भारत

योगी आदित्यनाथ को कथित पत्र लिखकर क़र्ज़दार किसान ने आत्महत्या की

ज़िला प्रशासन ने क़र्ज़ के कारण आत्महत्या से इंकार किया. नासिक में संदिग्ध कीटनाशक से महिला किसान की मौत.

Farmers Suicide Reuters

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

बांदा: उत्तर प्रदेश में बांदा ज़िले के कनवारा गांव में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम कथित सुसाइड नोट लिखकर शनिवार को एक किसान ने फांसी लगा ली.

ज़िलाधिकारी महेंद्र बहादुर सिंह ने बताया कि कनवारा गांव के किसान अनुज बाजपेयी (25) का शव उनके कमरे में फांसी पर लटका मिला.

सिंह ने बताया कि किसान के शव के पास मुख्यमंत्री को संबोधित कथित सुसाइड नोट बरामद हुआ है, जिसकी जांच कराई जा रही है.

उन्होंने बताया कि कुछ दिन पूर्व किसान के पिता को 68 हज़ार रुपये की क़र्ज़माफी का प्रमाण पत्र दिया गया था.

ज़िला प्रशासन ने स्पष्ट किया है कि बैंक या साहूकार से क़र्ज़ लेने की वजह से आत्महत्या की पुष्टि जांच में नहीं हुई है.

हालांकि ज़िलाधिकारी महेंद्र बहादुर सिंह की ओर से जारी एक विज्ञप्ति में बताया गया कि अनुज की मृत्यु की जांच करायी गई है. पिता द्वारा बैंक या साहूकार से क़र्ज़ लिए जाने के कारण अनुज के आत्महत्या करने की पुष्टि जांच में नहीं हुई है.

विज्ञप्ति में कहा गया कि मृत्यु के कारणों की स्पष्ट जानकारी के लिए शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है. पुलिस भी तथ्यों की जांच कर रही है.

इसमें कहा गया कि अनुज के पिता ने बैंक से जो 50 हज़ार रुपये का क़र्ज़ लिया था, वह उत्तर प्रदेश फसल ऋण योजना के तहत माफ किया जा चुका है. अनुज के पिता को हर महीने 25 किलो खाद्यान्न कम मूल्य पर नियम के तहत मिल रहा है.

विज्ञप्ति के अनुसार जांच में मृतक के पिता पर साहूकारी इत्यादि से ब्याज पर क़र्ज़ लिए जाने की पुष्टि नहीं हुई है और मृतक के पिता की आर्थिक स्थिति सामान्य है. उनके पास 1.362 हेक्टेयर कृषि भूमि है.

किसान के शव के पास मुख्यमंत्री को संबोधित एक कथित सुसाइड नोट बरामद हुआ था, जिसकी प्रशासन की ओर से जांच कराई गई. इस नोट की प्रति मीडिया को भी उपलब्ध कराई गई.

अनुज ने सुसाइड नोट में लिखा है कि वह और उसके पिता बैंक क़र्ज़ एवं साहूकारों के क़र्ज़ से काफी परेशान हैं. पिता का मानसिक संतुलन खराब हो गया है.

उसने कहा कि बैंक वाले और साहूकार उसके पिता को बहुत परेशान करते थे इसलिए वह आत्महत्या करने को मजबूर हो रहा है.

अपर पुलिस अधीक्षक एलबीके पाल ने बताया कि मृतक किसान के पास से बरामद सुसाइड नोट अपर जिलाधिकारी एडीएम के पास है. हम उसकी जांच कर रहे हैं.

संदिग्ध कीटनाशक की वजह से महिला किसान की मौत

नासिक: खेत में कीटनाशक छिड़कने के बाद अस्वस्थ होने की शिकायत करने वाली 55 वर्षीय एक महिला किसान की यहां के एक अस्पताल में मौत हो गई.

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मुसलगांव निवासी केशरबाई लक्ष्मण गायकवाड़ की बीते शुक्रवार को यहां एक मेडिकल कॉलेज अस्पताल में मौत हो गई.

उन्होंने बताया कि गत 17 अक्तूबर को अपने खेत में कीटनाशक छिड़कने के बाद महिला किसान ने बेचैनी और सांस लेने में तकलीफ की शिकायत की. उसे एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया.

अधिकारी ने बताया कि बाद में उन्हें मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले जाया गया. पोस्टमॉर्टम के बाद उसका शव परिजन को सौंप दिया गया. मामले में जांच जारी है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)