भारत

प्रधानमंत्री, गृहमंत्री, मुख्यमंत्री के ख़िलाफ़ अपमानजनक टिप्पणी के आरोपी पादरी गिरफ़्तार

तमिलनाडु के कन्याकुमारी ज़िले में एक कैथोलिक पादरी फादर जॉर्ज पोनैया को गिरफ़्तार किया गया है. उन्होंने अरूमनाई शहर में एक समागम के दौरान कथित तौर पर ये टिप्पणियां की थीं. वह चर्च को बंद किए जाने और घरों में प्रार्थनाओं पर प्रतिबंध लगाए जाने के ख़िलाफ़ थे.

New Delhi: Prime Minister Narendra Modi with BJP President Amit Shah during a press conference at the party headquarter in New Delhi, Friday, May 17, 2019. (PTI Photo/Manvender Vashist) (PTI5_17_2019_000094B)

नरेंद्र मोदी और अमित शाह. (फाइल फोटो: पीटीआई)

तिरूनेलवेली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और ‘भारत माता’ के खिलाफ कथित तौर पर अपमानजक टिप्पणी करने को लेकर कन्याकुमारी जिले में एक कैथोलिक पादरी को गिरफ्तार किया गया है.

द न्यूज मिनट की रिपोर्ट के अनुसार, फादर जॉर्ज पोनैया ने तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन के खिलाफ भी आपत्तिजनक टिप्पणी की थी.

फादर जॉर्ज पोनैया ने हाल में अरूमनाई शहर में एक समागम के दौरान कथित तौर पर ये टिप्पणियां की थीं. वह चर्चों को बंद किए जाने और घरों में प्रार्थनाओं पर प्रतिबंध लगाए जाने के खिलाफ थे.

उनके भाषण का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसके बाद कई हिंदूवादी संगठनों एवं भारतीय जनता पार्टी ने उनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया.

पुलिस ने बताया कि उन पर भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं और महामारी रोग अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया.

इस बीच भाजपा कार्यकर्ताओं ने पार्टी की राज्य इकाई के कोषाध्यक्ष एसआर शेखर के नेतृत्व में कोयंबटूर में प्रदर्शन किया और पादरी को उनकी टिप्पणी के लिए गुंडा एक्ट के तहत हिरासत में लेने की मांग की.

रिपोर्ट के अनुसार, इस बीच कुझिथुरई के रोमन कैथोलिक डायोसिस और राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष एस. पीटर अल्फोंस ने पोनैया द्वारा दिए गए भाषण की निंदा की है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)