कोविड-19

उत्तर प्रदेश में तीसरे भाजपा विधायक की कोविड-19 से मौत

उत्तर प्रदेश के बरेली ज़िले के नवाबगंज सीट से भाजपा विधायक केसर सिंह गंगवार के निधन के बाद उनकी मौत पर सवाल उठने लगे हैं. कथित तौर पर उनके द्वारा लिखा एक पत्र सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. पत्र में उन्होंने अपनी मौत से दो दिन पहले ही स्वास्थ्य मंत्री को चिट्ठी लिखकर अपने लिए मैक्स अस्पताल में बेड की मांग की थी. हालांकि उन्हें वहां जगह नहीं मिल पाई. बाद में बरेली प्रशासन ने उन्हें नोएडा के यथार्थ अस्पताल में भर्ती कराया था.

केसर सिंह गंगवार. (फोटो साभार: फेसबुक)

केसर सिंह गंगवार. (फोटो साभार: फेसबुक)

बरेली: उत्तर प्रदेश के बरेली जिले के नवाबगंज विधानसभा क्षेत्र से भाजपा विधायक केसर सिंह गंगवार का बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण से निधन हो गया. वह 64 वर्ष के थे.

गंगवार के परिवार के सूत्रों ने बताया कि वह पिछले कई दिनों से नोएडा स्थित एक निजी अस्पताल में इलाज करा रहे थे जहां उनका निधन हो गया. हाल ही में वह कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे.

गंगवार के परिवार में पत्नी, तीन बेटियां और एक बेटा है.

हालांकि, अब उनकी मौत पर सवाल उठने लगे हैं, क्योंकि कथित तौर पर उनके द्वारा लिखा गया एक पत्र सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है.

आज तक की रिपोर्ट के अनुसार, विधायक केसर सिंह गंगवार ने अपनी मौत से दो दिन पहले ही केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को चिट्ठी लिखी थी. इस चिट्ठी में उन्होंने अपने लिए मैक्स अस्पताल में बेड की व्यवस्था करने की मांग की थी.

हालांकि मैक्स में उन्हें जगह नहीं मिल पाई, लेकिन बरेली प्रशासन ने उन्हें नोएडा के यथार्थ अस्पताल में एडमिट कराया था.

विधायक के बेटे विशाल गंगवार ने अपने पिता की मौत पर उत्तर प्रदेश सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सवाल उठाए हैं.

विशाल ने कहा है, ‘यूपी सरकार अपने ही विधायक का ही इलाज नहीं करा पा रही है, मुख्यमंत्री कार्यालय पर बार-बार कॉल करने पर भी कोई फोन नहीं उठ रहा है. धन्य है यूपी सरकार और धन्य हैं मोदी जी.’

गंगवार वर्ष 2009 में बसपा से विधान परिषद के लिए चुने गए थे और वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में वह भाजपा में शामिल हो गए थे. पार्टी ने उन्हें नवाबगंज सीट से टिकट दिया था, जिस पर उन्होंने जीत दर्ज की थी.

इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गंगवार के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए उनके परिजन के प्रति संवेदना प्रकट की.

इसके अलावा प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह तथा महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल ने भी गंगवार के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है.

बता दें कि केसर सिंह गंगवार भाजपा के ऐसे तीसरे विधायक हैं, जिनका कोविड-19 की दूसरी लहर में निधन हुआ है.

इसके पहले भाजपा के लखनऊ पश्चिम क्षेत्र के 76 वर्षीय विधायक सुरेश कुमार श्रीवास्तव का बीते 23 अप्रैल की शाम कोरोना वायरस संक्रमण के कारण निधन हो गया था. उनकी पत्नी मालती श्रीवास्तव भी संक्रमित थी, जिनका दो दिन बाद 24 अप्रैल को लखनऊ के संजय गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (पीजीआई) में निधन हो गया था.

23 अप्रैल की सुबह ही उत्तर प्रदेश के औरैया जिले के सदर विधानसभा क्षेत्र के 56 वर्षीय भाजपा विधायक रमेश चंद्र दिवाकर ने भी कोरोना वायरस संक्रमण के चलते दम तोड़ दिया था. इसके अगले दिन 24 अप्रैल को उनके पिता 92 वर्षीय रामदत्त दिवाकर का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया था.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)