भारत

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह भ्रष्टाचार के आरोप साबित करें या माफ़ी मांगेंः नारायणसामी

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने पुदुचेरी में एक चुनावी रैली के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री नारायणसामी पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कहा था कि प्रधानमंत्री ने पुदुचेरी को 15 हज़ार करोड़ रुपये भेजे थे लेकिन नारायणसामी ने वह गांधी परिवार को दे दिए. नारायणसामी ने शाह पर मानहानि का मुकदमा दायर करने की बात भी कही है.

वी. नारायणसामी. (फोटो साभार: फेसबुक)

वी. नारायणसामी. (फोटो साभार: फेसबुक)

नई दिल्लीः पुदुचेरी के पूर्व मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी ने सोमवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को चुनौती देते हुए कहा कि वह उन पर भ्रष्टाचार के लगाए गए आरोपों को सिद्ध करें वरना माफी मांगें.

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, नारायाणसामी ने ऐसा नहीं करने पर अमित शाह के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर करने की धमकी दी है.

नारायाणसामी ने कहा, ‘गृहमंत्री अमित शाह ने कहा है कि प्रधानमंत्री ने पुदुचेरी को 15,000 करोड़ रुपये भेजे थे लेकिन नारायणसामी ने वह पैसे ले लिए और गांधी परिवार को दे दिए. यह मेरे खिलाफ बहुत ही गंभीर आरोप हैं. मैं उन्हें चुनौती देता हूं कि वह ये आरोप सिद्ध करें.’

उन्होंने कहा, ‘अगर वह (शाह) आरोप सिद्ध नहीं कर पाते हैं तो उन्हें देश से और पुदुचेरी की जनता से माफी मांगनी होगी. अगर वह आरोप सिद्ध नहीं करते हैं तो मैं उनके खिलाफ मेरी और गांधी परिवार की छवि को गलत बयान देकर नुकसान पहुंचाने के लिए आपराधिक मानहानि का मुकदमा दायर करूंगा.’

बता दें कि अमित शाह ने रविवार को पुदुचेरी में एक चुनावी रैली में नारायणसामी पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे और कहा था कि उन्होंने (नारायणसामी) राज्य सरकार को केंद्र से मिला पैसा गांधी परिवार को भेजा था.

दरअसल केंद्रीय गृहमंत्री ने रैली के दौरान कहा था कि उन्हें (नारायणसामी) पुदुचेरी के लोगों की सेवा करने की बजाय गांधी परिवार की सेवा करने और उनके पैर छूने में अधिक रुचि है.

मालूम हो कि बीते दिनों पुदुचेरी में कांग्रेस की अगुआई वाली गठबंधन सरकार अल्पमत में आ गई थी, जिसके बाद 22 फरवरी को विश्वास मत हासिल न कर पाने के बाद नारायणसामी ने पद से इस्तीफ़ा दे दिया था.

बता दें कि 30 सदस्यीय पुदुचेरी की 30 सदस्यीय विधानसभा में छह अप्रैल को एक चरण में ही चुनाव होने हैं.