भारत

गुरदासपुर लोकसभा सीट कांग्रेस के खाते में, भाजपा को झटका

कांग्रेस के सुनील जाखड़ ने भाजपा प्रत्याशी सवर्ण सिंह सलारिया को क़रीब दो लाख वोटों से हराया.

AppleMark

गुरदासपुर लोकसभा सीट जीतने के बाद पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के साथ जश्न मनाते हुए. (फोटो: पीटीआई)

गुरदासपुर: कांग्रेस नेता सुनील जाखड़ ने गुरदासपुर लोकसभा सीट के लिए हुए उपचुनाव में रविवार को अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी भाजपा के सवर्ण सिंह सलारिया को 1,93,219 मत के अंतर से पराजित किया.

निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि जाखड़ को 4,99,752 जबकि सलारिया को 3,06,533 मत प्राप्त हुए. आम आदमी पार्टी उम्मीदवार मेजर जनरल सेवानिवृत्त खजुरिया 23,579 मत के साथ तीसरे स्थान पर रहे. यह सीट भाजपा सांसद विनोद खन्ना के इस साल अप्रैल में निधन के कारण खाली हो गई थी.

कांग्रेस ने वर्ष 2009 में यह सीट जीती थी. उस समय कांग्रेस उम्मीदवार प्रताप सिंह बाजवा ने खन्ना को हराया था. खन्ना ने 1998, 1999, 2004 और 2014 में इस सीट पर जीत दर्ज की थी.

चुनाव जीतने के बाद जाखड़ ने मतदाताओं को धन्यवाद कहा. वह प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष भी हैं. जाखड़ ने कहा, इस जीत के साथ लोगों ने अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में अपने विश्वास की फिर से पुष्टि की है.

उन्होंने कहा, यह कांग्रेस और कैप्टन अमरिंदर सिंह की जीत है. जाखड़ को बधाई देते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि यह विकास के एजेंडे की जीत है.

रुझानों में कांग्रेस नेता को बड़ी बढ़त मिलते देख कांग्रेस कार्यकर्ता चंडीगढ़ स्थित पार्टी कार्यालय में इकट्ठा हुए. उन्होंने मिठाई बांटी और खुशी से झूमते नजर आए.

संवाददाताओं से बातचीत में राज्य के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा, हम लोगों ने पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी को लाल रिबन में पैक करके दिवाली का उपहार भेंट किया है क्योंकि यह आगे की राह तय करेगा… सिद्धू ने कहा, यह जीजा-साले शिअद प्रमुख सुखबीर बादल और बिक्रम सिंह मजीठिया के चेहरे पर बड़ा तमाचा है. आज भाजपा यह समझ जाएगी कि अकाली दल पंजाब में बोझ बन गया है. बार-बार लोगों ने उनको याद दिला दी है.

भाजपा और आप दोनों ने कांग्रेस पर उपचुनाव में जीत के लिए सत्ता के दुरुपयोग का आरोप लगाया. पंजाब भाजपा के सचिव विनीत जोशी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने उपचुनाव में आधिकारिक तंत्र का दुरुपयोग किया.

Gurdaspur: Punjab Congress president Sunil Jakhar with State Cabinet minister Navjot Singh Sidhu and other party leaders showing his victory certificate as he celebrates after winning the Gurdaspur parliamentary bypoll, in Gurdaspur on Sunday. PTI Photo (PTI10_15_2017_000046B)

गुरदासपुर लोकसभा सीट जीतने के बाद पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ अपना विजय प्रमाणपत्र दिखाते हुए. (फोटो: पीटीआई)

आप उम्मीदवार लेफ्टिनेंट जनरल सेवानिवृत्त सुरेश खजूरिया ने कांग्रेस पर उपचुनाव के लिए अलोकतांत्रिक तरीके अख्तियार करने का आरोप लगाया.

