कोविड-19

गुजरात: लोक गायिका ने घर पर लगवाया कोविड-19 का टीका, जांच के आदेश

गुजरात की लोक गायिका गीता रबारी सोशल मीडिया पर तस्वीर साझा की थी, जहां वे अपने घर पर कथित रूप से कोविड-19 टीका लगवाते हुए दिख रही हैं. इस पर विवाद होने के बाद तस्वीर सोशल मीडिया से हटा ली गई है. प्रशासन ने संबंधित महिला स्वास्थ्यकर्मी को कारण बताओ नोटिस जारी किया है.

इंस्टाग्राम पर गीता द्वारा साझा की गई तस्वीर. (साभार: सोशल मीडिया)

इंस्टाग्राम पर गीता द्वारा साझा की गई तस्वीर. (साभार: सोशल मीडिया)

भुज: लोकप्रिय गुजराती लोक गायिका गीता रबारी द्वारा कच्छ जिले के मधापर गांव में अपने घर पर कथित रूप से कोविड-19 टीका लगवाने की तस्वीर साझा करने के बाद विवाद उत्पन्न हो गया है और प्रशासन ने संबंधित महिला स्वास्थ्यकर्मी को कारण बताओ नोटिस जारी किया है. अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी.

अधिकारियों ने बताया कि रबारी ने सोशल मीडिया पर जो तस्वीर डाली है उसमें वह अपने घर में सोफे पर बैठकर टीका लगवाती हुई नजर आ रही हैं. उन्होंने विवाद उत्पन्न होने के बाद उक्त तस्वीर सोशल मीडिया से हटा ली.

इस तस्वीर के सामने के बाद जिला प्रशासन से टीकाकरण में गायिका के साथ विशेष व्यवहार की शिकायत की गई. सामान्यत: कोविड-19 टीकाकरण में व्यक्ति को पंजीकरण एवं समय बुक कराने के बाद टीकाकरण केंद्र पर जाना पड़ता है.

अधिकारियों ने कहा कि शिकायत के बाद जांच शुरू की गई है और संबंधित स्वास्थ्यकर्मी को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है.

कच्छ डीडीओ भव्या वर्मा ने कहा, ‘कल मिली शिकायत के अनुसार गीता रबारी ने शनिवार शाम को मधापर गांव में अपने घर पर टीका लगवाया था. मैंने अधिकारियों को उस स्वास्थ्यकर्मी की पहचान करने का निर्देश दिया है जो टीका लगाने उनके घर गई थी और यह भी कि इसके लिए किससे मंजूरी ली गई थी.’

डीडीओ ने कहा, ‘स्वास्थ्यकर्मी को रविवार तक स्पष्टीकरण देने को कहा गया है और हम उसके जवाब के आधार पर आगे की कार्रवाई करेंगे.’

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, कच्छ के मुख्य जिला स्वास्थ्य अधिकारी (सीडीएचओ) डॉ. जनक मधक ने कहा, ‘हम मीडिया रिपोर्ट के आधार पर जांच कर रहे हैं जिसमें कहा गया है कि एफएचएस ने गीताबेन रबारी को घर पर टीकाकरण दिया है. सरकार ने केवल विशेष तौर पर सक्षम और कुछ वरिष्ठ नागरिकों को घर पर टीकाकरण की अनुमति दी है. अगर वे दोषी साबित होती हैं तो हम उचित कार्रवाई करेंगे.’

डॉ. मधक ने कहा कि रबारी ने भुज से लगभग 25 किलोमीटर पश्चिम में धोरी गांव के एक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में टीका लगवाने के लिए एक स्लॉट बुक किया था, लेकिन सार्वजनिक स्वास्थ्य केंद्र जाने के बजाय उन्होंने घर पर टीका लगवाया.’

25 वर्षीय गीता रबारी एक लोकप्रिय गुजराती लोक गायिका हैं, जिन्होंने टूरिज्म कॉरपोरेशन ऑफ गुजरात लिमिटेड (टीसीजीएल) के प्रचार वीडियो में भी काम किया है.

गुजरात और विदेशों में कई कार्यक्रम कर चुकीं रबारी ने पिछले साल फरवरी में नरेंद्र मोदी स्टेडियम में ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम में भी अपनी प्रस्तुति दी थी.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)