भारत

अवैध वसूली के आरोप में भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष सहित चार गिरफ़्तार

मध्य प्रदेश के नीमच में भाजयुमो जिलाध्यक्ष एवं नगर पंचायत पार्षद सहित चारों आरोपी ख़ुद को खनिज अधिकारी बताकर ट्रक वालों से अवैध वसूली कर रहे थे.

BJP PTI

भाजपा रैली की फाइल फोटो. (पीटीआई)

नीमच: मध्य प्रदेश के नीमच में भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) के जिलाध्यक्ष भूपेंद्र सिंह भीमावत एवं मनासा नगर पंचायत के भाजपा पार्षद गिरिजा शंकर शर्मा सहित चार व्यक्तियों को ट्रक चालकों से अवैध वसूली करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

पुलिस अधीक्षक तुषारकांत विद्यार्थी ने आज बुधवार को बताया कि ट्रक चालक डूंगाराम निवासी उदयपुर राजस्थान द्वारा दायर की गई एफआईआर पर भीमावत एवं शर्मा के अलावा उनके साथियों सुनील गौड़ एवं मोहित ग्वाला को मंगलवार देर रात नीमच से करीब तीन किलोमीटर दूर स्थित राजस्थानी ढाबे के सामने से गिरफ्तार किया गया है.

उन्होंने कहा कि इन चारों आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 384 एवं 34 के तहत मामला दर्ज किया गया है. विद्यार्थी ने बताया कि डायल 100 पर पुलिस को सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और ट्रक चालक डूंगाराम की एफआईआर पर इन चारों को गिरफ्तार किया.

नगर पुलिस अधीक्षक अभिषेक दीवान ने बताया कि सिटी पुलिस थाने में डूंगाराम ने एफआईआर दर्ज करवाई है. इसमें उसने कहा है कि ये चारों आरोपी खुद को खनिज अधिकारी बताकर ट्रक वालों से अवैध वसूली कर रहे थे.

दीवान ने बताया कि फरियादी के अनुसार, जब वह ट्रक में राजस्थान के डबोक से खनिज लेकर रतलाम जा रहा था, उस वक्त मंगलवार रात करीब साढ़े दस बजे महू-नसीराबाद राजमार्ग को जोड़ने वाली रोड़ पर राजस्थानी ढाबे के सामने भीमावत और उसके तीन साथियों ने उसे रोक कर रॉयल्टी की रसीद के नाम पर मामला दर्ज करने की धमकी दी और 5,000 रुपये मांगने लगे.

उन्होंने कहा कि उनकी मांग पूरी न करने पर इन आरोपियों ने डूंगाराम की जेब में रखे 3,500 रुपये छीन लिए और उसे पीटने के साथ-साथ अभद्र गालियां भी दी.

इसी बीच, भाजपा जिलाध्यक्ष नीमच हेमंत हरित ने बताया, यह मामला मेरे संज्ञान में आया है. पूरे मामले को प्रदेश के वरिष्ठ पार्टी पदाधिकारियों को अवगत करवा दिया है. जांच के बाद ही कोई कार्रवाई की जाएगी.