इस सीट पर 11 अक्टूबर को हुए उपचुनाव में 56 फीसदी मतदान हुआ जो वर्ष 2014 के आम चुनावों में हुए 70.03 फीसदी मतदान के मुकाबले कम है. यहां दो मतगणना केंद्रों पर कड़ी सुरक्षा के बीच रविवार सुबह आठ बजे मतों की गिनती शुरू हुई. कांग्रेस उम्मीदवार जाखड़ शुरुआत से ही अपने प्रतिद्वंद्वियों से काफी आगे चल रहे थे. यह क्रम आखिर तक जारी रहा और मतों का अंतर बढ़ता रहा. उन्होंने सभी नौ विधानसभा क्षेत्रों में अपनी बढ़त कायम रखी.

गुरदासपुर लोकसभा उपचुनाव में मुख्य राजनीतिक दल कांग्रेस, भाजपा और आप के बीच मुकाबला था. इस उपचुनाव को पंजाब में छह महीने पुरानी कांग्रेस सरकार की लोकप्रियता के लिए मापदंड के रूप में देखा जा रहा था.

कांग्रेस उम्मीदवार सुनील जाखड़ ने पहले दावा किया था कि यह उपचुनाव मोदी सरकार पर जनमत संग्रह होगा. भाजपा ने इस सीट को वापस पाने के लिए पूरी ताकत झोंकी. गुरदासपुर लोकसभा सीट भाजपा का गढ़ रहा है.

‘भाजपा को भविष्य की असफलता भांप लेनी चाहिए’

गुरदासपुर लोकसभा उपचुनाव में भाजपा के प्रत्याशी को हराने के बाद कांग्रेस के नेता सुनील जाखड़ ने कहा कि भगवा पार्टी को अब भविष्य में मिलने वाली असफलताओं को भांप लेना चाहिए.

जाखड़ ने अपनी जीत के बाद कहा, भाजपा को अब भविष्य में मिलने वाली असफलताओं का अनुमान लगा लेना चाहिए. लोगों ने भाजपा को खारिज किया है और साथ ही अकाली उनके सहयोगी को भी आईना दिखाया है. उन्होंने कहा कि अकाली दल का सफाया छह महीने पहले ही हो गया था जब पंजाब विधानसभा चुनावों में उन्हें तीसरा स्थान मिला था.

एक सवाल के जवाब में जाखड़ ने कहा कि सुखबीर बादल और अकाली दल के अन्य नेता शुरू से ही कह रहे थे कि गुरदासपुर उपचुनाव, छह महीने पुरानी कांग्रेस सरकार पर एक जनमत संग्रह होगा. जाखड़ ने कहा अब, सुखबीर को अपने शब्दों पर अफसोस होगा. लोगों ने अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में फिर से भरोसा दिखाया है और साथ ही नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार के खिलाफ गुस्सा जाहिर किया है.

अमरिंदर ने जीत पर खुशी जताई

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने गुरदासपुर लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस की जीत पर खुशी व्यक्त करते हुए इसे भाजपा एवं उसकी सहयोगी शिअद की जनविरोधी नीतियों को पूरी तरह से खारिज करने वाला बताया और कहा कि यह जीत आप के राजनीतिक पतन को रेखांकित करती है.

अमरिंदर ने कहा कि गुरदासपुर के नतीजे ने एक बार फिर यह दिखा दिया है कि कांग्रेस पूरे देश में फिर से वापसी की कोशिश कर रही है.

मुख्यमंत्री ने कहा, कांग्रेस उम्मीदवार सुनील जाखड़ की प्रचंड जीत भ्रष्ट एवं अनैतिक भाजपा तथा शिअद के प्रति लोगों का पूर्ण मोहभंग दर्शाती है. उन्होंने कहा कि यह जीत राज्य में आम आदमी पार्टी के राजनीतिक पतन को भी रेखांकित करती है. उन्होंने कहा कि यह कांग्रेस एवं पार्टी की नीतियों तथा विकास के एजेंडा की जीत है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)