भारत

गौरी लंकेश की हत्या को संघ परिवार से जोड़ने के आरोप में रामचंद्र गुहा के ख़िलाफ़ शिकायत दर्ज

इतिहासकार गुहा ने ट्वीट किया था,आज के भारत में स्वतंत्र लेखकों और पत्रकारों को प्रताड़ित किया जा रहा, यहां तक कि हत्या कर दी जा रही, लेकिन हमें चुप नहीं किया नहीं जा सकता.’

लेखक और इतिहासकार रामचंद्र गुहा. (फोटो साभार: द हिंदू)

लेखक और इतिहासकार रामचंद्र गुहा. (फोटो साभार: द हिंदू)

बेंगलुरुभाजपा युवा मोर्चा ने पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या को संघ परिवार से जोड़ने के लिए इतिहासकार रामचंद्र गुहा के आरोपों को लेकर उनके खिलाफ बुधवार को एक शिकायत दर्ज कराई है. साथ ही, आपराधिक कार्यवाही की मांग की है.

भाजपा युवा मोर्चा ने गुहा पर संघ परिवार के संगठनों की छवि धूमिल करने के लिए उसके खिलाफ बेबुनियाद आरोप लगाए जाने और लोगों के मन में एक गलत धारणा बनाने की बात कही है. बेंगलुरु सिटी के भाजपा युवा मोर्चा के सचिव संकीर्थ थाडी ने मंगलवार को मल्लेरम पुलिस थाना में यह शिकायत दर्ज कराई.

गौरतलब है कि गौरी लंकेश की हत्या को संघ परिवार से जोड़े जाने को लेकर 11 सितंबर को युवा मोर्चा ने गुहा को एक कानूनी नोटिस देकर बेशर्त माफी मांगने को कहा था. नोटिस के बाद गुहा ने ट्वीट किया था, ‘आज के भारत में स्वतंत्र लेखकों और पत्रकारों को प्रताड़ित किया जा रहा और यहां तक कि हत्या कर दी जा रही. लेकिन हमें चुप नहीं किया नहीं जा सकता.’

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘अटल बिहारी वाजपेयी ने कहा था कि एक पुस्तक या आलेख का जवाब सिर्फ एक पुस्तक या आलेख हो सकता है. लेकिन अब हम वाजपेयी के भारत में नहीं रह रहे.’

शिकायतकर्ता ने गुहा के हवाले से कहा है कि इस बात की बहुत संभावना है कि गौरी लंकेश के हत्यारे उसी संघ परिवार से हैं जिससे दाभोलकर, पानसारे और कालबुर्गी के हत्यारे आए थे.

शिकायत में कहा गया है कि रामचंद्र गुहा ने जान बूझकर ये आरोप लगाए थे. गौरतलब है कि दक्षिणपंथी विचारों के खिलाफ मुखरता से अपनी बात रखने वाली गौरी लंकेश की पांच सितंबर की रात अज्ञात हमलावरों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी.