भारत

कमला मिल परिसर के पब में लगी आग, 14 लोगों की मौत

मृतकों में 11 महिलाएं शामिल. मध्य मुंबई में देर रात हुए हादसे में 21 लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं.

Mumbai: Rescue team carry out operation after a fire broke out in Mumbai on Friday. At least 14 people were killed and as many injured after a major fire in Kamala Mills Compound in Lower Parel. PTI Photo (PTI12_29_2017_000027B)

बृहस्पतिवार देर रात मध्य मुंबई के एक पब में लगी आग पर काबू पाने की कोशिश में लगे दमकलकर्मी. (फोटो: पीटीआई)

मुंबई: मध्य मुंबई की एक इमारत में स्थित पब में जन्मदिन के उत्सव के दौरान बृहस्पतिवार को आधी रात के बाद आग लगने की घटना में 11 महिलाओं समेत 14 लोगों की मौत हो गई, जिससे जश्न का पूरा माहौल मातम में तब्दील हो गया. अधिकतर लोगों की मौत दम घुटने के कारण हुई.

अधिकारी ने बताया कि लोअर परेल इलाके में स्थित एक व्यावसायिक परिसर की तीसरी मंज़िल पर एक होटल की छत पर आग लग गई. घटना में 21 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए.

बीएमसी के आपदा प्रबंधन इकाई के अधिकारियों ने बताया कि घायलों को केईएम और सियोन अस्पतालों में भर्ती कराया गया है. उन्होंने बताया कि कई दमकल गाड़ियां, पानी के टैंकर, एम्बुलेंस और पुलिस दस्ते बचाव कार्य के लिए मौके पर पहुंच गए हैं.

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया, शहर के व्यावसायिक इलाके सेनापति बापट मार्ग पर स्थित कमला मिल्स परिसर में ट्रेड हाउस बिल्डिंग की तीसरी मंज़िल पर बने ‘वन एबव’ पब में बृहस्पतिवार रात करीब 12:30 बजे यह हादसा हुआ.

यह इलाका मुंबई का महत्वपूर्ण व्यावसायिक क्षेत्र है. इंडिया टुडे वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार,कमला मिल्स परिसर में बने इस रूफटॉप रेस्टोरेंट में एक 29 वर्षीय खुशबू मेहता के जन्मदिन का जश्न मनाया जा रहा था. इस हादसे में वह महिला भी नहीं बच सकीं.

Mumbai: Rescue team carry an injured person after a fire broke out in a building in Mumbai on Friday. At least 14 people were killed and as many injured after a major fire in Kamala Mills Compound in Lower Parel. PTI Photo (PTI12_29_2017_000029B)

मुंबई के पब में हुए हादसे में घायल लोगों को अस्पताल भेजा गया. (फोटो: पीटीआई)

पुलिस अधिकारी ने बताया कि दमकल विभाग की टीमें एवं पुलिस मौके पर पहुंची और पब के अंदर फंसे लोगों को बाहर निकालने के लिए अभियान शुरू किया.

उन्होंने बताया, दमकल विभाग के कर्मचारियों ने होटल के अंदर फंसे कम से कम 35 घायलों को बाहर निकाला. उन्हें उपचार के लिए अस्पताल ले भेज दिया गया. आग लगने के कारणों का अभी तक पता नहीं चला है.

उन्होंने बताया, उपचार के दौरान 11 महिलाओं समेत 14 लोगों ने दम तोड़ दिया. अधिकतर पीड़ितों की मौत दम घुटने के कारण हुई थी. उन्होंने बताया कि 21 अन्य लोग गंभीर रूप से झुलसे हैं.

पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की संबंधित धाराओं के तहत हृतेष सांघवी, जिगर सांघवी और पब चलाने वाले सी. ग्रेड हॉस्पिटैलिटी के अभिजीत मनका के ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया है. पुलिस ने आरोपियों में से दो को हिरासत में ले लिया है.

इनके ख़िलाफ़ धारा 337 दूसरों के जीवन और व्यक्तिगत सुरक्षा को ख़तरे में डालना और 338 दूसरों के जीवन और व्यक्तिगत सुरक्षा को ख़तरे में डालकर गंभीर चोट पहुंचाना के तहत मामला दर्ज किया गया है.

गौरतलब है कि इस भवन में समाचार चैनलों टाइम्स नाउ, ईटी नाउ और टीवी9 मराठी सहित विभिन्न मीडिया संस्थानों के कार्यालय स्थित हैं. ऐसे आरोप भी लग रहे हैं कि स्थानीय निकाय ने भवन निर्माण में अनियमितताओं और परिसर में अग्निशमन नियमों के उल्लंघन पर कोई ध्यान नहीं दिया था.

 

Mumbai: A team of police inspect the debris after a fire broke out in Mumbai on Friday. At least 14 people were killed and as many injured after a major fire in Kamala Mills Compound in Lower Parel. PTI Photo (PTI12_29_2017_000032B)

मुंबई के पब में हुए हादसे की जांच पड़ताल करते पुलिसकर्मी. (फोटो: पीटीआई)

इस बीच महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने आग लगने की घटना पर दुख व्यक्त किया है.

फडणवीस ने ट्वीट किया, मुंबई के कमला मिल्स में आग लगने की दुर्भाग्यपूर्ण घटना के बारे सुनकर व्यथित हूं. घटना में कई लोगों की जान चली गई. मेरी संवेदनाएं मृतकों के परिजनों के साथ हैं और घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं. बीएमसी आयुक्त को इस संबंध में गहन जांच का निर्देश देता हूं.

एक अन्य ट्वीट में मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने बृहन्मुंबई महानगरपालिका आयुक्त अजय मेहता को दोषी अधिकारियों के ख़िलाफ़ तत्काल कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया है.

भाजपा सांसद किरीट सोमैया ने ट्वीट किया, मुंबई के कमला मिल्स परिसर स्थित पब में आग लगने की घटना को लेकर मैंने मुख्यमंत्री एवं बीएमसी आयुक्त से अनुरोध किया है कि वे देखें कि ऐसे पब, हुक्का पार्लर एवं मुंबई के फार्सन मार्टावर्कशॉप्स में ऐसे हादसों से बचने के पुख़्ता इंतज़ाम हैं या नहीं. दो सप्ताह पहले कुछ इसी तरह की घटना में फार्सन वर्कशॉप साकीनाका में आग लगने के कारण कई लोग मारे गए थे.

उन्होंने कहा, मैं समझाता हूं कि कमला मिल्स में ऐसे कई प्रतिष्ठान अवैध हैं, इनमें से कुछ को बाद में नियमित कर दिया गया और जहां आग लगने की घटना हुई वह ग़ैरक़ानूनी तरीके से बना था.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस हादसे पर गहरा दुख व्यक्त किया. प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया, मुंबई में आग लगने की घटना से दुखी हूं. दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं शोकसंतप्त परिजनों के साथ हैं. मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)