भारत

यूपी: युवती का धर्मांतरण से इनकार, नाराज़ भीड़ ने आरोपी मुस्लिम युवक के परिवार का पीछा किया

उत्तर प्रदेश के फ़िरोज़ाबाद ज़िले के नागला मुल्ला गांव का मामला. युवती  बीते साल दिसंबर में आरोपी मुस्लिम युवक के साथ घर छोड़कर चली गई थी. पुलिस ने युवती का पता लगा लिया, लेकिन पुलिस को अभी युवक की तलाश है. फिलहाल युवक और युवती के गांवों में तनाव व्याप्त है.

Firozabad MAP

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद ज़िले के नागला मुल्ला गांव में एक मुस्लिम परिवार के 23 साल के एक सदस्य पर धर्मांतरण का आरोप लगने के बाद से तनाव व्याप्त है.

19 वर्षीय युवती ने धर्मांतरण के आरोपों का खंडन किया है, इसके बावजूद गांव के एक तबके के नाराज लोगों द्वारा मुस्लिम परिवार का पीछा करने का मामला सामने आया है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, बीते सात जनवरी को मजिस्ट्रेट के सामने युवती ने कहा कि उन्होंने मुस्लिम युवक के साथ अपनी मर्जी से जाने के लिए घर छोड़ा था. कोर्ट में युवक से शादी की लेकिन धर्म परिवर्तित नहीं किया.

मुस्लिम परिवार को पीछा किए जाने की घटना को लेकर पुलिस का कहना है कि युवती के गांव जमालपुर से तमाम लोग आरोपी युवक के घर के बाहर इकट्ठा हो गए और बीते छह जनवरी को परिवार के सदस्यों का पीछा किया.

पुलिस का कहना है कि किसी भी तरह की हिंसा होने से पहले ही उन्होंने दोनों गांवों में जवानों की तैनाती कर दी थी.

रिपोर्ट के अनुसार, युवती ने बीते साल 22 दिसंबर को युवक के साथ घर से निकली थी और 26 दिसंबर को युवक के खिलाफ धर्मांतरण और अगवा करने की धाराओं में मामला दर्ज किया गया.

घर छोड़कर जाने के बाद बीते चार जनवरी को युवती का पता चला था, तब उसे वापस परिवार के पास लाया गया. पुलिस आरोपी युवक की तलाश कर रही है.

मतसैना स्टेशन के अधिकारी विनय कुमार मिश्रा का कहना है, ‘युवती का कहना है कि उन्होंने घर छोड़कर जाने से से पहले ही कोर्ट मैरिज की थी. उनके दावों के अनुसार, उनका निकाह हुआ है, लेकिन हम उनके द्वारा मुहैया कराए गए दस्तावेजों का सत्यापन कर रहे हैं, क्योंकि दस्तावेज में युवती का नाम जीनत दर्शाया गया है जबकि उनका दावा है कि उन्होंने धर्म परिवर्तन नहीं किया है. वह जबरन शादी करने को लेकर किसी तरह का दबाव डाले जाने के आरोपों से इनकार कर रही हैं.’

मिश्रा ने यह भी कहा है कि युवती का कहना है कि वह बीते तीन सालों से युवक को जानती थी और वे एक-दूसरे से प्यार करते थे.

पुलिस का कहना है कि वे मामले की जांच कर रहे हैं और आरोपी की तलाश में हैं.

सदर सर्किल अधिकारी हीरालाल कनौजिया ने कहा, ‘युवती ग्रैजुएशन की पढ़ाई कर रही है और युवक छोटी-मोटी नौकरी करता है और युवती के परिवार से अक्सर मिलता रहता था. युवक ने कुछ साल पहले अपना घर छोड़ दिया था.’

उन्होंने कहा, ‘एफआईआर दर्ज होने के बाद हम उन दोनों की तलाश में थे, युवती का पता लगा लिया गया था, लेकिन युवक को पुलिस के आने की सूचना मिल गई और वह फरार हो गया.’

सर्किल अधिकारी ने बीते छह जनवरी को बताया कि उन्हें जमालपुर के गुस्साए लोगों की भीड़ नागला मुल्ला गांव में आरोपी के घर की ओर बढ़ने की सूचना मिली थी.

उन्होंने किसी भी तरह के पथराव और हिंसा की खबरों से इनकार करते हुए कहा, ‘भीड़ रुक गई थी. जिन लोगों को पुलिस ने पकड़ा था, उस गांव का नहीं होने की पुष्टि के बाद उन्हें जाने दिया गया. हमने आरोपी के परिवार से बात की और उन्होंने भी पुष्टि की कि पथराव की कोई घटना नहीं हुई लेकिन जमालपुर के स्थानीय लोगों ने उनका पीछा किया था.’