नॉर्थ ईस्ट

भाजपा धर्म आधारित राजनीति में विश्वास नहीं करती: नरेंद्र मोदी

मेघालय में चुनाव प्रचार के दौरान मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने इराक में आईएसआईएस द्वारा बंदी बनाई गई 46 नर्सों को छुड़वाया था. वे सभी ईसाई थीं.

Modi In Meghalaya Rally

फूलबाड़ी की चुनावी रैली में प्रधानमंत्री मोदी (फोटो: twitter/@narendramodi)

फूलबाड़ी (मेघालय): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को मेघालय के फूलबाड़ी में एक चुनावी रैली के दौरान कहा कि भाजपा धर्म पर आधारित राजनीति में विश्वास नहीं करती.

इकोनॉमिक टाइम्स के अनुसार विपक्ष द्वारा लगातार धर्म की राजनीति करने के आरोप पर जवाब देते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘दुनिया के लिए आतंकवाद खतरा है. हम धर्म और जाति आधारित राजनीति में विश्वास नहीं करते. दुनिया में भारत का दर्जा ऊपर उठा है.’

अपनी बात को साबित करते हुए मोदी ने केरल की उन 46 नर्सों का उदाहरण दिया, जिन्हें इराक में आईएसआईएस की कैद से छुड़वाया गया था. उन्होंने कहा, ‘वे इस देश की बेटियां थीं, हमने यह सुनिश्चित किया कि वे अपने परिवार के पास सुरक्षित पहुंचें.’ वे सभी नर्सें ईसाई थीं.

मोदी ने अफगानिस्तान में आतंकवादियों द्वारा बंदी बना लिए गए फादर अलेक्सिस प्रेम कुमार के बारे में भी बताया कि कैसे उनकी सरकार द्वारा फादर अलेक्सिस को 18 महीने की कैद के बाद देश वापस लाया गया था.

गौरतलब है कि मेघालय में विपक्ष द्वारा भाजपा पर ईसाई विरोधी (एंटी-क्रिस्चियन) होने का आरोप लगाया जाता है. मोदी ने इस बाद पर स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि पार्टी धर्म की राजनीति में विश्वास नहीं करती.

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमें राज्य की सेवा का मौका दिया जाए. हम सबका साथ, सबका विकास के सिद्धांत के साथ सुशासन देंगे.

मोदी ने यह भी कहा कि कांग्रेस सरकार के हाथों में मेघालय सुरक्षित नहीं है और जनता को भाजपा को एक बार राज्य की सेवा का मौका देना चाहिए.

मोदी ने कहा कि सत्तारूढ़ कांग्रेस ने जनता को हल्के में लिया क्योंकि उसके सामने राज्य में कोई राजनीतिक चुनौती नहीं थी. अब जनता कांग्रेस के कुशासन को नकारने के लिए तैयार है.

उन्होंने कहा, ‘मैं आपसे वादा करता हूं कि मेघालय में भाजपा की सरकार काम का और पाई-पाई का हिसाब देगी.’ प्रधानमंत्री ने वर्तमान मुकुल संगमा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य सरकार के खाते में घोटालों की लंबी फेहरिस्त है.

उन्होंने शिक्षकों की भर्ती में कथित घोटाले का जिक्र किया. प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि केंद्र ने राज्य में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत 1100 किलोमीटर सड़क बिछाने के लिए करीब 470 करोड़ रुपये दिये हैं लेकिन मेघालय सरकार इसका 50 प्रतिशत भी खर्च नहीं कर सकी.

मोदी ने कहा कि वह अपनी एक्ट ईस्ट नीति को और अधिक मजबूत करना चाहते हैं. इससे राज्य में और समूचे पूर्वोत्तर में लोगों के लिए अवसर बढ़ेंगे.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

Comments