कोविड-19

वाराणसी: मरीज़ों से सरकारी दर से अधिक शुल्क वसूलने को लेकर 14 अस्पतालों को नोटिस

वाराणसी के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. वीबी सिंह ने कहा कि संबंधित अस्पतालों के अधिकारियों को दो दिनों के भीतर जवाब दाखिल करने के लिए कहा गया है कि वे सरकार द्वारा निर्धारित से अधिक शुल्क क्यों ले रहे हैं. ऐसा न करने पर उन्हें कार्रवाई का सामना करना पड़ सकता है.

(फोटो: रॉयटर्स)

(फोटो: रॉयटर्स)

लखनऊ: वाराणसी जिला प्रशासन ने 14 निजी अस्पतालों को सरकार द्वारा निर्धारित दरों की अवहेलना करके कथित रूप से कोविड रोगियों से अधिक शुल्क लेने के लिए नोटिस जारी किया है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, वाराणसी के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. वीबी सिंह ने कहा कि संबंधित अस्पतालों के अधिकारियों को दो दिनों के भीतर जवाब दाखिल करने के लिए कहा गया है कि वे सरकार द्वारा निर्धारित से अधिक शुल्क क्यों ले रहे हैं.

उन्होंने कहा कि इन अस्पतालों द्वारा मरीजों से अधिक शुल्क वसूलने की कई शिकायतें मिली हैं.

हालांकि नोटिस में उतना उल्लेख नहीं किया गया है, लेकिन यह समझा जाता है कि अधिक शुल्क की शिकायतें कोविड और गैर-कोविड दोनों मामलों से संबंधित हैं.

सूत्रों ने कहा कि अगर अस्पताल के अधिकारी दो दिनों के भीतर संतोषजनक जवाब नहीं देते हैं, तो उन्हें जिला प्रशासन द्वारा कार्रवाई का सामना करना पड़ सकता है.

राज्य सरकार के निर्देशों का पालन करते हुए जिला प्रशासन ने सभी अस्पतालों को कोविड रोगियों को उपलब्ध कराए जा रहे उपचारों की दर सूची उपलब्ध कराने को कहा था. हाल ही में, सभी अस्पतालों ने रोगियों से वसूल की जाने वाली दरों का विवरण देने वाली सूचियां प्रदान कीं.

सीएमओ ने कहा कि यह पाया गया कि ये 14 निजी अस्पताल सरकार द्वारा निर्धारित दरों से अधिक शुल्क ले रहे थे. वाराणसी के जिन अस्पतालों को नोटिस भेजा गया है उनमें कुछ वहां के प्रमुख अस्पताल हैं.