भारत

मध्य प्रदेश: जादू-टोना के शक में महिला को निर्वस्त्र कर बेरहमी से पीटा, तीन लोग गिरफ़्तार

घटना पांच अक्टूबर की रात मध्य प्रदेश के धार ज़िले के सिंघाना चौकी इलाके में हुई. पुलिस ने बताया कि आरोपी पक्ष का कहना है कि महिला की नज़र लगने से उनके घर में कुछ लोग बीमार हैं. पुलिस ने कहा कि इस तरह के अंधविश्वास के कारण महिला को पीटा गया. सभी आरोपी एक-दूसरे के रिश्तेदार हैं और महिला के निकटतम पड़ोसी हैं.

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

धार: मध्य प्रदेश के धार जिले के एक गांव में अंधविश्वास के चलते 45 वर्षीय एक महिला को कथित तौर पर निर्वस्त्र कर उसके रिश्तेदारों ने द्वारा बेरहमी से पिटाई किए जाने का मामला सामने आया है. पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी.

यह घटना पांच अक्टूबर की रात धार जिला मुख्यालय से करीब 85 किलोमीटर दूर सिंघाना चौकी के मांडवी ग्राम में हुई. पुलिस ने शुक्रवार को इस मामले के चार में से तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया.

इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस ने कार्रवाई की.

पुलिस के मुताबिक, आरोपी पक्ष का कहना है कि महिला की नजर लगने से उनके घर में कुछ लोग बीमार हैं. पुलिस ने कहा कि इस तरह के अंधविश्वास के कारण महिला को पीटा गया.

पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह ने बताया, ‘इस मामले में पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धाराओं 307 (हत्या का प्रयास), 354 और अन्य के तहत मामला दर्ज किया है. चार में से तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और चौथे आरोपी को पुलिस जल्द ही गिरफ्तार कर लेगी.’

द इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, महिला की शिकायत पर सात अक्टूबर को मनावर थाने में मामला दर्ज किया गया था. तीन आरोपियों की पहचान लालू, बुद्धा और राजिल्या के रूप  में की गई है.

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, आदित्य प्रताप सिंह ने कहा, ‘घटना का वीडियो जैसे ही पुलिस के पास पहुंचा, चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया. ये सभी एक-दूसरे के रिश्तेदार हैं और महिला के निकटतम पड़ोसी हैं. उन्हें वीडियो से पहचाना गया.’

वायरल वीडियो में महिला बिना कपड़ों के बैठी है, जबकि दो पुरुषों को उसकी पिटाई करते हुए देखा जा सकता है. वह अपने जान के लिए याचना करते हुए दिखाई दे रही है. पुरुष उसके बालों को पकड़कर खींचते हैं और थप्पड़ मारते हैं.

यह पूछे जाने पर कि क्या वीडियो बनाने और वायरल करने वाले के खिलाफ कोई कार्रवाई की जाएगी, उन्होंने कहा, ‘वीडियो बनाने में शामिल सभी लोगों की तलाश की जा रही है. उन पर आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया जाएगा और एक महिला का शील भंग करने का आरोप लगाया जाएगा.’

मनावर पुलिस थाना प्रभारी बृजेश मालवीय ने बताया कि पुलिस ने पीड़िता, तीन आरोपियों और अन्य ग्रामीणों से बात की है. ऐसा प्रतीत होता है कि आरोपियों के रिश्तेदार बहुत बार बीमार पड़ रहे थे और उन्होंने महिला पर काला जादू करने का आरोप लगाया और उसे सबक सिखाने का फैसला किया.

रिपोर्ट के मुताबिक, धार जिले में इस तरह की यह दूसरी घटना है. बीते 21 सितंबर को एक पुरुष और दो महिला मित्रों को पीटा गया और गले में टायर पहनाकर नाचने के लिए मजबूर किया गया.

एसपी सिंह ने कहा, ‘इस तरह के अपराधों की सूचना मिलते ही पुलिस ने कार्रवाई की है. आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)