भारत

कुछ नालायक नेताओं ने दाढ़ीवालों को यहां रोक दिया इसलिए हम मुसीबत में हैं: भाजपा विधायक

मुज़फ्फरनगर में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए खतौली से भाजपा विधायक विक्रम सैनी ने कहा कि देश का नाम हिंदुस्तान है यानी हिंदुओं का देश.

उत्तर प्रदेश के खतौली से भाजपा विधायक विक्रम सैनी (फोटो साभार: एएनआई)

उत्तर प्रदेश के खतौली से भाजपा विधायक विक्रम सैनी (फोटो साभार: एएनआई)

लगातार मुस्लिमों को लेकर उटपटांग बयान देने वाले भाजपा नेताओं की फेहरिस्त में एक और नाम जुड़ गया है. राजस्थान के अलवर से भाजपा विधायक बनवारी लाल सिंघल के मुसलमानों के बारे में विवादित बयान देने के बाद अब उत्तर प्रदेश के खतौली से भाजपा विधायक विक्रम सैनी ने मुसलमानों पर निशाना साधा है.

एएनआई की ख़बर के अनुसार मुजफ्फरनगर में एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा, ‘मैं कट्टर हिंदूवादी हूं. हमारे देश का नाम हिंदुस्तान है, अर्थात ये हिंदुओं का देश है. कुछ नालायक नेताओं ने इन दाढ़ी वालों को यहां रोक दिया था, तो आज हम मुसीबत में हैं. ये भी अगर चले जाते तो ये सारी धन-दौलत और ज़मीनें हम लोगों की होतीं.’

सैनी ने दबे शब्दों में पिछली राज्य सरकार पर तुष्टिकरण का आरोप लगाते हुए कहा, ‘आपने सत्ता पहले भी देखी थी, अब भी देख रहे हैं. आज बिना जाति भेद के समान रूप से लाभ मिलता है. अब से पहले जितनी लंबी दाढ़ी होती थी, उतना लंबा चेक.’

सैनी ने यह बात मुज़फ्फरनगर जिले में कही जो सांप्रदायिक रूप से संवेदनशील माना जाता है. मालूम हो कि साल 2013 में मुजफ्फरनगर में हुई हिंसा के समय विक्रम सैनी को राष्ट्रीय सुरक्षा क़ानून (रासुका) के तहत गिरफ्तार किया गया था. उन पर भड़काऊ भाषण और दंगों का आरोप है.

यह पहली बार नहीं है कि सैनी किसी बयान को लेकर विवादों में आये हैं. बीते साल योगी सरकार के सत्ता में आते ही अवैध बूचड़खानों पर कार्रवाई करने के मसले पर उन्होंने कहा था, ‘जिन लोगों को वंदे मातरम और भारत माता की जय कहने में दिक्कत है और जो लोग गाय को अपनी माता नहीं मानते हैं और उनका वध करते हैं उनके हाथ-पैर तोड़ने का मैंने वायदा किया था. हम अपना वायदा पूरा करने के लिए तैयार हैं. हमारे पास युवा कार्यकर्ताओं की टीम है जो ऐसे व्यक्तियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई करेगी.’

पत्रिका की ख़बर के अनुसार नए साल पर सैनी समाज के प्रतिभा सम्मान समारोह में जब विक्रम सैनी ने यह बयान दिया तब मंच पर उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री धर्म सिंह सैनी भी मंच पर मौजूद थे.

विक्रम सैनी ने न केवल मुसलमानों बल्कि ईसाईयों पर भी टिप्पणी की. उन्होंने नए साल के जश्न पर कहा कि यह ईसाईयों का त्योहार है. जो लोग सुबह से मुझे बधाई देने के लिए फोन कर रहे हैं, उन्हें भी मैंने यही बात समझाई है.

Comments