical Center in Houston, Texas, December 29, 2020. REUTERS/Callaghan O'Hare

(फोटो: रॉयटर्स)

नई दिल्ली: देश में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 18,177 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 10,323,965 हो गई है, जिनमें से 9,927,310 लोग संक्रमणमुक्त हो चुके हैं.

देश में संक्रमण से स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर 96.15 प्रतिशत हो गई है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह आठ बजे के अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटे में 217 और लोगों की मौत होने के बाद देश में संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या 149,435 हो गई है. देश में कोविड-19 के कारण मृत्यु दर 1.45 प्रतिशत है.

आंकड़ों के अनुसार, देश में इस समय 247,220 संक्रमित लोगों का उपचार चल रहा है, जो कुल मामलों का 2.39 प्रतिशत है.

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार, देश में दो जनवरी तक 174,899,783 नमूनों की जांच की जा चुकी है, जिनमें से 958,125 नमूनों की जांच शनिवार को की गई.

देश में संक्रमण के कारण पिछले 24 घंटे में 217 लोगों की मौत हुई है, जिनमें से महाराष्ट्र में 51, पश्चिम बंगाल में 28, केरल में 21, पंजाब में 15, दिल्ली में 14, छत्तीसगढ़ में 11, उत्तर प्रदेश में आठ और उत्तराखंड में सात लोगों की मौत हुई है.

देश में कोरोना वायरस संक्रमण के चलते अब तक कुल 149,435 लोगों की मौत हो चुकी है, जिनमें से महाराष्ट्र में 49,631, तमिलनाडु में 12,146, कर्नाटक में 12,099, दिल्ली में 10,571, पश्चिम बंगाल में 9,766, उत्तर प्रदेश में 8,387, आंध्र प्रदेश में 7,111, पंजाब में 5,364 और गुजरात में 4,314 लोगों की मौत हुई है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि कुल मौतों में से 70 प्रतिशत से अधिक मामलों में मरीज अन्य बीमारियों से भी पीड़ित थे.

आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कोविड-19 संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 10 लाख से 20 लाख (सात अगस्त को) तक पहुंचने में 21 दिनों का समय लगा था, जबकि 20 से 30 लाख (23 अगस्त को) की संख्या होने में 16 और दिन लगे. हालांकि 30 लाख से 40 लाख (पांच सितंबर) तक पहुंचने में मात्र 13 दिनों का समय लगा है.

वहीं, 40 लाख के बाद 50 लाख (16 सितंबर को) की संख्या को पार करने में केवल 11 दिन लगे. मामलों की संख्या 50 लाख से 60 लाख (28 सितंबर को) होने में 12 दिन लगे थे. 60 से 70 लाख (11 अक्टूबर) होने में इसे 13 दिन लगे. 70 से 80 लाख (29 अक्टूबर को) होने में 19 दिन लगे और 80 से 90 लाख (20 नवंबर को) होने में 13 दिन लगे. 90 लाख से एक करोड़ (19 दिसंबर को) होने में 29 दिन लगे.

देश में 110 दिन में कोविड-19 के मामले एक लाख हुए थे और 59 दिनों में वह 10 लाख के पार चले गए थे.

वायरस के मामले और मौतें

24 घंटे में सामने आए नए मामलों की बात करें तो बीते एक जनवरी को 20,035 मामले आए थे और इस दौरान 256 लोगों की मौत हुई थी.

दिसंबर महीने 24 घंटे के दौरान पांच दिसंबर को संक्रमण के अधिकतम 36,652 मामले सामने आए थे और चार दिसंबर को संक्रमण से अधिकतम 540 लोगों की मौत हुई थी. नवंबर महीने 24 घंटे के दौरान सात नवंबर को संक्रमण के अधिकतम 50,356 मामले सामने आए थे और पांच नवंबर को संक्रमण से अधिकतम 704 लोगों की मौत हुई थी.

अक्टूबर महीने की बात करें तो एक तारीख को अधिकतम 86,821 और 28 अक्टूबर को न्यूनतम 43,893 मामले 24 घंटे के दौरान सामने आए थे. अक्टूबर में 24 घंटे में मरने वालों की अधिकतम संख्या 1 अक्टूबर को 1,181 थी.

सात सितंबर को 90,802 और 30 सितंबर को 80,472 नए मामले दर्ज किए गए थे. सात से 30 सितंबर के बीच नए मामलों की संख्या घटती बढ़ती रही. इस अवधि में 22 सितंबर को 75,083 (न्यूनतम) और 17 सितंबर को 97,894 (अधिकतम) मामले दर्ज किए गए थे, जो अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा भी है.

