भारत

कोयंबटूर में टैंक साफ करते समय दम घुटने से तीन लोगों की मौत

मृतकों में से एक एमबीए कर रहा था. मुक़दमा दर्ज होने के बाद आभूषण निर्माण इकाई का मालिक फ़रार.

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

कोयंबटूर: तमिलनाडु के कोयंबटूर शहर में आभूषणों की एक वर्कशॉप में रसायन एवं सोने के बुरादे से भरे एक टैंक को साफ करते समय तीन लोगों की दम घुटने से मौत हो गई.

मृतकों की पहचान आर. गौरीशंकर (20), आर. ईझुमलाई (23) और पी. सूर्यकुमार (27) के रूप में हुई.

पुलिस सूत्रों ने बताया कि कोयंबटूर के आरएसपुरम के फादर रैंडी स्ट्रीट पर स्थित वर्कशॉप के मालिक रविशंकर ने एझुमलाई और गौरीशंकर से टैंक साफ करने को कहा था.

टैंक के अंदर जाते ही दुर्गंध के चलते उन्होंने मदद के लिए आवाज़ लगाई. इसके बाद सुपरवाइज़र सूर्यकुमार तुरंत उनकी मदद करने मौके पर पहुंचे लेकिन टैंक की दुर्गंध के कारण वह बेहोश हो गए.

पुलिस ने बताया कि दोनों कर्मचारियों एझुमलाई और गौरीशंकर की दम घुटने से मौके पर ही मौत हो गई. वहीं, सूर्यकुमार को तुरंत सरकारी अस्पताल ले जाया गया जिसकी वहां मौत हो गई. पुलिस ने बताया कि रविशंकर के ख़िलाफ़ धारा 304ए के तहत मामला दर्ज किया गया है. वह फ़रार है.

द हिंदू की रिपोर्ट के अनुसार, तीनों मृतक आभूषण निर्माण की एक दूसरी फैक्ट्री में बतौर सुरक्षा और देखरेख स्टाफ के रूप में काम कर रहे थे.

आभूषण निर्माण इकाई में गौरीशंकर पिछले चार सालों से काम कर रहा था. सूर्यकुमार बीबीए की डिग्री हासिल करने के बाद एमबीए कर रहे थे. साथ ही वह इस निर्माण इकाई में बतौर सुरक्षा पर्यवेक्षक के तौर पर काम कर रहे थे. वहीं कृष्णागिरि के उथानगरई के ईझुमलाई हाउसकीपिंग स्टाफ थे.

गुरुवार रात 10 हज़ार लीटर के टैंक साफ करने के लिए उन्हें बुलाया गया था. यह टैंक तीन मंज़िला इमारत के बेसमेंट में बना था. इस आभूषण निर्माण इकाई के मालिक रविशंकर ने टैंक सफाई करने के बदले उन्हें सात हज़ार रुपये देने के लिए कहा था.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

Comments