भारत

सरकार का प्रतिबंध जारी रहने के कारण टिकटॉक भारत में कारोबार बंद करेगी

सरकार ने जून 2020 में 59 अन्य ऐप के साथ टिकटॉक और हेलो पर भारत में प्रतिबंध लगा दिया था और सितंबर में 118 अन्य ऐप पर रोक लगा दी थी. पिछले हफ्ते कंपनियों को बताया कि उनके ऐप पर प्रतिबंध लगाने का आदेश जारी रहेगा. टिकटॉक की ओर से कहा गया है कि उसने टीम की संख्या कम करने का फैसला किया है, जिसका असर भारत में भी पड़ेगा.

(फोटो साभार: फेसबुक)

(फोटो साभार: फेसबुक)

नई दिल्ली: टिकटॉक और हेलो ऐप्स के स्वामित्व वाली चीनी सोशल मीडिया कंपनी बाइटडांस ने देश में उसकी सेवाओं पर लगे प्रतिबंध के बाद भारत में अपने कारोबार को बंद करने की घोषणा की है.

टिकटॉक के वैश्विक आंतरिक प्रमुख वेनेसा पपास और वैश्विक कारोबार समाधान के उपाध्यक्ष ब्लेक चांडली ने कर्मचारियों को भेजे गए एक संयुक्त ईमेल में कहा कि कंपनी ने टीम की संख्या कम करने का फैसला किया है और इस फैसले का भारत के सभी कर्मचारियों पर असर पड़ेगा.

अधिकारियों ने भारत में कंपनी की वापसी की संभावनाओं पर अनिश्चितता जताई, लेकिन उम्मीद जताई कि आने वाले समय में ऐसा होगा.

ईमेल में कहा गया, ‘हालांकि, हम यह नहीं जानते कि हम भारत में कब वापसी करेंगे, हम अपनी वापसी के लिए आश्वस्त हैं और आने वाले समय में ऐसा करने की इच्छा रखते हैं.’

बाइटडांस के एक सूत्र के अनुसार, कंपनी ने बुधवार को एक टाउनहाल (सभा) आयोजित किया, जिसमें भारत में कारोबार बंद करने की सूचना दी गई.

संपर्क किए जाने पर टिकटॉक के एक प्रवक्ता ने कहा कि कंपनी ने 29 जून, 2020 को जारी भारत सरकार के आदेश का पालन करने के लिए लगातार काम किया है और अपने ऐप्स को स्थानीय कानूनों और नियमों का पालन करने के लिए लगातार प्रयास करती है.

प्रवक्ता ने कहा, ‘इसलिए यह निराशाजनक है कि (बीते) सात महीनों में हमारे प्रयासों के बावजूद हमें यह स्पष्ट निर्देश नहीं दिया गया कि हमारे ऐप्स को कब और कैसे बहाल किया जा सकता है. यह बहुत अफसोस की बात है कि भारत में छह महीने से अधिक समय से अपने 2,000 से अधिक कर्मचारियों का समर्थन करने के बाद हमारे पास अपने कार्यबल की  संख्या को कम करने के अलावा कोई विकल्प नहीं है.’

प्रवक्ता ने कहा, ‘हम टिकटॉक को फिर से शुरू करने और भारत में लाखों उपभोक्ता, कलाकार, स्टोरीटेलर, पढ़ाने वाले और परफॉर्मर्स का समर्थन करने का अवसर प्राप्त करने की आशा करते हैं.’

सरकार ने जून 2020 में  59 अन्य ऐप के साथ टिकटॉक और हेलो पर भारत में प्रतिबंध लगा दिया था और सितंबर में 118 अन्य ऐप पर रोक लगा दी थी. बता दें कि भारत में टिकटॉक के 20 करोड़ से अधिक उपयोगकर्ता थे.

पिछले हफ्ते कंपनियों को बताया गया कि उन्हें ब्लॉक करने का आदेश जारी रहेगा.

ईमेल में कहा गया, ‘हमने अभी भी लाभ का भुगतान करते हुए खर्चों में कटौती की है. हालांकि, ऐसे समय में हम कर्मचारियों की पूरी संख्या नहीं रख सकते हैं, जबकि हमारे ऐप अन-ऑपरेशनल हैं. हम इस आशय के बारे में पूरी तरह से जानते हैं कि यह निर्णय भारत में हमारे सभी कर्मचारियों के लिए है और हम अपनी टीम के साथ सहानुभूति रखते हैं.’

बाइटडांस के अधिकारियों ने कहा कि कंपनी द्वारा स्थानीय कानूनों और नियमों का पालन करने के बावजूद उनके ऐप को प्रतिबंधित करने का फैसला किया गया.

अधिकारियों ने कहा कि वे कारोबार खत्म और लाभों का विवरण साझा करेंगे.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)