छह सितंबर को संक्रमण के नए मामले पहली बार 90 हजार (90,632) के पार हो गए थे. 28 अगस्त को पहली बार 70 हजार (75,760) के पार, सात अगस्त को पहली बार 60 हजार (62,538) के पार, 30 जुलाई को पहली बार 50 हजार के पार हो गए थे.

इसी तरह 20 जुलाई को यह पहली बार 40 हजार के पार, 16 जुलाई को पहली बार 30 हजार के पार, 10 जुलाई को पहली बार 25 हजार (26,506) के पार, तीन जुलाई को पहली बार 20 हजार के पार, 21 जून को पहली बार 15 हजार के पार और 20 जून को संक्रमण के नए मामलों की संख्या पहली बार 14 हजार के पार हुई थी.

सितंबर महीने में एक दिन में मरने वालों की बात करें तो एक सितंबर को इनकी संख्या 819 और 29 सितंबर को न्यूनतम 776 थी. इन दो तारीखों के अलावा पूरे महीने हर दिन मरने वालों की संख्या एक हजार से अधिक रही है. 16 सितंबर को 1290 लोगों की जान गई, जो एक दिन में मरने वालों का सर्वाधिक आंकड़ा है.

10 अगस्त से 31 अगस्त तक बीते 24 घंटे या एक दिन में मरने वालों की संख्या 1007 से अधिकतम 1,092 (19 अगस्त का आंकड़ा) के बीच रही. 24 जुलाई से नौ अगस्त के बीच एक दिन या 24 घंटे में मौत का आंकड़ा 700 से लेकर 933 (आठ अगस्त का आंकड़ा) के बीच रहा है. एक जुलाई से 23 जुलाई के बीच यह आंकड़ा 507 से 1,129 के बीच रहा.

11 जून से 30 जून के बीच मरने वालों की संख्या 300 से 500 के अंदर रही है. 22 जून को एक दिन में मरने वालों की संख्या पहली बार 400 से अधिक रही थी. और 11 जून को पहली बार मरने वालों की संख्या 300 के आंकड़े को पार कर गई थी.

दुनियाभर में मामले 8.45 करोड़ से ज़्यादा, 18.35 लाख से अधिक लोगों की मौत

अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, पूरी दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 84,588,500 हो गए हैं और अब तक 1,835,788 लोगों की जान जा चुकी है.

दुनियाभर में कोरोना से अमेरिका सबसे अधिक प्रभावित देश है. यहां संक्रमण के अब तक 20,427,780 मामले सामने आए हैं, जबकि मरने वालों की संख्या 350,186 हो चुकी है.

भारत संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित दूसरा देश है. भारत के बाद तीसरे सर्वाधिक प्रभावित देश ब्राजील में संक्रमण के अब तक 7,716,405 मामले मिले हैं और 195,725 लोग दम तोड़ चुके हैं.

ब्राजील के बाद चौथे प्रभावित देश रूस में संक्रमण के 3,179,898 मामले आए हैं, जबकि 57,235 मरीजों की मौत दर्ज की जा चुकी है.

रूस के बाद पांचवें सर्वाधिक प्रभावित फ्रांस में संक्रमण के 2,700,480 मामले आए हैं, जबकि 65,048 मरीजों की मौत दर्ज की जा चुकी है.

फ्रांस के बाद छठे सर्वाधिक प्रभावित देश ब्रिटेन में संक्रमण के 2,607,542 मामले हैं और 74,682 लोगों ने जान गंवा दी है. ब्रिटेन के बाद सातवें सर्वाधिक प्रभावित देश तुर्की में संक्रमण के 2,232,035 मामले सामने आए हैं और 21,295 मौतें हुई हैं.

तुर्की के बाद आठवें सर्वाधिक प्रभावित देश इटली में संक्रमण के 2,141,201 मामले दर्ज हुए हैं, जबकि 74,985 मौतें हुई हैं. इटली के बाद नौवें प्रभावित देश स्पेन में संक्रमण के 1,928,265 मामले (शनिवार तक) सामने आए हैं और 50,837 मौतें हुई हैं.

स्पेन के बाद 10वें सर्वाधिक प्रभावित देश जर्मनी में संक्रमण के 1,773,540 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि 34,480 लोगों की यह महामारी जान ले चुकी है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)