कोविड-19

आईपीएल: कोलकाता की टीम के बाद चेन्नई सुपरकिंग्स का स्टाफ भी कोरोना संक्रमित

देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बीच कोलकाता नाइटराइडर्स  के खिलाड़ी वरुण चक्रवर्ती और संदीप वारियर संक्रमित पाए गए हैं, साथ ही चेन्नई सुपर किंग्स के स्टाफ के तीन लोग भी कोविड-19 की चपेट में हैं. हालांकि कई टीमों के अधिकारियों का कहना है कि टूर्नामेंट जारी रहना चाहिए.

2020 के आईपीएल टूर्नामेंट के दौरान सीएसके और केकेआर के खिलाड़ी. (फोटो: पीटीआई)

2020 के आईपीएल टूर्नामेंट के दौरान सीएसके और केकेआर के खिलाड़ी. (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: कोविड-19 ने सोमवार को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में दस्तक दी, जब कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) के वरुण चक्रवर्ती और संदीप वारियर इस घातक वायरस के लिए पॉजिटव पाए गए जिसके कारण सोमवार शाम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) के खिलाफ अहमदाबाद में होने वाले टीम के मैच को स्थगित किया गया.

इसके अलावा चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) की टीम में भी कुछ मामले सामने आए हैं.

केकेआर और आरसीबी के बीच मुकाबला सोमवार की शाम अहमदाबाद में होना था लेकिन अब इसका आयोजन 30 मई को समाप्त होने वाले इस टूर्नामेंट के दौरान किसी अन्य दिन किया जाएगा.

आईपीएल ने प्रेस विज्ञप्ति में कहा, ‘पिछले चार दिन में तीसरे दौर के परीक्षण में वरुण चक्रवर्ती और संदीप वारियर पॉजिटव पाए गए. टीम के अन्य सभी सदस्य कोविड-19 के लिए नेगेटिव पाए गए हैं.’

इसके अलावा पता चला है कि चेन्नई सुपर किंग्स के सीईओ काशी विश्वनाथन, गेंदबाजी कोच एल. बालाजी और स्टाफ का एक अन्य सदस्य रविवार को पॉजिटिव पाए गए.

बीसीसीआई के एक शीर्ष अधिकारी ने उनके मामले को ‘गलत पॉजिटिव’ घोषित किया था लेकिन बाद में स्पष्ट किया गया कि बालाजी और एक ड्राइवर दूसरे परीक्षण में पॉजिटिव आए हैं.

सूत्रों ने कहा, ‘सीएसके दल के सदस्य, सीईओ काशी, गेंदबाजी कोच एल बालाजी और एक बस ड्राइवर का सुबह परीक्षण पॉजीटिव पाया गया जिसके बाद रैपिड एंटीजन परीक्षण की रिपोर्ट नेगेटिव आई.’

उन्होंने कहा, ‘हालांकि दूसरे आरटी-पीसीआर परीक्षण में बालाजी और बस ड्राइवर को फिर से पॉजिटिव पाया गया. टीम के अन्य सदस्यों विशेषकर खिलाड़ियों का परीक्षण नेगेटिव आया है.’

सीएसके की टीम फ़िलहाल दिल्ली में है, जहां उसने सोमवार दिन का अपना अभ्यास स्थगित कर दिया. टीम का अगला मुकाबला पांच मई को राजस्थान रॉयल्स से होना है.

इससे पहले यूएई में 2020 में खेले गए आईपीएल के दौरान भी टीम में कोविड मामले पाए गए थे.

इस बीच साथ ही दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान के कुछ मैदानकर्मी पॉजिटिव पाए गए हैं. इस मैदान पर मंगलवार को मुंबई इंडियंस और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच मुकाबला होना है.

दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) के अध्यक्ष रोहन जेटली ने कहा कि इनमें कोई भी मैदानकर्मी वह नहीं है, जिसे मैदान पर जिम्मेदारी सौंपी गई थी.

