भारत

बिहार के नालंदा में एक व्यक्ति से पहले थूक चटवाया फिर चप्पलों से पीटा

कथित तौर पर मर्दों की ग़ैरमौजूदगी में घर में प्रवेश करने से 54 वर्षीय व्यक्ति को सरपंच और गांव के अन्य लोगों ने सुनाई सज़ा. आठ लोगों के ख़िलाफ़ एफआईआर.

पीड़ित महेश ठाकुर. (फोटो साभार: यूट्यूब)

पीड़ित महेश ठाकुर. (फोटो साभार: यूट्यूब)

एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें एक व्यक्ति से कथित तौर पर ज़मीन पर थूक कर चटवाया जा रहा है और चप्पल से पीटा जा रहा है. मीडिया में आई ख़बरों के मुताबिक, बिहार के नालंदा ज़िले के नूरसराय थाना क्षेत्र में आने वाले अजयपुर गांव में यह घटना घटित हुई है.

एनडीटीवी की ख़बर के अनुसार, पीड़ित महेश ठाकुर किसी काम से गांव के रहवासी सुरेंद्र यादव के घर में चले गए थे, जिस पर गांव के मुखिया दयानंद मांझी और अन्य लोग महेश से काफी नाराज़ हो गए.

आरोप है कि मंगलवार को महेश ठाकुर जिस वक़्त सुरेंद्र यादव के घर गए थे उस वक़्त घर में सिर्फ महिलाएं मौजूद थीं. बुधवार को गांव के मुखिया और सुरेंद्र यादव समेत दूसरे लोगों ने पंचायत बुलाकर सभी लोगों के सामने महेश से थूककर चटवाया और महिलाओं से चप्पल से पिटवाया.

हिंदुस्तान टाइम्स की ख़बर के अनुसार 54 वर्षीय महेश ठाकुर का कहना है कि उन्हें इस बात की जानकारी नहीं थी कि घर में सिर्फ महिलाएं ही मौजूद थीं.

पुलिस ने सरपंच समेत आठ लोगों के ख़िलाफ़ इस अमानवीय कृत्य के लिए मामला दर्ज कर लिया है. हालांकि अभी मामले में कोई गिरफ़्तारी नहीं हुई है.

हिंदुस्तान टाइम्स से बातचीत में नालंदा के डीएम एमएम त्यागराजन ने बताया कि बिहार शरीफ़ के एसडीओ सुधीर कुमार को गांव पहुंचकर मामले की रिपोर्ट तैयार करने को कहा गया है.

डीएम ने बताया कि पीड़ित ठाकुर ने घटना की पुष्टि कर दी है जिसके बाद मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं. दोषियों पर सख़्त कार्रवाई की जाएगी.

हिंदुस्तान टाइम्स से बातचीत में नालंदा के एसपी सुधीर कुमार पोडिका ने बताया कि उन्होंने नूरसराय के एसएचओ को मामले की जांच करने का निर्देश दे दिया है.

बता दें कि नालंदा, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का गृह ज़िला है.

  • hamaid

    How on Earth, India in modern times allow parallel constitution to have a say beside an established constitution?