कोविड-19

कोविड संक्रमण से उत्तर प्रदेश सरकार के तीसरे मंत्री और पांचवें विधायक का निधन

पिछले साल उत्तर प्रदेश सरकार के दो मंत्री- चेतन चौहान और कमल रानी वरुण का निधन भी कोविड-19 की वजह से हुआ था. इसके अलावा महामारी की दूसरी लहर के दौरान भाजपा के चार विधायक- दल बहादुर कोरी, केसर सिंह गंगवार, सुरेश कुमार श्रीवास्तव और रमेश चंद्र दिवाकर की मौत हो चुकी है. इस बीच राजस्थान के कोरोना संक्रमित भाजपा विधायक गौतम लाल मीणा का भी निधन हो गया है.

विजय कश्यप. (फोटो साभार: फेसबुक)

विजय कश्यप. (फोटो साभार: फेसबुक)

नई दिल्ली/लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री तथा भाजपा विधायक विजय कश्यप का बीते मंगलवार को कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से गुड़गांव के एक अस्पताल में निधन हो गया. विजय कश्यप भाजपा के पांचवें ऐसे विधायक और उत्तर प्रदेश सरकार के ऐसे तीसरे मंत्री हैं, जिनकी मौत कोविड-19 संक्रमण से हुई है.

इसके अलावा राजस्थान में बुधवार को भाजपा विधायक गौतम लाल मीणा का भी निधन इस महामारी की वजह से हो गया है.

उत्तर प्रदेश में मुजफ्फरनगर के चरथावल विधानसभा सीट से 56 वर्षीय विधायक कश्यप ने गुड़गांव के मेदांता अस्पताल में अंतिम सांस ली. वह उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में राजस्व एवं बाढ़ नियंत्रण मंत्री थे.

कश्यप उत्तर प्रदेश सरकार के तीसरे मंत्री हैं, जिनका कोरोना वायरस संक्रमण के कारण निधन हुआ है. पिछले साल उत्तर प्रदेश सरकार के दो मंत्री चेतन चौहान और कमल रानी वरुण का निधन भी कोविड-19 की वजह से हुआ था. कलम रानी वरुण कानपुर के घाटमपुर से विधायक रहने के साथ योगी सरकार के मंत्रिमंडल में भी शामिल थीं. चेतन चौहान भी उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री थे. दोनों की मौत पिछले साल अगस्त महीने में ही हुई थी.

कश्यप ऐसे पांचवें विधायक हैं, जिनका कोविड 19 महामारी की दूसरी लहर में निधन हुआ है. बीते सात मई को उत्तर प्रदेश में रायबरेली के सलोन सीट से भाजपा विधायक दल बहादुर कोरी का लखनऊ के एक निजी अस्पताल में कोरोना संक्रमण के बाद होने वाली समस्याओं के कारण निधन हो गया था.

बीते 28 अप्रैल को प्रदेश के बरेली जिले के नवाबगंज विधानसभा क्षेत्र से भाजपा विधायक केसर सिंह गंगवार का निधन कोरोना वायरस संक्रमण से हो गया था. वह 64 वर्ष के थे.

गंगवार वर्ष 2009 में बसपा से विधान परिषद के लिए चुने गए थे और वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में वह भाजपा में शामिल हो गए थे. पार्टी ने उन्हें नवाबगंज सीट से टिकट दिया था, जिस पर उन्होंने जीत दर्ज की थी.

इसके पहले भाजपा के लखनऊ पश्चिम क्षेत्र के 76 वर्षीय विधायक सुरेश कुमार श्रीवास्तव का बीते 23 अप्रैल की शाम कोरोना वायरस संक्रमण के कारण निधन हो गया था. उनकी पत्नी मालती श्रीवास्तव भी संक्रमित थी, जिनका दो दिन बाद 24 अप्रैल को लखनऊ के संजय गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (पीजीआई) में निधन हो गया था.

