भारत

गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में आॅक्सीजन ख़त्म होने से 20 से ज़्यादा बच्चों की मौत

गोरखपुर के डीएम राजीव रौतेला के अनुसार, पिछले 48 घंटों में इंसेफलाइटिस से 30 बच्चों की मौत हुई है.

gorakhpur

गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में इंसेफलाइटिस के मरीजों के लिए बने सौ बेड के आईसीयू सहित दूसरे आईसीयू व वार्डों में ऑक्सीजन खत्म होने से 20 बच्चों की मौत हो गई है.

सूत्रों के अनुसार मेडिकल कॉलेज के नेहरू अस्‍पताल में सप्‍लाई करने वाली फर्म का 69 लाख रुपये का भुगतान बकाया था जिसके चलते गुरुवार शाम को फर्म ने अस्‍पताल में लिक्विड ऑक्‍सीजन की आपूर्ति ठप कर दी थी. जिसके बाद से मेडिकल कालेज में जम्‍बो सिलेंडरों से गैस की आपूर्ति की जा रही है. हालांकि मेडिकल कालेज प्रशासन ऑक्सीजन की कमी से मौत से इंकार कर रहा है.

यह भी पढ़ें: गोरखपुर में इंसेफेलाइटिस रोगियों के इलाज में लगे चिकित्साकर्मियों को वेतन के लाले

गौरतलब है कि बीआरडी मेडिकल कॉलेज में दो साल पहले लिक्विड आक्‍सीजन का प्‍लांट लगाया गया था. इसके जरिए इंसेफलाइटिस वार्ड सहित करीब तीन सौ मरीजों को पाइप के जरिए आक्‍सीजन दी जाती है.

वहीं, गोरखपुर के डीएम राजीव रौतेला ने बताया कि बीआरडी अस्पताल में पिछले 48 घंटों में इंसेफलाइटिस से 30 बच्चों की मौत हुई है.

यह भी पढ़ें: गोरखपुर में इंसेफलाइटिस मरीज़ों के पुनर्वास के लिए बना विभाग बंद होने के कगार पर