राजनीति

कैबिनेट बदलाव की अटकलों के बीच आठ राज्यों में राज्यपालों की नियुक्ति या फ़ेरबदल किया गया

राज्यसभा के सदस्य एवं केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत को कर्नाटक का नया राज्यपाल नियुक्त किया गया. गुजरात भाजपा के नेता मंगुभाई छगनभाई पटेल को मध्य प्रदेश का राज्यपाल नियुक्त किया है. मिज़ोरम के राज्यपाल पीएस पिल्लई को स्थानांतरित कर गोवा का राज्यपाल नियुक्त किया गया है.

केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: इस सप्ताह के अंत तक केंद्रीय मंत्रिमंडल में फेरबदल किए जाने की अटकलों के बीच मंगलवार को आठ राज्यों में राज्यपालों की नियुक्ति अथवा फेरबदल किया गया है. राष्ट्रपति के प्रेस सचिव के हवाले से जारी विज्ञप्ति में यह जानकारी दी गई.

राष्ट्रपति भवन से जारी एक विज्ञप्ति के अनुसार, इसमें सबसे बड़ा बदलाव यह हुआ कि राज्यसभा के सदस्य एवं केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत को कर्नाटक का नया राज्यपाल नियुक्त किया गया है.

73 वर्षीय गहलोत कर्नाटक में राज्यपाल के रूप में वजूभाई वाला का स्थान लेंगे. वजूभाई वाला सितंबर 2014 से इस दक्षिण भारतीय राज्य के राज्यपाल हैं.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, राज्यपाल के रूप में गहलोत की नियुक्ति से पार्टी में तीन महत्वपूर्ण पद खाली हो गए हैं जिसमें केंद्रीय कैबिनेट, राज्यसभा और भाजपा संसदीय बोर्ड शामिल हैं.

केंद्र सरकार को 19 जुलाई से शुरू हो रहे संसद के मानसून सत्र तक उच्च सदन में गहलोत की जगह पर नियुक्ति करनी होगी, क्योंकि वह 2019 से राज्यसभा में सदन के नेता थे.

विज्ञप्ति में कहा गया है कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुजरात भाजपा के नेता मंगुभाई छगनभाई पटेल को मध्य प्रदेश का राज्यपाल नियुक्त किया है. अभी मध्य प्रदेश के राज्यपाल का अतिरिक्त प्रभार उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के पास है.

छह बार विधायक रहे 77 वर्षीय पटेल ने कहा कि वह मध्य प्रदेश के राज्यपाल के रूप में अपनी नई जिम्मेदारी का अच्छी तरह निर्वहन करने का प्रयास करेंगे.

वहीं, गोवा के भाजपा नेता और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष राजेंद्र विश्वनाथ अर्लेकर को हिमाचल प्रदेश का राज्यपाल नियुक्त किया है.

राष्ट्रपति ने आंध्र प्रदेश के भाजपा नेता डॉ. हरि बाबू कंभमपति को मिजोरम का राज्यपाल नियुक्त किए जाने को मंजूरी प्रदान की है.

विज्ञप्ति में कहा गया है कि मिजोरम के राज्यपाल पीएस पिल्लई को स्थानांतरित कर गोवा का राज्यपाल नियुक्त किया गया है.

गोवा को फरवरी 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पी. श्रीधरन पिल्लई के रूप में पूर्णकालिक राज्यपाल मिला है. अगस्त 2020 में सत्यपाल मलिक का मेघालय स्थानांतरण होने के बाद से महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी गोवा का अतिरिक्त प्रभार संभाल रहे थे.

मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने ट्वीट किया, ‘पीएस श्रीधरन पिल्लई जी को गोवा का राज्यपाल नियुक्त किये जाने पर बधाई. हमारे खूबसूरत राज्य में उनके स्वागत को लेकर उत्सुक हूं.’

वहीं, हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य को त्रिपुरा का राज्यपाल नियुक्त किया गया है. त्रिपुरा के राज्यपाल रमेश बैस को झारखंड का राज्यपाल नियुक्त किया गया है.

राष्ट्रपति भवन की विज्ञप्ति के अनुसार, हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय को हरियाणा का राज्यपाल नियुक्त किया गया है.

विज्ञप्ति में कहा गया है कि उपरोक्त नियुक्तियां इनके राज्यपाल के रूप में पद भार संभालने की तिथि से प्रभावी होंगी.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)