राजनीति

ख़ुद को आंबेडकर का भक्त बताने वाले मोदी भीमा-कोरेगांव हिंसा पर चुप क्‍यों हैं: ​मेवाणी

गुजरात से विधायक जिग्नेश मेवाणी ने दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर केंद्र सरकार पर बोला हमला. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पूछे कई सवाल.

जिग्नेश मेवाणी. (फोटो: पीटीआई)

जिग्नेश मेवाणी. (फोटो: पीटीआई)

दलित नेता और गुजरात से विधायक जिग्‍नेश मेवाणी ने दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर प्रधानमंत्री मोदी पर हमला बोला है. जिग्नेश मेवाणी ने पुणे में भीमा-कोरेगांव कार्यक्रम के दौरान हुई हिंसा का जिक्र करते हुए कहा कि पीएम मोदी इस मामले में चुप्पी तोड़ें.

मेवाणी ने कहा कि खुद को बाबा साहब अंबेडकर का भक्‍त बताने वाले पीएम मोदी भीमा-कोरेगांव हिंसा मामले पर चुप क्‍यों हैं. उन्‍होंने कहा कि अगर ऐसे ही चलता रहा तो 2019 में मोदी जी को मजा चखाएंगे. 9 जनवरी को दिल्‍ली में सामाजिक न्याय के लिए युवा हुंकार रैली करेंगे.

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मेवाणी ने यह भी अपील की कि देश से जाति व्यवस्था खत्म होनी चाहिए. उनका कहना था कि जब उन्होंने कुछ विवादित बात बोली नहीं तो भड़काऊ भाषण का केस क्यों दर्ज हुआ. मेवाणी ने यह भी कहा कि केंद्र सरकार उनसे डर गई है, इसलिए कार्रवाई कराई जा रही है.

जिग्‍नेश मेवाणी ने कहा कि रोहित वेमुला की हत्या, सहारनपुर घटना और ऊना की घटना पर पीएम मोदी जी चुप रहते हैं. वक्त आ गया है कि केंद्र की सरकार अपनी पोजीशन स्पष्ट करें.

मेवाणी ने कहा कि आप लाखों दलितों को गुस्‍सा कर रहे हैं. मैं खुद पेशे से वकील हूं और मैंने कानून के दायरे में रह कर ही काम किया है और मेरे ऊपर मुकद्दमा दर्ज होने से किसी की भी भावनाएं आहत हुई हैं तो मैं अपील करता हूं कि लोग सड़कों पर न उतरें.