राजनीति

भाजपा मंत्री की धमकी- पंजे को वोट दिया तो न पानी मिलेगा और न किसी योजना का लाभ

मध्य प्रदेश में कोलारस विधानसभा उपचुनाव के प्रचार के दौरान प्रदेश की खेल एवं युवा कल्याण मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया मतदाताओं को भारतीय जनता पार्टी को वोट न देने पर अंजाम भुगतने की धमकी देती नजर आईं.

यशोधरा राजे सिंधिया (फोटो साभार: फेसबुक/यशोधरा राजे सिंधिया)

यशोधरा राजे सिंधिया (फोटो साभार: फेसबुक/यशोधरा राजे सिंधिया)

एक ओर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान चुनाव नजदीक आते देख कर मतदाताओं को लुभाने हर दिन कोई नई घोषणा कर रहे हैं तो दूसरी ओर उनकी ही सरकार के मंत्री वोट पाने के लिए मतदाताओं को धमका रहे हैं.

ऐसा ही कुछ तस्वीरें सामने आई हैं मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले के कोलारस विधानसभा क्षेत्र  से जहां प्रदेश की खेल एवं युवा मामलों की मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया मतदाताओं को भारतीय जनता पार्टी को वोट न देने पर अंजाम भुगतने की धमकी दे रही हैं.

मध्य प्रदेश में 24 फरवरी को कोलारस और मुंगावली विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के लिए मतदान होना है. जिसके चलते यशोधरा राजे सिंधिया कोलारस स्थित पड़ौरा में चुनाव प्रचार के लिए पहुंची थीं.

पत्रिका की खबर के अनुसार, यशोधरा ने मंच से जनता से रुबरु होते हुए कहा, ‘अगर जनता ने पंजे वाले को जिताया तो मैं आपके काम नहीं करुंगी. दूसरे मंत्री भी यहां का (क्षेत्र का) काम नहीं करेंगे.’

सभा को संबोधित करते हुए वे आगे बोलीं, ‘यहां पानी तब आएगा जब आप पंजे को वोट नहीं देंगे. दो बार आपने पंजे को वोट दिया, अब कितनी बार और देंगे. क्या आप पानी के बिना रहना चाहेंगे? क्षेत्र में विकास चाहिए तो आपको सरकार वाला विधायक बनाना पड़ेगा.’

वहीं दैनिक भास्कर की खबर के मुताबिक वे उज्जवला योजना का लाभ क्षेत्रीय जनता को न दिए जाने को जायज ठहराते हुए बोलीं, ‘आपको पता है कि चूल्हे की योजना आपके पास क्यों नहीं आई? क्योंकि आपने पंजे को वोट दिया. हम पंजे को मकान और चूल्हा क्यों देंगे?’

वहीं, जी न्यूज के एक वीडियो में वे जनता को समझाइश देने वाले अंदाज में कहती नजर आती हैं, ‘हमारी तो सरकार है. अब आप यहां से 24 तारीख को हमारा विधायक नहीं बनाओगे तो पिछड़ापन तो रहेगा ही. मैं तो बात करने नहीं वाली क्योंकि मैं तो मंत्री हूं.’

 

न्यूज़ 18 के अनुसार यशोधरा ने कहा कि कोलारस के लोग पिछड़े रह जाएंगे अगर उन्होंने भाजपा के उम्मीदवार को नहीं जितवाया. उन्होंने आगे कहा, ‘अगर आप लोग कांग्रेस के उम्मीदवार को जितवाते हैं और अगर वो मेरे पास आप लोग के मुद्दे लेकर आएगा, तो मैं उससे बात नहीं करूंगी. मैं मंत्री हूं और मेरा मंत्रालय उसका काम नहीं करेगा.’

गौरतलब है कि यशोधरा राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया की बहन हैं और कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की बुआ हैं. लंबे समय से वे प्रदेश भाजपा से नाराज चल रही थीं क्योंकि उन्हें उपचुनावों के प्रचार अभियान से दूर रखा गया था. कुछ ही दिनों पहले मुख्यमंत्री ने कोलारस और मुंगावली में चुनाव प्रचार का भार उन्हें सौंपा था.

 

Comments