राजनीति

पश्चिम बंगाल: लोकसभा चुनाव में किए जल आपूर्ति के वादे पर महिलाओं ने दो भाजपा सांसदों को घेरा

घटना झारग्राम की है, जहां स्थानीय महिलाओं ने इस इलाके के घरों में पाइपलाइनों से जल की आपूर्ति करने के वादे को पूरा करने की मांग को लेकर भाजपा के दो सांसदों का घेराव किया. उन्होंने सवाल किया कि भाजपा सांसद कुनार हेम्ब्राम ने घरों तक पानी पहुंचाने का वादा किया था तो अब तक ऐसा क्यों नहीं हुआ.

(फोटो: पीटीआई)

(फोटो: पीटीआई)

झारग्राम: पश्चिम बंगाल के झारग्राम जिले में सोमवार को स्थानीय महिलाओं ने इस इलाके के घरों में पाइपलाइनों से जल की आपूर्ति करने के वादे को पूरा करने की मांग को लेकर भाजपा के दो सांसदों का घेराव किया.

बड़ी संख्या में महिलाओं ने बिनपुर पुलिस थाना क्षेत्र में सिल्दा पर राज्य राजमार्ग-5 को जाम कर दिया था. ये स्थानीय सांसद कुनार हेम्ब्राम से लोकसभा चुनाव में किए गए वादे को पूरा करने की मांग कर रही थीं.

इसी दौरान पुरुलिया के भाजपा सांसद ज्योतिर्मय सिंह महतो इस इलाके से गुजर रहे थे और रास्ता बंद होने की वजह से वह वहां फंस गए.

अपने वाहन से बाहर आकर महतो ने संवाददाताओं से कहा, ‘हम उनकी मांग के साथ हैं. पानी और बिजली नहीं है. इसके लिए कौन जिम्मेदार है?’

हालांकि इसके बाद भी महिलाएं वहां से नहीं हटीं और उनमें से एक ने कहा, ‘कुनार हेम्ब्राम ने घरों तक पानी पहुंचाने का वादा किया था तो फिर अब तक ऐसा क्यों नहीं हुआ? क्यों हमारे घरों में पानी नहीं है?’

विरोध प्रदर्शन तेज होने के बाद सांसद के सुरक्षाकर्मी उन्हें वहां से निकालकर ले गए. हेम्ब्राम बाद में मौके पर पहुंचे तो प्रदर्शन कर रहीं महिलाओं ने उन्हें भी घेर लिया और नारे लगाने लगीं.

उन्होंने प्रदर्शनकारियों से कहा कि वह विधानसभा चुनाव के बाद उनके मुद्दे का समाधन करेंगे.

सांसद के आश्वासन से नाखुश लोगों ने घेराव करीब 40 मिनट तक जारी रखा. हालांकि हेम्ब्राम का कहना है कि ऐसा कुछ नहीं हुआ था. पुलिस और सुरक्षाकर्मी बाद में उन्हें वहां से ले गए.

बाद में हेम्ब्राम ने संवाददाताओं को बताया कि वह महिलाओं से मुद्दे पर बात करने गए थे और वहां कोई विरोध प्रदर्शन उनके खिलाफ नहीं हो रहा था.

यह प्रदर्शन देर शाम तक पुलिस की मौजूदगी में चलता रहा. प्रदर्शकारियों की मांग थी कि सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों से उनकी मुलाकात करवाई जाए.