भारत

उत्तर प्रदेश: नाबालिग किशोरी को कथित तौर पर गैंगरेप के बाद ज़हर दिया, मौत

मामला सहारनपुर ज़िले के चिलकाना थाना क्षेत्र का है. परिजनों का आरोप है कि रविवार की रात गांव के ही दो युवकों ने उनके घर में जबरन घुसकर किशोरी से बलात्कार किया और फिर उसे ज़हर दे दिया. अस्पताल ले जाते समय रास्ते में उसने दम तोड़ दिया. मामले के एक आरोपी को गिरफ़्तार कर लिया गया है.

(फोटो साभार: विकिपीडिया)

(फोटो साभार: विकिपीडिया)

सहारनपुर: उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में एक 16 वर्षीय किशोरी की कथित रूप से सामूहिक दुष्कर्म के बाद जहर देकर हत्या कर दी गई. मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतका के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.

मृतका के परिजनों ने गांव के ही दो युवकों को नामज़द करते हुए थाने में तहरीर दी है.

पुलिस अधीक्षक (देहात) अतुल शर्मा ने बताया कि जिले के थाना चिलकाना के एक गांव में किशोरी के परिजनों ने थाने में तहरीर देकर अपनी पुत्री से दुष्कर्म और जहर देकर उसकी हत्या करने का आरोप लगाते हुए दो युवकों को नामज़द किया है.

शर्मा ने बताया कि तहरीर में आरोप लगाया गया है कि रविवार की रात को गांव के ही दो युवकों ने लड़की के घर पहुंचकर उससे दुष्कर्म किया और फिर उसे जहर दे दिया जिससे युवती की मौत हो गई.

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, लड़की के पिता द्वारा दर्ज करवाई प्राथमिकी के अनुसार, वह अपने कमरे में सो रही थी जबकि घटना के समय उसके माता-पिता दूसरे कमरे में सो रहे थे. आरोपी छत से कमरे में घुस गए. पीड़िता ने शोर मचाया, जिसके बाद लड़की के पिता ने आरोपियों का पीछा किया लेकिन वे भागने में सफल रहे.

पिता ने शिकायत में कहा, ‘हम उसे अस्पताल ले गए लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई. उसने मरने से पहले दो आरोपियों का नाम लिया.’

शर्मा ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद इस मामले की जांच में मदद मिलेगी और मौत का कारण स्पष्ट हो पाएगा.

तहरीर के आधार पर थाना चिलकाना पुलिस ने मामला दर्ज करते हुए घटना के मुख्य आरोपी फैजान को कुछ घंटों के बाद ही गिरफ्तार कर लिया है जबकि दूसरे की तलाश जारी है.

सहारनपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ. एस. चेन्नपा ने भी गांव पहुंचकर थाना पुलिस को आवश्यक निर्देश दिए हैं. पुलिस दूसरे आरोपी की तलाश में दबिश दे रही है और गांव में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है.

अमर उजाला के मुताबिक, पीड़ित अनुसूचित जनजाति की है. घटना के बाद आजाद समाज पार्टी के जिला प्रभारी प्रवीण गौतम आसपा और भीम आर्मी कार्यकर्ताओं के साथ गांव में पहुंचे और आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार कराने की मांग की. सीओ सदर अजेंद्र सिंह ने आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी का आश्वासन देकर मामला शांत कराया.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)