भारत

हिंसा के चलते पांच राज्यों में अलर्ट, गृह मंत्रालय ने बुलाई बैठक

दिल्ली के 11 ज़िलों समेत नोएडा, गाज़ियाबाद में धारा 144 लागू, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान के कई ज़िलों में कर्फ्यू. स्थिति तनावपूर्ण किंतु नियंत्रण में.

Panchkula: Vehicles burn in violence following Dera Sacha Sauda chief Gurmeet Ram Rahim’s conviction in Panchkula on Friday. PTI Photo (PTI8_25_2017_000183B)

पंचकूला में हिंसा और आगजनी का मंजर. (फोटो: पीटीआई)

हरियाणा समेत पांच राज्यों में हिंसा के बीच केंद्रीय गृह मंत्रालय ने शनिवार को 11 बजे गृहमंत्री के आवास पर एक उच्चस्तरीय मीटिंग बुलाई गई है. गृह सचिव और अन्य सीनियन अधिकारी इसमें उपस्थित होंगे.

हिंसा के चलते पूरे हरियाणा में सेना लगाई गई है. पुलिस और सेना के जवान लगातार मार्च कर रहे हैं. हरियाणा पुलिस का कहना है कि स्थिति काबू में आ रही है. उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर, शामली, बागपत, नोएडा, गाजियाबाद में कर्फ्यू लगा दिया है.

पंजाब के बठिंडा, पटियाला, संगरूर, मोगा में कर्फ्यू लगा दिया गया है. पंजाब विभिन्न जगहों पर हिंसा को देखते हुए पंजाब सरकार ने केंद्र और ज्यादा सुरक्षा बलों की मांग की है. राजधानी दिल्ली की पुलिस ने बताया है कि दिल्ली के सभी 11 जिलों में धारा 144 लगा दी गई है.

हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, दिल्ली में हिंसा की खबरें हैं. जबकि उत्तर प्रदेश के कुछ जिलों में एहतियातन धारा 144 लगाई गई है.

फैसला आते ही बेकाबू हुए डेरा समर्थक

डेरा सच्चा सौदा के गुरमीत रामरहीम पर बलात्कार के आरोप पर विशेष अदालत के फैसले के बाद उनके समर्थकों की हिंसा में अब तक 30 लोगों की मौत हो चुकी है और 300 से ज्यादा लोगों के घायल होने की खबर है. हरियाणा के एडीजीपी (लॉ एंड आॅर्डर) ने बताया, डेरा सच्चा सौदा के 1000 समर्थकों को हिरासत में लिया गया है.


हरियाणा के पंचकूला में अदालत का फैसला आते ही रामरहीम के समर्थकों ने उपद्रव शुरू कर दिया. भीड़ ने पुलिस की बैरीकेडिंग तोड़ दी और हिंसा शुरू कर दी. देखते देखते पंचकूला शहर सुलगने लगा और हर तरफ मौत और तबाही का मंजर देखने को मिला.

पिछले चार दिन में गुरमीत राम रहीम के हजारों अनुयायी यहां एकत्र हो गए थे. अदालत का फैसला आते ही राम रहीम के समर्थकों ने पथराव किया, मीडिया के वाहनों में तोड़फोड़ की और दोपहिया वाहनों समेत कई वाहनों में आग लगा दी. निजी टेलीविजन चैनलों के कम से कम तीन ओबी वैन को क्षति पहुंचाई गई. दो वैन को उग्र भीड़ ने उलट दिया.

हिंसक हुए डेरा अनुयायियों ने कई जगह पुलिस और अर्द्धसैनिक बल कर्मियों के लिए मुश्किल हालात खड़े कर दिए. अनुयायियों में बहुत सी महिलाएं थीं.

राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री ने की शांति की अपील

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने लोगों से शांति की अपील करते हुए ट्वीट किया है, ‘अदालत के फैसले के बाद हिंसा करना और सार्वजनिक संपत्तियों को नुकसान पहुंचाना निंदनीय है. लोगों से अपील है कि कृपया शांति बनाए रखें.’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों से शांति की अपील करते हुए ट्वीट किया, ‘आज की हिंसा की घटना बहुत दुखद है. मैं हिंसा की कड़ी निंदा करता हूं, और अपील करता हूं कि शांति बनाए रखें.

Panchkula: A media personnel walks towards vehicles burning in violence following Dera Sacha Sauda chief Gurmeet Ram Rahim’s conviction in Panchkula on Friday. PTI Photo (PTI8_25_2017_000181A)

पंचकुला में हिंसा के दौरान जलाए गए वाहन. (फोटो: पीटीआई)

उन्होंने अगले ट्वीट में लिखा, ‘कानून व्यवस्था की स्थिति पर नजदीक से निगाह रखी जा रही है. हमने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार और गृह सचिव के साथ स्थिति की समीक्षा की है. अधिकारियों से अपील है कि स्थिति को सामान्य बनाने के लिए हर संभव सहयोग करें.’

राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने अपील की है कि अफवाहों पर ध्यान न दें, जो भी कानून हाथ में लेगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पंजाब के मुख्यमंत्री से बात की और हिंसा पर चिंता जताते हुए लोगों से शांति की अपील की है. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘हमारे समाज में हिंसा और क्रूरता के लिए जगह नहीं है. हरियाणा में कानून व्यवस्था नहीं रह गई है. हम इसकी निंदा करते हैं. शांति बनाए रखें.’

हिंसा को देखते हुए दिल्ली के सभी मेट्रो स्टेशनों के सीआईएसएफ अधिकारियों को अलर्ट किया गया है. फैलती हिंसा के मद्देनजर दिल्ली से सटे नोएडा और गाजियाबाद में भी धारा 144 लगा दी गई है.

करीब 250 ट्रेनें रद्द की गईं

पांच राज्यों में हिंसा के बाद कम से कम 250 ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं. दिल्ली से रोहतक की तरफ जाने वाली सभी ट्रेनों को आज और कल के लिए रद्द कर दिया गया है. ये सूचना उत्तरी रेलवे के प्रवक्ता नीरज शर्मा ने दी है.

राजस्थान के श्रीगंगानगर में डेरा समर्थकों ने पावर स्टेशन के आॅफिस को आग लगा दी और आॅफिस के वाहनों में भी तोड़फोड़ की.

केंद्रीय गृह सचिव राजीव महर्षि ने बयान दिया है कि ‘हरियाणा के डीजीपी से बात की, उनका कहना है कि लगातार हालात काबू में आ रहे हैं.’ दिल्ली बॉर्डर पर बसें जला दी गईं. राजधानी दिल्ली में नौ जगहों पर हिंसा और आगजनी की खबरें हैं. दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता मधुर वर्मा का अभी अभी बयान आया है कि ‘फिलहाल कहीं पर भी लोगों की भीड़ एकत्र नहीं है. कुछ घटनाओं के बाद स्थिति पर काबू पा लिया गया है.

हरियाणा के डीजीपी बीएस संधू ने कहा है कि अब हालात काबू में हैं, प्रदर्शनकारियों को तितर बितर कर दिया गया है. डेरा सच्चा सौदा के प्रवक्ता दिलावर इंसान का बयान आया है कि हमारे साथ अन्याय हुआ है, हम इसकी अपील करेंगे. हमारे साथ वही हुआ जो इतिहास में गुरुओं के साथ हुआ. डेरा सच्चा सौदा मानवता की भलाई के लिए है. सभी शांति बनाए रखें.’