दुनिया

हांगकांग: एप्पल डेली अख़बार के संपादकीय लेखक राष्ट्रीय सुरक्षा क़ानून के तहत गिरफ़्तार

पिछले हफ़्ते एप्पल डेली ने कर्मचारियों की सुरक्षा एवं भुगतान कर पाने में असमर्थता जताते हुए अख़बार का प्रकाशन/संचालन बंद कर दिया था. एप्पल डेली अक्सर चीन और हांगकांग की सरकार की आलोचना शहर पर नियंत्रण सख़्त करने को लेकर करता रहा है. संपादकीय लेखक फंग वाई कोंग दो हफ़्तों के भीतर गिरफ़्तार किए गए अख़बार के सातवें कर्मचारी हैं. एप्पल डेली के संस्थापक जिम्मी लाय इस समय 20 महीने की सज़ा काट रहे हैं.

(फोटो: रॉयटर्स)

(फोटो: रॉयटर्स)

हांगकांग: हांगकांग के अब बंद हो चुके लोकतंत्र समर्थक समाचार-पत्र ‘एप्पल डेली’ के एक संपादकीय लेखक को रविवार की रात हवाईअड्डे पर गिरफ्तार कर लिया गया, उस वक्त वह शहर छोड़ने का प्रयास कर रहे थे. स्थानीय मीडिया ने यह खबर दी.

स्थानीय समाचार-पत्र ‘साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट’ और ऑनलाइन समाचार संगठन ‘सिटिजन न्यूज’ ने अज्ञात सूत्रों का हवाला देते हुए बताया कि संपादकीय लेखक फंग वाई कोंग को राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे में डालने के लिए विदेशी साठगांठ करने के संदेह पर गिरफ्तार किया गया.

स्थानीय मीडिया में आई खबरों के अनुसार, फंग को जब गिरफ्तार किया गया उस वक्त वह संभवत: ब्रिटेन के लिए रवाना हो रहे थे.

पुलिस ने कहा कि उन्होंने राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत रविवार रात हवाईअड्डे पर 57 वर्षीय एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया था, लेकिन उसकी पहचान नहीं बताई थी.

फंग दो हफ्तों के भीतर गिरफ्तार किए गए एप्पल डेली के सातवें कर्मचारी हैं. हांगकांग के अधिकारी अर्ध स्वायत्त शहर में असहमति की आवाजों को दबा रहे हैं, शहर की प्रख्यात लोकतंत्र समर्थक हस्तियों को गिरफ्तार कर रहे हैं और विधायिका से विपक्षी आवाजों को बाहर रखने के लिए हांगकांग के चुनाव कानूनों में सुधार कर रहे हैं.

उनकी गिरफ्तारी ऐसे वक्त में हुई है, जब लोकतंत्र समर्थक ऑनलाइन समाचार संगठन ‘स्टैंड न्यूज’ ने एक बयान में कहा कि वह जून से पहले अपनी साइट पर प्रकाशित टिप्पणियों को हटा लेगा और सख्त राष्ट्रीय सुरक्षा कानून को लेकर चिंताओं के चलते चंदा जुटाने के अपने प्रयासों को रोक देगा.

स्टैंड न्यूज ने एक बयान में कहा कि ये कदम समाचार संगठन के समर्थकों, लेखकों को और हांगकांग की ‘साहित्यिक न्यायिक जांच’ में संपादकीय कर्मचारियों को सुरक्षित रखने के लिए उठाए गए हैं.

एहतियाती कदम उठाने के बावजूद स्टैंड न्यूज ने समाचार देने की प्रतिबद्धता जताई.

पिछले हफ्ते एप्पल डेली ने अपना अंतिम संस्करण प्रकाशित किया था और कर्मचारियों की सुरक्षा एवं भुगतान कर पाने में असमर्थता जताते हुए अखबार का प्रकाशन-संचालन बंद कर दिया था.

एप्पल डेली अक्सर चीन और हांगकांग की सरकार की आलोचना शहर पर नियंत्रण सख्त करने को लेकर करता रहा है और 1997 में हुए करार से बीजिंग पर पीछे हटने का आरोप लगाता रहा है. वर्ष 1997 में चीन ने हांगकांग को ब्रिटेन से अपने नियंत्रण में लेने के लिए 50 साल तक ‘एक देश दो विधान का’ वादा किया था.

मालूम हो कि एप्पल डेली के संस्थापक जिम्मी लाय इस समय 20 महीने कैद की सजा काट रहे हैं. उन्हें यह सजा वर्ष 2019 में अनधिकृत रूप से सभा करने के मामले में दी गई है.

पिछले साल 30 जून को चीन ने शहर पर एकतरफा राष्ट्रीय सुरक्षा कानून लागू कर दिया था. इस विवादित कानून में अलगाववाद, स्थापित सत्ता की शक्ति और अधिकार के खिलाफ तोड़फोड़ की गतिविधि, आतंकवाद और विदेशी ताकतों के साथ मिलीभगत को लेकर उम्रकैद तक की सजा का प्रावधान है.

इसके बाद से ही अधिकारियों ने लाइब्रेरियों से कुछ लोकतंत्र समर्थक किताबों को हटा दिया, कुछ गानों और स्कूलों में अन्य गतिविधियों पर प्रतिबंध लगा दिया, कुछ नारों को गैरकानूनी करार दिया और सरकार विरोधी टेबलॉयड के न्यूजरूम पर छापे डाले गए थे.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)