भारत

उत्तर प्रदेश: लखीमपुर खीरी में दलित युवक की बंधक बनाकर बर्बरतापूर्वक पिटाई

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी ज़िले के मामला. आरोप है कि युवक के निजी अंग में लोहे की रॉड डाल दी गई थी. आरोपियों को युवक का उनकी किसी रिश्तेदार के साथ संबंध होने का शक था. चारों आरोपियों को गिरफ़्तार कर लिया गया है.

Bengaluru: Janata Dal (S) women workers along with other activists display placards and raise slogans during a protest demanding justice for Hathras incident victim, in Bengaluru, Saturday, Oct. 3, 2020. A 19-yr old Dalit woman of Hathras died allegedly after being gan-raped two weeks ago. (PTI Photo/Shailendra Bhojak)(PTI03-10-2020_000125B)

(प्रतीकात्मक तस्वीर: पीटीआई)

लखीमपुर खीरी: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में 22 साल के एक दलित युवक को चार लोगों द्वारा बंधक बनाने और उसे बर्बरतापूर्वक पिटाई करने का मामला सामने आया है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार, पुलिस ने बताया कि आरोपियों ने परिवार की एक लड़की के साथ संबंध होने के संदेह में युवक के निजी अंग में लोहे की रॉड डाल दी थी.

पुलिस ने बताया कि चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और पीड़ित को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत गंभीर है.

पुलिस के अनुसार, 31 मार्च की रात दलित युवक की बर्बरतापूर्वक पिटाई की गई, जिससे उनके निजी अंगों को चोट पहुंची. पीड़ित के परिवार के सदस्यों ने आरोप लगाया है कि उसके निजी अंग में लोहे की रॉड डाल दी गई थी.

तिकोनिया के एसएचओ ज्ञान प्रकाश तिवारी ने बताया, ‘पीड़ित की भाई की शिकायत के आधार पर आईपीसी की धारा 323 (स्वेच्छा से चोट पहुंचाने की सजा), 506 (आपराधिक धमकी) और एससी/एसटी (अत्याचार निवारण) कानून के तहत चारों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है.’

उन्होंने बताया कि आरोपियों को संदेह था कि पीड़ित को संबंध उनकी किसी रिश्तेदार के साथ था.

तिवारी ने कहा, ‘चारों आरोपी- ब्रह्मदीन और उसके तीन बेटों- भरत, गजरात और राजू को गिरफ्तार कर लिया गया है. उन्होंने कहा कि मामले की जांच जारी है.’