भारत

टी-20 क्रिकेट वर्ल्ड कप में पाकिस्तान की जीत का वॉट्सऐप स्टेटस लगाने पर शिक्षक के ख़िलाफ़ केस दर्ज

राजस्थान के उदयपुर ज़िले का मामला. उदयपुर के नीरजा मोदी स्कूल में कार्यरत शिक्षक नफ़ीसा अटारी को सेवा से निष्कासित भी कर दिया गया है. इसी तरह उत्तर प्रदेश के आगरा में टी-20 क्रिकेट विश्व कप मैच में भारत के ख़िलाफ़ पाकिस्तान की जीत पर कथित तौर पर ख़ुशी जाहिर करते हुए वॉट्सऐप स्टेटस पोस्ट करने के लिए कश्मीर के तीन इंजीनियरिंग छात्रों को एक कॉलेज से निलंबित कर दिया गया है.

बीते 24 अक्टूबर को दुबई में टी-20 वर्ल्ड कप क्रिकेट प्रतियोगिता में भारत और पाकिस्तान के पहले मैच में के दौरान दोनों देशों के प्रशंसक. (प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

जयपुर: राजस्थान के उदयपुर जिले के अंबामाता थाने में रविवार (24 अक्टूबर) को टी-20 क्रिकेट विश्व कप मैच में भारत के खिलाफ पाकिस्तान की जीत पर खुशी जताते हुए वॉट्सऐप पर संदेश पोस्ट करने वाली निजी स्कूल की एक शिक्षक के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है.

थानाधिकारी नरपत सिंह ने बताया कि वॉट्सऐप पर संदेश पोस्ट करने वाली शिक्षक नफीसा अटारी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 153 (दंगा भड़काने के इरादे से उकसाना) के तहत मामला दर्ज किया गया है. वहीं निजी स्कूल प्रशासन ने शिक्षक को सेवा से निष्कासित कर दिया गया है.

नीरजा मोदी स्कूल, उदयपुर में कार्यरत शिक्षक नफीसा अटारी ने वॉट्सऐप पर पाकिस्तानी खिलाड़ियों की तस्वीर के साथ ‘जीत गए… हम जीत गए’ कहते हुए स्टेटस अपडेट किया था. सोशल मीडिया पर शिक्षक के वॉट्सऐप स्टेटस का स्क्रीनशॉट वायरल होने के बाद स्कूल प्रबंधन ने उन्हें नौकरी से निष्कासित कर दिया है.

शिक्षक को दिए गए पत्र में कहा गया है, ‘सोजतिया चैरिटेबल ट्रस्ट की बैठक में लिए गए निर्णय के अनुसार नीरजा मोदी स्कूल की शिक्षक नफीसा अटारी को तत्काल प्रभाव से स्कूल से निष्कासित कर दिया गया है.’

स्कूल के अध्यक्ष महेंद्र सोजतिया ने इसकी पुष्टि की. उन्होंने कहा, ‘हां, हमने शिक्षक को निष्कासित करने का फैसला किया है.’

यह पूछे जाने पर कि माफी मांग लिए जाने के बाद अब क्या प्रबंधन अपने फैसले पर पुनर्विचार करेगा, सोजतिया ने कहा, ‘फिलहाल शिक्षक को बर्खास्त करने का फैसला किया गया है.’

इस बीच शिक्षक ने एक वीडियो संदेश में माफी मांगते हुए कहा है कि उनका इरादा किसी की भावना को ठेस पहुंचाने का नहीं था.

उन्होंने कहा, ‘किसी ने मुझे मैसेज किया और पूछा कि क्या आप पाकिस्तान का समर्थन करती हैं. चूंकि संदेश में इमोजी थे और यह मस्ती का माहौल था, मैंने ‘हां’ में जवाब दिया, लेकिन इसका कहीं भी मतलब नहीं है कि मैं पाकिस्तान का समर्थन करती हूं. मैं एक भारतीय हूं और मुझे भारत से प्यार है.’

शिक्षक नफीसा अटारी के अनुसार, जैसे ही उन्हें अपनी गलती का एहसास हुआ उन्होंने स्टेटस मैसेज को डिलीट कर दिया. उन्होंने कहा, ‘अगर मैंने किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है तो मुझे खेद है.’

भारत बीते 24 अक्टूबर को आईसीसी टी-20 विश्व कप क्रिकेट प्रतियोगिता के अपने पहले मैच में पाकिस्तान से 10 विकेट से हार गया था.

आगरा: पाकिस्तानी खिलाड़ियों की तारीफ करने वाले कश्मीरी छात्र को कॉलेज से निलंबित 

आगरा: इसी तरह उत्तर प्रदेश में इसी मैच को लेकर ऐसी ही एक अन्य घटना में पाकिस्तान की जीत पर कथित तौर पर खुशी जाहिर करते हुए वॉट्सऐप स्टेटस पोस्ट करने के लिए कश्मीर के तीन इंजीनियरिंग छात्रों को आगरा के एक कॉलेज से निलंबित कर दिया गया है.

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की युवा इकाई के स्थानीय नेताओं ने भी उक्त छात्रों के विरुद्ध आगरा के जगदीशपुरा थाने में शिकायत दर्ज कराई है. उक्त छात्र राजा बलवंत सिंह इंजीनियरिंग तकनीकी कैंपस में पढ़ते हैं.

एसपी सिटी आगरा विकास कुमार ने कहा कि पुलिस को इसके बारे में शिकायत मिली है और इसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी. कॉलेज प्रशासन ने सोमवार को छात्रों को निलंबित कर दिया.

मालूम हो कि टी-20 क्रिकेट वर्ल्ड कप के मैच में पाकिस्तान की जीत का कथित तौर पर जश्न मनाने और पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी करने के लिए श्रीनगर के गवर्मेंट मेडिकल कॉलेज (जीएमसी) और शेर-ए-कश्मीर इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (एसकेआईएमएस) के हॉस्टल वॉर्डन, कॉलेज प्रबंधन और छात्रों के खिलाफ बीते 25 अक्टूबर को दो अलग-अलग एफआईआर दर्ज की गई.

मामले में गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम (यूएपीए) की धारा 13 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है.

बता दें कि कश्मीर के कई इलाकों में पाकिस्तानी टीम के लिए जश्न मनाने की खबरें सामने आईं, जिसमें पटाखे फोड़ना भी शामिल है.

जम्मू एवं कश्मीर पुलिस ने सांबा जिले से कथित तौर पर छह लोगों को गिरफ्तार किया गया था.  दरअसल एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें भारत के खिलाफ पाकिस्तानी क्रिकेट टीम की जीत को लेकर दो दर्जन से अधिक लोग जश्न मनाते और नारेबाजी करते नजर आए थे.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)