भारत

अदालत की अवमानना के लिए आईएफएफआई पर मुक़दमा दायर करेंगे: एस दुर्गा के निर्देशक

एस दुर्गा के निर्देशक सनल कुमार शशिधरन ने कहा कि अगर कोर्ट के आदेश के बावजूद फिल्म को समारोह में नहीं दिखाया जा रहा, तो यह हमारी नहीं, बल्कि एक देश और व्यवस्था की विफलता है.

फिल्म एस. दुर्गा के निर्देशक सनल कुमार शशिधरन और फिल्म का पोस्टर. (फोटो साभार: सनल कुमार शशिधरन/फेसबुक)

फिल्म एस. दुर्गा के निर्देशक सनल कुमार शशिधरन और फिल्म का पोस्टर. (फोटो साभार: सनल कुमार शशिधरन/फेसबुक)

पणजी: मलयालम फिल्म एस दुर्गा के निर्देशक सनल कुमार शशिधरन ने बुधवार को कहा कि वह अदालत की अवमानना के लिए अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह (आईएफएफआई) पर मुकदमा दायर करने जा रहे हैं.

उन्होंने दावा किया कि केरल उच्च न्यायालय के आईएफएफआई में फिल्म की स्क्रीनिंग का फैसला करने के बावजूद आईएफएफआई इससे बच रहा है.

ज्ञात हो कि केरल उच्च न्यायालय ने मंगलवार को सूचना और प्रसारण मंत्रालय को आदेश दिया था कि आईएफएफआई के आयोजक 48वें भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्मोत्सव में एस दुर्गा की स्क्रीनिंग करें. इससे पहले मंत्रालय के आदेश पर फिल्म को महोत्सव में भारतीय पैनोरमा खंड से हटा दिया गया था.

20 नवंबर से शुरू हुआ फिल्मोत्सव 28 नवंबर को समाप्त होगा.

इस समय एक फिल्मोत्सव के सिलसिले में आस्ट्रेलिया के ब्रिस्बेन गए सनल ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया, ‘हम कल अदालत की अवमानना का मामला दायर करेंगे.’

निर्देशक ने सोशल मीडिया पर आईएफएफआई तथा मंत्रालय पर असंवैधानिक तरीके से काम करने का आरोप लगाया.

उन्होंने लिखा, ‘आईएफएफआई के निर्देशक माननीय अदालत के आदेश को स्वीकार करने से बच रहे हैं. सरकार खुलेआम न्यायिक व्यवस्था को भी चुनौती दे रही है. मंत्रालय पूरी तरह से असंवैधानिक तरीके से काम कर रहा है. यह मंत्रालय किस दिशा में जा रहा है.’

उन्होंने एक अन्य पोस्ट में लिखा कि अगर कोर्ट के आदेश के बावजूद फिल्म एस दुर्गा को समारोह में नहीं दिखाया जा रहा, तो ये मेरी और इसके लिए लड़ने वालों की नहीं, बल्कि एक देश और व्यवस्था की विफलता है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)