भारत

ओडिशा के किसान ने आत्महत्या की, सरकार ने 48 घंटे में रिपोर्ट मांगी

बीते सात दिन ओडिशा के बरगढ़ जिले में किसान आत्महत्या की यह तीसरी घटना है.

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

भुवनेश्वरओडिशा के बरगढ़ जिले में एक किसान ने फसल खराब होने के बाद बुधवार को कथित तौर पर आत्महत्या कर ली.

इसके बाद राज्य की बीजद सरकार ने फसल खराब होने के कारण की पड़ताल के लिए एक तकनीकी दल भेजा. बीते सात दिन में बारगढ़ जिले में किसान आत्महत्या की यह तीसरी घटना है.

किसान आत्महत्या की खबर मिलने के बाद राज्य के कृषि मंत्री दामोदर राउत ने उच्च स्तरीय बैठक ली और बारगढ़ जिला प्रशासन को इस घटना पर 48 घंटे के भीतर रिपोर्ट देने को कहा.

इस बैठक में नवीन पटनायक सरकार के वरिष्ठ अधिकारी और राज्य के मुख्य सचिव शामिल हुए. राउत ने संवाददाताओं से कहा, किसान की आत्महत्या की घटना दुर्भाग्यपूर्ण और दुखदायी है. मौके पर जांच के लिए कृषि विशेषज्ञों का एक दल भेजा गया है.

बरगढ़ जिले में कालापानी के किसान ब्रुंदा साहू के परिजनों ने बताया कि फसल में कीड़े लगने की समस्या हल नहीं हुई तो सोमवार रात उसने खेत में आग लगा दी.

बुधवार सुबह वह खेत पर पहुंचा जहां उसने कथित तौर पर जहर खा लिया. उसे जिला मुख्यालय के अस्पताल में ले जाया गया जहां उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया.

साहू के बेटे ने दावा किया कि उसके पिता ने खेती के लिए कर्ज लिया था. फसल खराब होने पर उन्होंने यह कदम उठाया.

उसने आरोप लगाया कि फसल में कीड़े लगने के बारे में जिला प्रशासन को सूचित किया गया था लेकिन सरकार ने कोई कदम नहीं उठाया.

इलाके के कुछ अन्य किसानों ने आरोप लगाया कि सरकारी एजेंसियों की ओर से मिले कीटनाशक घटिया किस्म के हैं जिसकी वजह से फसल खराब हो रही है.