भारत

हम सत्ता में आए तो शराबबंदी से जुड़े मामले वापस होंगे: राजद

राष्ट्रीय जनता दल के उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने बिहार में सत्ता में आने पर शराबबंदी क़ानून के तहत जेल में बंद 1.3 लाख लोगों को छोड़ने की बात कही.

shivanand tiwari-

शिवानंद तिवारी. (फाइल फोटो: पीटीआई)

पटना: राष्ट्रीय जनता दल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने वादा किया है कि अगर उनकी पार्टी की सरकार आयी तो शराबबंदी के सभी मामले वापस लिए जाएंगे.

द टाइम्स ऑफ इंडिया में प्रकाशित खबर के मुताबिक, राष्ट्रीय जनता दल (राजद) ने सत्ता में आने पर शराबबंदी कानून के तहत जेल में बंद 1.3 लाख कैदियों को मुक्त करने की बात कही है. पार्टी के उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने शराबंदी कानून को ‘तुगलकी’ करार दिया.

एनडीटीवी के मुताबिक, पटना में सोमवार को आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में तिवारी ने साफ किया कि चूंकि इस मामले में अधिकांश गरीब, दलित लोग जेल में बंद हैं इसलिए पार्टी उन्हें राहत देने के लिए सभी मामले वापस लेगी. राजद शुरू से शराबबंदी के खिलाफ रही है और उसका मानना है कि ये फेल हो चुका है.

विधानसभा उपचुनाव में भी चाहे तेजस्वी यादव हों या राबड़ी देवी शराबबंदी का अपने भाषण में जिक्र जरूर करते हैं. सोमवार को ही जहानाबाद में प्रचार करते हुए राबड़ी देवी ने कहा कि अब होम डिलिवरी से बेडरूम तक शराब लोगों के घर पर पहुंचाई जा रही है. राज्य में आपातकाल के दौरान जितने लोग जेल नहीं गये उससे कई गुना लोग दो साल में शराबबंदी के चक्कर में जेल की हवा खा रहे हैं.

Comments