भारत

रोज़गार और निवेश पर झूठे आंकड़े पेश कर रही है भाजपा सरकार: सचिन पायलट

राजस्थान कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट ने वसुंधरा राजे सरकार पर हमला बोलते हुए कहा, 5 साल में 15 लाख रोज़गार के वादे में से अब तक सिर्फ़ 89 हजार सीधी भर्तियां की गईं.

राजस्थान कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट (फोटो: फेसबुक)

राजस्थान कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट (फोटो: फेसबुक)

जयपुर: राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने भाजपा सरकार पर युवाओं को रोजगार दिलाने के नाम पर झूठे आंकड़े पेश कर युवाओं के सपनों पर पानी फेरने का आरोप लगाया है.

पायलट ने सरकार से निवेश और रोजगार के संबंध में श्वेत पत्र जारी करने की मांग करते हुए भाजपा सरकार और उनके मंत्रियों पर गत चार सालों में भ्रमित करने वाले आंकड़े जारी कर युवाओं और बेरोजगारों को छलने की कड़े शब्दों में निंदा की है.

एक विज्ञप्ति में उन्होंने कहा कि श्रम विभाग, पंचायती राज सहित अन्य विभागों के मंत्री नौकरियों के नाम पर खोखले दावे कर रहे हैं. भाजपा ने सुराज संकल्प पत्र में 5 वर्षों में 15 लाख युवाओं को रोजगार देने का दावा किया था, परंतु पिछले चार वर्षों में लगभग 89 हजार के करीब सीधी भर्तियां की गई हैं.

उन्होंने आगे कहा कि कुछ समय मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे जब भीलवाड़ा के दौरे पर थीं तो एक बार उन्होंने 9 लाख नौकरियां देने का दावा किया था और उसके कुछ दिनों बाद ही 11 लाख नौकरियां देने का दावा कर डाला.

पायलट ने कहा कि भाजपा सरकार ने रिसर्जेंट राजस्थान के दौरान खनन क्षेत्र में 46 हजार करोड़ रुपये के करार करने का दावा किया था और यह भी कहा था कि इनके माध्यम से लाखों रोजगारों का सृजन होगा जबकि सच्चाई यह है कि कुल 46 हजार करोड़ रुपये के 17 एमओयू में से मात्र 9.56 प्रतिशत का ही निवेश हुआ है.

पायलट ने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार ने आर्थिक व सामाजिक मोर्चे पर जनता के साथ अन्याय किया है और भ्रमित करने वाले आंकड़े जारी कर युवाओं व बेरोजगारों को छला है.