राजनीति

यूपी: तिरंगा यात्रा निकालने पर सिसोदिया, संजय सिंह सहित आप के 17 नेताओं के ख़िलाफ़ केस दर्ज

आम आदमी पार्टी ने बीते 29 अगस्त को उत्तर प्रदेश के आगरा शहर में तिरंगा यात्रा निकाली थी, जिसमें दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और राज्यसभा सांसद संजय सिंह समेत बड़ी संख्या में लोगों ने हिस्सा लिया था. कोविड-19 प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने के आरोप में पार्टी के 17 नेताओं सहित 500 अज्ञात लोगों के ख़िलाफ़ पुलिस ने मामला दर्ज किया है.

आगरा में आम आदमी पार्टी की तिरंगा यात्रा (फोटो साभारः ट्विटर)

आगराः उत्तर प्रदेश के आगरा में बीते रविवार (29 अगस्त) को तिरंगा संकल्प यात्रा निकालने पर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया और राज्यसभा सांसद संजय सिंह सहित पार्टी के 17 नेताओं के खिलाफ कोविड-19 प्रोटोकॉल के उल्लंघन के आरोप में बीते सोमवार को मुकदमा दर्ज किया गया.

मालूम हो कि आगरा में इन दिनों धारा 144 लागू है. पुलिस ने तिरंगा यात्रा निकाले जाने पर मनीष सिसोदिया और संजय सिंह के अलावा बनै सिंह पहलवान, कपिल वाजपेयी, अनमोल बंसल समेत आप के 17 नेताओं पर मुकदमा दर्ज किया है.

पुलिस का कहना है कि एफआईआर में 500 अज्ञात लोग भी नामजद हैं, जो आगरा के जीआईसी ग्राउंड से संजय प्लेस के शहीद स्मारक तक रविवार को हुई तिरंगा यात्रा में शामिल थे.

पुलिस का कहना है कि कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए यात्रा में 50 लोगों के शामिल होने की सीमा के साथ इस तिरंगा यात्रा को मंजूरी दी गई थी, लेकिन रविवार को हुए इस मार्च में शामिल लोगों की संख्या तय सीमा से अधिक थी और कोविड-19 प्रोटोकॉल का भी पालन नहीं किया गया.

बता दें कि अगले साल होने जा रहे उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी ने आजादी के 75वें वर्ष के मौके पर अयोध्या, लखनऊ और नोएडा में तिरंगा यात्रा निकालने की योजना बनाई है.

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने रविवार को कहा कि आम आदमी पार्टी 14 सितंबर को अयोध्या में तिरंगा यात्रा निकालेगी और उसके बाद उत्तर प्रदेश के 403 विधानसभा क्षेत्रों में इसका आयोजन होगा.

उन्होंने इस दौरान राज्य में कानून एवं व्यवस्था, शिक्षा, स्वास्थ्य देखरेख और रोजगार की स्थिति को लेकर भाजपा सरकार पर निशाना साधा.

पुलिस अधीक्षक (शहर) विकास कुमार का कहना है कि दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और राज्यसभा सांसद संजय सिंह सहित आम आदमी पार्टी के 17 नेताओं के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. इसके अलावा 500 अज्ञात लोगों के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है.

उन्होंने कहा कि ये अज्ञात लोग भी आम आदमी पार्टी के नेताओं द्वारा रविवार को आगरा के जीआईसी ग्राउंड से संजय प्लेस के शहीद स्मारक तक निकाली गई तिरंगा यात्रा का हिस्सा थे.

एसपी ने कहा, ‘कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन नहीं करने पर सोमवार सुबह लोहामंडी पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई.’

आईपीसी की धारा 188 (लोक सेवक के आदेश की अवमानना करना), 269 (किसी बीमारी को फैलाने के लिए किया गया लापरवाही भरा काम) और 270 (किसी बीमारी को फैलाने के लिए गया घातक काम जिससे जान को खतरा) के साथ कोविड-19 प्रोटोकॉल के उल्लंघन के लिए महामारी रोग अधिनियम के प्रावधानों के तहत मामला दर्ज किया गया है.

पार्टी नेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज होने के बाद मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा, ‘आजादी के 75वें साल में तिरंगा यात्रा निकालने पर बीजेपी सरकार एफआईआर करवाती है. अंग्रेज चले गए लेकिन बीजेपी की मानसिकता अभी भी अंग्रेजों की ग़ुलाम है. आशीर्वाद यात्रा, बंगाल चुनाव, बनारस में सभा हो सकती है लेकिन तिरंगा यात्रा अपराध है. करिए चाहे जितनी एफआईआर, तिरंगा यात्रा तो चलेगी.’

वहीं, राज्यसभा सांसद और आप के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने भी ट्वीट कर कहा, ‘ब्रिटिश हुकुमत बनी योगी सरकार तिरंगा फहराना हुआ अपराध. 52 साल तक तिरंगा ना फहराने वाले भाजपाई तिरंगा विरोधी हैं. मेरे ऊपर मुकदमा नंबर 16 हो गया. बहुत धीमे हो योगी जी, जल्दी 1600 मुकदमा पूरा करो. सिसोदिया के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज की गई.’

बता दें कि आम आदमी पार्टी ने रविवार को यहां तिरंगा संकल्प यात्रा निकाली थी. इसे पहले जीआईसी मैदान से बिजलीघर तक निकाला जाना था, लेकिन इसके लिए प्रशासन ने अनुमति नहीं दी थी. बाद में मार्ग बदलने पर अनुमति दी गई थी. तब यात्रा जीआईसी मैदान से शुरू होकर शहीद स्मारक तक गई थी. इस यात्रा में सिसोदिया, सांसद संजय सिंह भी शामिल हुए थे.

(समाचार एजेंसी पीटीआई से इनपुट के साथ)