भारत

उत्तर प्रदेश में ठंड से 70 से अधिक मौतें, योगी को कर्नाटक की चिंता

प्रदेश भर से ठंड से हो रही मौतों की ख़बर के बीच कर्नाटक पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बोले, कांग्रेस पार्टी देश के लिए एक बोझ… एक समस्या बन गई है.

बेंगलुरु में भाजपा की परिवर्तन रैली में रविवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फोटो: पीटीआई)

बेंगलुरु में भाजपा की परिवर्तन रैली में रविवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फोटो: पीटीआई)

मुज़फ़्फ़रनगर/बेंगलुरु: उत्तर प्रदेश के मुज़फ़्फ़रनगर और शामली ज़िलों में भीषण शीतलहर की वजह से दो लोगों के मरने की खबर है. प्रशासन की तरफ से यह जानकारी दी गई. इसके पहले पांच जनवरी को आई खबर के मुताबिक, दोनों जिलों में पांच लोगों की ठंड से मौत हो गई थी. दूसरी तरफ, प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ चुनावी राज्य कर्नाटक का दौरा कर रहे हैं. रविवार को कर्नाटक पहुंचे योगी आदित्यनाथ ने आरोप लगाया कि कर्नाटक की कांग्रेस सरकार भ्रष्टाचार, विभाजनकारी राजनीति और विकास विरोधी नीतियों के कारण राज्य को पांच वर्ष पीछे ले गई है.

अंग्रेज़ी वेबसाइट फ़र्स्टपोस्ट में 6 जनवरी को छपी खबर के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में ठंड के चलते 70 बेघर लोगों की मौत हो गई है. ज्यादातर मृतक बेघर और गरीब तबके के हैं और रैन बसेरे आदि न होने के चलते यह मौतें हुई हैं.

खबर में कहा गया है सूचना निदेशक अनुज झा वरिष्ठ अधिकारियों ने इस संबंध में कोई जवाब नहीं दिया है. पूर्वांचल क्षेत्र से 22 मौतों की खबर है. इसके अलावा ब्रज और बरेली डिवीजन से तीन-तीन मौतों की खबर है. इसके अलावा इलाहाबाद डिवीजन में 11 और बुंदेलखंड में 28 मौतें हुई हैं.

मुज़फ़्फ़रनगर जिला मुख्यालय द्वारा जारी एक रिपोर्ट में कहा गया कि वाजिदपुर गांव में 42 वर्षीय प्रीतम सिंह ठंड की वजह से रविवार को अपने घर में गिर गए. उन्हें अस्पताल ले जाया गया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया.

इलाहाबाद रेलवे स्टेशन पर शनिवार को ट्रेन के इंतजार में ख़ुद को बचाते यात्री. (फोटो: पीटीआई)

इलाहाबाद रेलवे स्टेशन पर शनिवार को ट्रेन के इंतजार में ख़ुद को बचाते यात्री. (फोटो: पीटीआई)

एक अन्य घटना में रविवार शाम शामली जिले के कांधला कस्बे में खराब मौसम के चलते प्रेम लता (65) की मौत हो गई. ठंड के हालात को देखते हुए मुज़फ़्फ़रनगर और शामली में जिला प्रशासन ने स्कूलों को नौ जनवरी तक बंद रखने का आदेश दिया है.

इससे पहले पांच जनवरी को भी दोनों जिलों में ठंड की वजह से पांच लोगों की मौत हो गई थी. मौसम विभाग ने कल कुछ इलाकों में घने से बेहद घने कोहरे का अनुमान व्यक्त किया था.

मुज़फ़्फ़रनगर जिला मुख्यालय की रिपोर्ट के अनुसार ठंड से मीरनपुर शहर में 70 वर्षीय खेराती की पांच जनवरी को मौत हो गई. वहीं जनसथ शहर में 40 वर्षीय कुलदीप की ठंड से मौत हो गई. 4 जनवरी की रात भीषण ठंड के कारण 50 वर्षीय मजदूर बुध सिंह सैनी की बिहारीगढ़ गांव में मौत हो गई.

