भारत

योगी ने कहा, सपा-बसपा ने रोका विकास, अखिलेश बोले, भाजपा का काम सिर्फ़ नफ़रत फैलाना

अखिलेश का भाजपा पर आरोप, उनसे कोई उम्मीद नहीं कर सकते, वे सिर्फ़ लोगों का ध्यान बंटाने के लिए कभी झाड़ू उठा लेते हैं तो कभी मास्क पहन लेते हैं.

(फोटो: पीटीआई)

(फोटो: पीटीआई)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में नगर निकाय चुनावों को लेकर मचे घमासान में सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है. प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को पूर्ववर्ती सपा और बसपा सरकारों पर नगरों का विकास रोकने का आरोप लगाया.

दूसरी तरफ समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भगवा पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा से कोई उम्मीद नहीं की जा सकती क्योंकि उसका काम सिर्फ नफरत फैलाना है. वह सिर्फ लोगों का ध्यान बंटाने के लिए कभी झाड़ू उठा लेते हैं तो कभी मास्क पहन लेते हैं.

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी सत्तारूढ़ भाजपा पर जमकर निशाना साधा. अखिलेश ने संवाददाताओं से कहा, भाजपा से अब कोई उम्मीद नहीं कर सकते. उसका पहला काम यही है कि नफरत फैलाओ, झगड़ा लगाओ, दूसरों को अपमानित करो.

उन्होंने कहा, भाजपा दूसरों पर आरोप लगाती है लेकिन अब पूरे उत्तर प्रदेश में भाजपा का राज है. बड़े शहरों में सबसे ज्यादा मेयर भाजपा के हैं लेकिन पिछले दस पंद्रह साल में कूड़ा नहीं हटा.

उन्होंने कहा कि लोगों का ध्यान बंटाने के लिए कभी नया झाड़ू आ जाता है तो कभी दस्ताने और मास्क आ जाते हैं. अखिलेश ने कहा, कभी झाड़ू लगाना और कभी जेब से अफीम की पुड़िया निकाल देना. इसके अलावा मैं नहीं समझता कि भाजपा की कोई दिशा है.

प्रदेश की योगी सरकार की आलोचना करते हुए उन्होंने कहा कि आलू किसानों को कोई पूछने वाला नहीं है. गन्ना किसानों के बकाये का पूरा भुगतान नहीं हो पाया है. ऐसे में इस सरकार से क्या उम्मीद की जाए.

अखिलेश ने कहा कि सपा सरकार ने 23 महीने में एक्सप्रेस-वे बनाकर तैयार कर दिया था. अब मौजूदा सरकार की जिम्मेदारी है कि वह पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का निर्माण शीघ्रता से कराए.

उन्होंने कहा, यह सरकार की जिम्मेदारी है. केंद्र से पैसा मिल जाएगा. नीति आयोग भी सहयोग कर रहा है… भाजपा के लोग कह रहे थे कि हम बनारस को जोड़ देंगे. अयोध्या को जोड़ना चाहते थे लेकिन कम से कम शुरूआत तो करें.

सपा प्रमुख ने कहा कि एक्सप्रेस-वे बनेगा तो प्रदेश को लाभ होगा. मंडी बनेगी तो किसानों को सही दाम मिलेगा. अमूल और पराग जैसी दूध की डेयरियां खुलेंगी तो ग्रामीण अर्थव्यवस्था अच्छी होगी. लैपटॉप बंटेंगे तो डिजिटल भारत की दिशा में हम आगे बढेंगे.

बसपा के साथ गठबंधन के सवाल पर अखिलेश ने कहा कि हम सभी प्रयास कर रहे हैं कि गठबंधन हो और कोई रास्ता निकले. हमारा रिश्ता किसी से खराब नहीं है. हम रिश्ता ठीक करने में सबसे आगे रहते हैं.
कानून व्यवस्था के प्रश्न पर अखिलेश ने कहा कि पूरे प्रदेश की जनता जानती है कि कानून व्यवस्था के मामले में भाजपा सरकार असफल हो चुकी है.

मुख्यमंत्री योगी ने नगरीय निकाय चुनाव के लिए भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में गाजीपुर में आयोजित जनसभा में कहा कि पिछली बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी की सरकारों ने नगरों का विकास एकदम रोक दिया था. उन्होंने गाजीपुर नगर पालिका का उदाहरण देते कहा कि सपा के लोगों ने यहां के पालिका अध्यक्ष को काम ही नहीं करने दिया और काम में लगातार अड़ंगा लगाते रहे.

मुख्यमंत्री ने जनता का आह्वान किया कि वह केंद्र तथा उत्तर प्रदेश की तरह नगरों में भी भाजपा की सरकार बनाएं जिससे शहरों का विकास रफ्तार पकड़ सके.

योगी ने आरोप लगाया कि किसान पिछले 15 सालों से तबाह था. प्रदेश में उनकी सरकार ने आते ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विकास नीति का अनुसरण करते हुए किसानों का कर्ज माफ किया. अब किसानों की आय दोगुनी करने की योजना को पूरा किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि भूमाफियाओं के कब्जे की जमीन को मुक्त कराकर उसे गरीबों में बांटा जाएगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री की योजना के अनुसार सभी का विकास किया जाएगा और तुष्टिकरण की नीति का बहिष्कार होगा. उनकी सरकार बिना किसी भेदभाव के काम कर रही है.

योगी ने कहा कि प्रदेश की पिछली सपा सरकार के शासनकाल में नौकरी देने के नाम पर इतना भ्रष्टाचार किया गया कि उच्च न्यायालय और उच्चतम न्यायालय उन नियुक्तियों पर रोक लगा रहा है. मौजूदा सरकार पूरी पारदर्शिता के साथ नौजवानों को नौकरी दे रही है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)