राजनीति

हरियाणा: भाजपा के दो और इनेलो से एक नेता कांग्रेस में शामिल

हरियाणा के ऐलनाबाद विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी रहे पवन बेनीवाल, हिसार से भाजपा नेता एवं उद्यमी अशोक गोयल, पूर्व सांसद तारा सिंह के पुत्र और इंडियन नेशनल लोक दल नेता कंवरजीत सिंह उर्फ़ प्रिंस कांग्रेस में शामिल हुए हैं.

हरियाणा के भाजपा नेता पवन बेनीवाल, अशोक गोयल और इनेलो नेता कंवरजीत कांग्रेस में शामिल हुए. (फोटो सभार ट्विटर/@INCHaryana)

नई दिल्ली: हरियाणा में भाजपा के दो और इंडियन नेशनल लोक दल (इनेलो) के एक नेता बीते सोमवार को कांग्रेस में शामिल हो गए.

राज्य के ऐलनाबाद विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी रहे पवन बेनीवाल, हिसार से भाजपा नेता एवं उद्यमी अशोक गोयल मंगालीवाला, पूर्व सांसद तारा सिंह के पुत्र और इनेलो नेता कंवरजीत सिंह उर्फ प्रिंस पार्टी में शामिल हुए.

कुमारी सैलजा ने कांग्रेस पार्टी में शामिल हुए तीनों नेताओं का स्वागत करते हुए कहा, ‘आज प्रदेश सरकार में शामिल लोगों की हिम्मत नहीं है कि वह जनता के बीच जा सकें. आज हर वर्ग की पसंद कांग्रेस पार्टी है. यही कारण है कि कांग्रेस पार्टी का जनाधार दिन-प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है. प्रदेश में जब भी चुनाव होंगे कांग्रेस पार्टी ऐतिहासिक जीत दर्ज करेगी.’

उन्होंने दावा किया, ‘हरियाणा प्रदेश बेरोजगारी के मामले में पूरे देश में प्रथम स्थान पर बना हुआ है. आए दिन घोटाले सामने आ रहे हैं. सरकार आए दिन किसान विरोधी फैसले ले रही है. किसान पिछले नौ महीनों से शांतिपूर्ण तरीके से अपनी मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे हैं. मगर यह सरकार उनकी आवाज को दबाने के लिए लगातार दमनकारी नीतियां अपना रही है.’

हरियाणा प्रदेश कांग्रेस प्रभारी विवेक बंसल ने कहा, ‘कांग्रेस पार्टी का जनाधार दिन-प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है. आज भी प्रदेश के कई कद्दावर नेता कांग्रेस पार्टी में शामिल हुए हैं.’

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, 2014 के विधानसभा चुनावों से पहले पवन बेनीवाल ने इनेलो छोड़ दिया था और भाजपा में शामिल हो गए थे. उन्होंने 2014 और 2019 में इनेलो के अभय चौटाला के खिलाफ भाजपा के टिकट पर ऐलानाबाद निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़े थे और वह दोनों बार हारे थे.

चूंकि अभय चौटाला ने किसान आंदोलन के समर्थन में अपनी सीट खाली की है, इसलिए आने वाले कुछ महीनों में ऐलानाबाद सीट पर उपचुनाव होने हैं.

भाजपा ने 2016 से 2019 तक बेनीवाल को हरियाणा बीज विकास निगम का अध्यक्ष नियुक्त किया था. हालांकि, बेनीवाल ने इस साल अप्रैल में किसानों के विरोध के प्रति एकजुटता के प्रतीक के रूप में भाजपा छोड़ दी थी. ऐलानाबाद उपचुनाव के लिए बेनीवाल को कांग्रेस उम्मीदवार के रूप में चुने जाने की संभावना है.

कांग्रेस में शामिल हुए कंवरजीत सिंह पूर्व सांसद तारा सिंह के बेटे हैं, जो कुरुक्षेत्र से 10वीं लोकसभा के लिए चुने गए थे. करनजीत भी पार्टी छोड़ने से पहले लंबे समय तक इनेलो से जुड़े रहे.

विवेक बंसल ने कहा, ‘यह हरियाणा कांग्रेस के लिए एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है. मैं इन सभी नेताओं का स्वागत करता हूं और उन्हें आश्वासन देता हूं कि उन्हें पार्टी में उचित सम्मान और स्थान दिया जाएगा.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)