रिपोर्ट के अनुसार पापन को शामली रेलवे स्टेशन के पास ठंड से ठिठुरता पाया गया. उसे अस्पताल ले जाया गया जहां पांच जनवरी को उसकी मौत हो गई.

उत्तर प्रदेश के मुज़फ़्फ़रनगर में इस सप्ताह कई दिन सबसे कम तापमान दर्ज किया गया. गुरुवार को तापमान 3.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था.

कांग्रेस सरकार कर्नाटक को पांच वर्ष पीछे ले गई: योगी

दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को बेंगलुरु में आरोप लगाया कि कर्नाटक सरकार भ्रष्टाचार, विभाजनकारी राजनीति और विकास विरोधी नीतियों के कारण राज्य को पांच वर्ष पीछे ले गई है.

उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य में विधानसभा चुनाव नजदीक आते ही कांग्रेस जाति के आधार पर समाज को बांटने पर तुली है. योगी ने दावा किया, कांग्रेस पार्टी एक बोझ… देश के लिए एक समस्या बन गई है.

योगी ने एक जनसभा में दावा किया, भ्रष्टाचार, उसकी विभाजनकारी राजनीति और उसकी विकास विरोधी नीतियों के कारण, कर्नाटक राज्य पांच वर्ष पीछे चला गया है. भ्रष्ट कांग्रेस, कर्नाटक का इस्तेमाल एक एटीएम के रूप में कर रही है.

योगी ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया पर निशाना साधते हुए कहा कि अब वह केवल अपनी हिंदू जड़ों को याद कर रहे हैं. उन्होंने दावा किया, सिद्धारमैया का खुद को एक हिंदू कहना ठीक वैसे ही है जैसे गुजरात चुनाव के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का मंदिरों में जाना.

उन्होंने कहा कि हालांकि खुद को एक हिंदू कहना तब तक उपयुक्त नहीं है जब तक वह सिद्धारमैया बीफ खाने का समर्थन करते रहेंगे. उन्होंने कहा, कर्नाटक में जब भाजपा सरकार थी तो उसने एक गोवध विरोधी कानून पारित किया था लेकिन कांग्रेस ने इसे रद्द कर दिया.

योगी ने राज्य में बिगड़ती कानून एवं व्यवस्था की स्थिति के लिए सिद्धारमैया पर निशाना साधा और दावा किया कि पांच वर्षों में आरएसएस या संघ परिवार से संबद्ध 22 लोगों की हत्या हुई है. उन्होंने दावा किया कि इसके विपरीत उत्तर प्रदेश में जब से उन्होंने मुख्यमंत्री का पद संभाला है तब से सांप्रदायिक हिंसा की कोई घटना नहीं हुई है.

उत्तर प्रदेश में ठंड का प्रकोप जारी, बहराइच सबसे ठंडा

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ समेत कई जिले जबरदस्त ठंड की चपेट में हैं. राजधानी लखनऊ का रविवार का तापमान 2 प्वाइंट 6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया जो कि सामान्य से पांच डिग्री कम है. इसके बाद जिला प्रशासन ने 13 जनवरी तक स्कूल सुबह 10 बजे से खोलने का आदेश दिया.

मौसम विभाग के अनुसार लखनऊ का अधिकतम तापमान 19 प्वाइंट 3 डिग्री रिकार्ड किया गया जो कि सामान्य से दो डिग्री कम है. विभाग के अनुसार प्रदेश के कुछ इलाकों में आधी रात के बाद से दोपहर तक घना कोहरा रहेगा तथा कुछ इलाकों में शीतलहर चलने की संभावना है.

मौसम विभाग के अनुसार राज्य में सबसे ठंडा जिला बहराइच रहा जहां न्यून्तम तापमान 2 प्वाइंट 2 डिग्री रहा. रायबरेली का फुरसतगंज 2 प्वाइंट 4, बस्ती तीन डिग्री, कानपुर 3 प्वाइंट पांच डिग्री, आगरा तीन प्वाइंट सात डिग्री तथा इलाहाबाद पांच डिग्री सेल्सियस रहा.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

Comments