उल्लेखनीय है कि देश में कोविड संक्रमण की दूसरी लहर के प्रकोप के बीच लगातार इस आयोजन को लेकर सवाल उठे हैं, लेकिन बीसीसीआई भी बार-बार जोर देकर कह रहा है कि लीग जारी रहेगी. हालांकि सोमवार के मामलों से निश्चित तौर पर लीग पर कोविड-19 का साया मंडराने लगा है.

गौरतलब है कि बीते दिनों पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी एडम गिलक्रिस्ट व ओलंपिक विजेता अभिनव बिंद्रा ने भारत में कोविड-19 की दूसरी लहर के दौरान आईपीएल जारी रखने पर सवाल उठाए थे, वहीं एक अंग्रेज़ी दैनिक ने इसकी कवरेज बंद कर दी थी.

इसी दौरान इस बीच भारतीय खिलाड़ी आर. अश्विन, राजस्थान रॉयल्स टीम में शामिल ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज एंड्रयू टाये, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के केन रिचर्डसन और एडम जाम्पा ने लीग बीच में छोड़ दी है.

उल्लेखनीय है कि आईपीएल के मैच नौ शहरों में दर्शकों के बिना खेले जा रहे हैं. सोमवार को संक्रमित पाए गए लेग स्पिनर चक्रवर्ती और तेज गेंदबाज वारियर को पृथकवास में रखा गया है और फिलहाल दल के अन्य सदस्यों की रिपोर्ट नेगेटिव है.

इन दोनों में से वारियर को मौजूदा सत्र में अब तक केकेआर के सात मैचों में से एक में भी खेलने का मौका नहीं मिला है.

आईपीएल ने कहा, ‘मेडिकल टीम लगातार दोनों के संपर्क में है और उनके स्वास्थ्य पर नजर रख रही है. इस बीच कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम रोजाना परीक्षण की दिनचर्या से गुजरेगी जिससे कि किसी अन्य संभावित मामले की पहचान हो सके और जल्द से जल्द इलाज किया जा सके.’

लीग ने कहा, ‘मेडिकल टीम साथ ही पॉजिटिव नतीजों के नमूने एकत्रित करने से 48 घंटे पहले तक दोनों पॉजिटिव खिलाड़ियों के संपर्क में आने वाले लोगों की पहचान करेगी.’

केकेआर ने अपना पिछला मुकाबला 29 अप्रैल को दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ अहमदाबाद में खेला था और पॉजिटिव नतीजे आने के बाद टूर्नामेंट में घबराहट की स्थिति हो सकती है, जिसका आयोजन छह स्थलों में जैविक रूप से सुरक्षित माहौल (बायो बबल) में खाली स्टेडियम में किया जा रहा है.

बीसीसीआई सूत्र ने नाम जाहिर नहीं करने की शर्त पर बताया, ‘अब दिल्ली कैपिटल्स के खिलाड़ियों (अभी अहमदाबाद में हैं) का भी परीक्षण होगा और चक्रवर्ती तथा वारियर के संपर्क में आने वाले प्रत्येक खिलाड़ी की ऐप के जरिये पहचान की जाएगी.’’

आईपीएल की कोविड-19 से जुड़ी मानक संचालन प्रक्रिया के तहत संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने वाले व्यक्ति को छह दिन के लिए पृथकवास में रहना होगा और इस दौरान पहले, तीसरे और छठे दिन उसके परीक्षण के नतीजे नेगेटिव आने चाहिए.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, केकेआर के तेज गेंदबाजी आक्रमण के अगुआ पैट कमिंस ने आईपीएल के सभी आस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को इसकी जानकारी दी है. चक्रवर्ती गुरुवार के मुकाबले के बाद कंधे के स्कैन के लिए अस्पताल गए थे और फिर वायरस के लिए पॉजिटिव पाए गए.

