भारत

चार साल पहले सोनिया ने किया शिलान्यास, अब मोदी करेंगे, गहलोत बोले- ग़लत परंपरा

कांग्रेस नेता गहलोत ने कहा, चुनावी लाभ पाने के लिए रिफाइनरी का पुन: शिलान्यास करना ग़लत परंपरा की शुरुआत है.

सितंबर, 2013 में यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी राजस्थान के पचपदरा में रिफाइनरी का शिलान्यास करती हुई. (फाइल फोटो: पीटीआई)

सितंबर, 2013 में यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी राजस्थान के पचपदरा में रिफाइनरी का शिलान्यास करती हुई. (फाइल फोटो: पीटीआई)

जयपुर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बाड़मेर जिले के पचपदरा में प्रस्तावित रिफाइनरी का दोबारा शिलान्यास नहीं करने का अनुरोध करते हुए राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार को कहा कि चुनावी लाभ पाने के लिए दोबारा शिलान्यास करवाने की परंपरा गलत है.

गहलोत ने शनिवार को यहां संवाददाताओं से बातचीत करते हुए कहा कि रिफाइनरी परियोजना का शिलान्यास संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी चार साल पहले ही कर चुकी हैं और भाजपा सरकार इस परियोजना का दोबारा शिलान्यास कराने के लिए प्रधानमंत्री को बुला रही है. यह दुर्भाग्यपूर्ण है.

उन्होंने इस संबंध में प्रधानमंत्री को लिखे दो पत्रों का हवाला देते हुए कहा कि मुझे उम्मीद थी कि प्रधानमंत्री परियोजना का दोबारा शिलान्यास करने के लिए नहीं आएंगे लेकिन जब उनका आने का कार्यक्रम तय होने पर मुझे धक्का लगा.

उन्होंने हिंदुत्व के मुद्दे पर भाजपा पर प्रहार करते हुए कहा कि पहले हुए शिलान्यास के दौरान भी मंत्र पढ़े गए अब फिर से वहीं मंत्र पढ़े जाएंगे, क्या यह ठीक है? मेरा प्रधानमंत्री से अनुरोध है कि उन्हें इस परियोजना का शिलान्यास करने के लिए नहीं आना चाहिए.

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव गहलोत ने कहा कि राज्य की भाजपा सरकार ने केवल इस परियोजना को चार साल तक इस लिए लटकाए रखा गया ताकि कांग्रेस को श्रेय नहीं मिले.

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार जनता को गुमराह कर रही है, विकास के रास्ते में बाधा पैदा की है जनता इस पाप के लिए भाजपा सरकार को कभी माफ नहीं करेगी.

गुजरात के प्रभारी गहलोत ने कहा कि गुजरात विधानसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनावी दौरे के दौरान विकास के मुददे पर बात नहीं की. उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के मंदिर जाने पर भाजपा की आपत्ति पर पलटवार करते हुए कहा कि क्या भाजपा और आरएसएस में जो है उनको ही हिंदू मानती है.

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार केंद्रीय जांच एजेंसियों का दुरुप्रयोग कर व्यापारियों, लोगों अधिकारियों को धमका रही है. भाजपा पर आरोप लगते हैं तो जवाब नहीं देना उनकी आदत बन चुकी है लेकिन अब जनता ही जवाब देगी.

गहलोत ने तीन तलाक मुद्दे पर कहा कि कांग्रेस हमेशा से महिलाओं के हितों की पक्षधर रही है और है. पार्टी का दृष्टिकोण था कि प्रस्तावित विधेयक में जो कमियां हैं उसे पूरी कर दे या विधेयक को सेलेक्ट कमेटी को भेज दे.

उन्होंने कहा, भाजपा महिलाओं के नाम पर राजनीति कर रही है. उन्होंने कहा कि प्रदेश के तीन उपचुनाव से ही अगले साल होने वाले प्रदेश के विधान सभा चुनाव के लिए कांग्रेस का चुनाव अभियान आरंभ हो जाएगा.

Comments