23 अप्रैल की सुबह ही उत्तर प्रदेश के औरैया जिले के सदर विधानसभा क्षेत्र के 56 वर्षीय भाजपा विधायक रमेश चंद्र दिवाकर ने भी कोरोना वायरस संक्रमण के चलते दम तोड़ दिया था. इसके अगले दिन 24 अप्रैल को उनके पिता 92 वर्षीय रामदत्त दिवाकर का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया था.

कश्यप के निधन पर प्रधानमंत्री और राज्य मंत्रिमंडल ने शोक व्यक्त किया

उत्तर प्रदेश मंत्रिमंडल की बुधवार को हुई आकस्मिक बैठक में सरकार के राजस्व एवं बाढ़ नियंत्रण राज्य मंत्री विजय कश्यप के निधन पर शोक व्यक्त किया गया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी कश्यप के निधन पर दुख जताया. उन्होंने ट्वीट किया, ‘भाजपा नेता और उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री विजय कश्यप जी के निधन से अत्यंत दुख हुआ है. वह जमीन से जुड़े नेता थे और सदा जनहित के कार्यों में समर्पित रहे. शोक की इस घड़ी में उनके परिजनों और प्रशंसकों के प्रति मेरी संवेदनाएं. ओम शांति.’

एक सरकारी प्रवक्ता के मुताबिक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में बुधवार को हुई बैठक में विजय कश्यप के निधन पर मंत्रिपरिषद ने दुख व्यक्त किया है.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्य के भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने भी उनके निधन पर शोक जताया है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, एक विज्ञप्ति में मुख्यमंत्री ने कहा है, ‘चरथावल से विधायक कश्यप एक लोकप्रिय नेता थे, जिन्होंने मंत्री के रूप में अपने कर्तव्यों का पूरी लगन से निर्वहन किया. उनके निधन से लोगों ने अपना सच्चा शुभचिंतक खो दिया है.’

भाजपा की ओर से जारी विज्ञप्ति के अनुसार, पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राधा मोहन सिंह और अन्य वरिष्ठ नेताओं ने भी उनके प्रति शोक संवेदना जताई है.

राजस्थान: कोरोना संक्रमित भाजपा विधायक गौतम लाल मीणा का निधन

जयपुर: राजस्थान में धरियावद विधानसभा सीट से भाजपा विधायक गौतम लाल मीणा का बुधवार की सुबह निधन हो गया. वह कोरोना वायरस से संक्रमित थे और उदयपुर के एक अस्पताल में उपचाराधीन थे.

गौतम लाल मीणा. (फोटो साभार: फेसबुक)

गौतम लाल मीणा. (फोटो साभार: फेसबुक)

प्रतापगढ़ जिले की धरियावद विधानसभा सीट से विधायक 56 वर्षीय मीणा (56) का उदयपुर के एमबी सरकारी अस्पताल में इलाज चल रहा था, जहां बुधवार सुबह उनका निधन हो गया.

तीन बार विधायक रहे मीणा के परिवार में पत्नी और चार बेटे हैं.

विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने मीणा के निधन पर शोक जताते हुए कहा, ‘वह बीते कुछ दिनों से अस्पताल में भर्ती थे. आखिरी दो दिन में उनकी हालत बिगड़ गई और उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया था.’

राजस्थान में गौतम लाल मीणा सहित चार विधायकों की मौत कोरोना वायरस संक्रमण से हो चुकी है. इससे पहले कांग्रेस विधायक कैलाश त्रिवेदी और गजेंद्र शक्तावत तथा भाजपा विधायक किरण माहेश्वरी का निधन इसी घातक वायरस के कारण हो चुका है.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी और भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां ने विधायक मीणा के निधन पर शोक जतायाा है.

मुख्यमंत्री गहलोत ने ट्वीट किया, ‘धरियावद से भाजपा विधायक गौतम लाल मीणा के कोरोना संक्रमण से असामयिक निधन की जानकारी बेहद दुखद है. ईश्वर से प्रार्थना है कि शोकाकुल परिजनों, मीणा के समर्थकों तथा मित्रों को यह आघात सहने की शक्ति दें एवं दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करें.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)