चक्रवर्ती ने मौजूदा सत्र में केकेआर के सभी मैचों में हिस्सा लिया है और सात विकेट के साथ टीम के सबसे सफल खिलाड़ियों में से एक हैं.

आईपीएल की शुरुआत से पहले भी कुछ खिलाड़ी पॉजिटिव पाए गए थे जिसमें अक्षर पटेल और देवदत्त पड्डिकल जैसे खिलाड़ी शामिल थे.

टूर्नामेंट के बीच में किसी खिलाड़ी या सहयोगी स्टाफ के पॉजिटिव पाए जाने का यह पहला मामला है.

भारत में रोजाना कोविड-19 संक्रमण के तीन लाख से अधिक नए मामले सामने आ रहे हैं जबकि तीन हजार से अधिक लोगों की हर दिन मौत हो रही है.

अधिकारियों ने कहा- आईपीएल जारी रहना चाहिए

दो टीमों में कोविड-19 के दो मामले पाए जाने के बाद खिलाड़ी विशेषकर विदेशी क्रिकेटर असहज महसूस कर रहे हैं लेकिन टीमों का मानना है कि इस महामारी के बढ़ते खतरे के बावजूद आईपीएल जारी रहना चाहिए.

हालांकि इस बीच वरुण चक्रवर्ती और संदीप वारियर के पॉजिटिव पाए जाने के बाद यह सवाल भी उठ रहे हैं कि विश्व के सबसे बड़े टी20 लीग के जैव सुरक्षित वातावरण (बायो बबल) में यह खतरनाक वायरस कैसे पहुंच गया.

भारत से यात्रा प्रतिबंधों के कारण विदेशी खिलाड़ी पहले ही स्वदेश लौटने को लेकर चिंतित थे और अब उनकी चिंता बढ़ गई है.

एक फ्रेंचाइजी के अधिकारी ने समाचार एजेंसी पीटीआई से कहा, ‘आधा टूर्नामेंट हो चुका है. इसको रोकने का कोई मतलब नहीं बनता है. इस खबर (केकेआर टीम में पॉजिटिव मामले) से बीसीसीआई का काम अधिक चुनौतीपूर्ण हो गया है.’

उन्होंने कहा, ‘हमने सुना है कि एक खिलाड़ी इसलिए संक्रमित हुआ क्योंकि उसे स्कैन के लिए बायो बबल से बाहर ले जाया गया. इसलिए यह बायो बबल के बाहर हुआ. जहां तक मैं जानता हूं हर कोई बीसीसीआई के प्रोटोकॉल का पूरा पालन कर रहा है और उसका कोई उल्लंघन नहीं हुआ.’

एक अन्य अधिकारी ने कहा कि यदि कोई अन्य टीम वायरस से प्रभावित नहीं होती है तो टूर्नामेंट जारी रहना चाहिए.

अधिकारी ने कहा, ‘यदि आप टूर्नामेंट रोकना चाहते हैं तो कब तक. एकमात्र तरीका यही है कि पॉजिटिव मामलों को अलग-थलग करके खेल जारी रखा जाए. खिलाड़ी निश्चित तौर पर अब अधिक चिंतित हैं लेकिन उनकी मुख्य चिंता यह है कि वे स्वदेश कैसे लौटेंगे.’

ब्रिटेन, आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड ने भारत से आने वाले यात्रियों पर प्रतिबंध लगा रखा है और आईपीएल में इन तीनों देशों के कई क्रिकेटर खेल रहे हैं. आस्ट्रेलिया के तीन क्रिकेटर यात्रा प्रतिबंध लगने से पहले स्वदेश लौट गए थे.

एक टीम के अन्य अधिकारी ने कहा, ‘हमें यह फैसला बीसीसीआई पर छोड़ देना चाहिए कि हम सबके लिए क्या सर्वश्रेष्ठ है. उन्हें कई तरह की राय देने से भ्रम की स्थिति ही पैदा होगी.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)