भारत

गुजरातः महिला से कई बार बलात्कार के आरोप में एक फोटोग्राफर, वकील और डॉक्टर गिरफ़्तार

घटना आणंद की है, जहां एक महिला ने अपनी शिकायत में कहा है कि बीते डेढ़ साल में तीनों आरोपियों ने साज़िशन कई बार उनका बलात्कार किया, जबरन उनकी निजी तस्वीरें खींची और उन्हें लीक करने की धमकी दी.

(प्रतीकात्मक तस्वीर: रॉयटर्स)

अहमदाबादः गुजरात के आणंद में पुलिस ने एक महिला का कथित तौर पर बलात्कार करने और उनकी निजी तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर फैलाने की धमकी देने के आरोप में रविवार को तीन लोगों को गिरफ्तार किया.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, आणंद में एक हफ्ते पहले एक महिला की शिकायत पर पेशे से फोटोग्राफर संदीप कुमार चंद्रशेखर, वकील प्रद्युमनसिंह गोहिल और डॉक्टर मेहुल प्रजापति को गिरफ्तार किया गया है.

महिला ने अपनी शिकायत में कहा कि बीते डेढ़ साल में तीनों आरोपियों ने साजिशन कई बार उनका बलात्कार किया, जबरन उनकी निजी तस्वीरें खींची और उन्हें लीक करने की धमकी दी.

इस मामले में आणंद के साइबर क्राइम पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज की गई है.

आणंद पुलिस के साइबर क्राइम सेल के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘महिला की चार साल पहले संदीप कुमार से दोस्ती हुई थी और लगभग डेढ़ साल पहले दोनों की किसी मामले को लेकर झगड़ा हुआ था. जब संदीप ने महिला से पैसों की मांग करनी शुरू की तो महिला ने उससे बात करनी बंद कर दी.’

अधिकारी ने कहा, ‘उसी समय महिला को वकील प्रद्युमन गोहिल नाम के शख्स से फोन आया, जिसने कहा कि वह नौकरी के लिए किसी शख्स की तलाश में है. महिला ने इस नौकरी में दिलचस्पी दिखाई और गोहिल से बात करने लगी और इसी दौरान उसे बताया कि संदीप उसे प्रताड़ित कर रहा है.’

इसके बाद गोहिल ने महिला और संदीप को कॉन्फ्रेंस कॉल किया और संदीप से महिला को पैसों के लिए और प्रताड़ित न करने को कहा.

पुलिस के मुताबिक, ‘बाद में वकील ने महिला को होटल में बुलाया और कहा कि उसने महिला की मदद करने के लिए संदीप को पैसे दे दिए हैं और कथित तौर पर होटल में वकील ने महिला का बलात्कार किया और उसकी निजी तस्वीरें और वीडियो बना लिए.’

पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘कुछ दिन बाद वकील ने दोबारा महिला को फोन कर होटल में बुलाने की कोशिश की लेकिन जब महिला ने इनकार किया तो उसकी निजी तस्वीरें और वीडियो लीक करने की धमकी दी. इसके बाद महिला होटल में गई, जहां वकील ने दोबारा उसका बलात्कार किया.’

महिला की शिकायत के मुताबिक, जब वे होटल के कमरे में वकील के साथ थी तो उस समय संदीप होटल के बाथरूम में छिपा हुआ था.

संदीप ने कथित तौर पर महिला की निजी तस्वीरें खींची, उसका वीडियो बनाया और इन्हें लीक करने की धमकी देकर बाद में कई बार महिला का बलात्कार किया.

पुलिस अधिकारी का कहना है, ‘इसके बाद एक बार जब महिला बीमार हुई तो वह मेहुल प्रजापति नाम के एक डॉक्टर के पास गई, जो फिर महिला को फोन करने लगा. महिला ने डॉक्टर का नंबर ब्लॉक कर दिया, जिसके बाद डॉक्टर ने महिला को दूसरे नंबर से संपर्क किया और संदीप और वकील द्वारा खींची गई तस्वीरें और वीडियो उसे भेजे. इसके बाद डॉक्टर ने भी कई बार महिला से जबरदस्ती की.’

इन तीनों आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 (2) एन (एक महिला का कई बार बलात्कार करना) और 354 बी (महिला उत्पीड़न) और सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.