भारत

साइंस कांग्रेस में बोले विज्ञान मंत्री, हॉकिंग ने माना था वेद आइंस्टीन के सिद्धांतों से बेहतर

हालांकि विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. हर्षवर्धन इस सूचना का स्रोत नहीं बता पाए.

dr harshvardhan PTI

डॉ. हर्षवर्धन (फाइल फोटो: पीटीआई)

इंफाल: विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने शुक्रवार को दावा किया कि सुप्रसिद्ध भौतिक विज्ञानी स्टीफन हॉकिंग ने कहा था कि वेदों में निहित सूत्र अल्बर्ट आइंस्टीन के E = mc2 के सापेक्षता के सिद्धांत से भी बेहतर हैं.

हॉकिंग का 14 मार्च 2018 को निधन हो गया. यहां 105 वीं भारतीय विज्ञान कांग्रेस को संबोधित करते हुए वर्धन ने यह बात कही. हालांकि उन्होंने इस सूचना के स्रोत से जुड़े सवालों को टाल दिया.

वर्धन ने अपने भाषण में कहा, ‘हमने हाल में एक प्रख्यात वैज्ञानिक और ब्रह्मांड विज्ञानी स्टीफन हॉकिंग को खो दिया. उन्होंने ऑन रिकार्ड जोर देकर यह बात कही थी कि वेदों में दर्ज सिद्धांत आइंस्टीन के E = mc2 के सिद्धांत से भी बेहतर हो सकते हैं.’

इस दावे को पुष्ट करने के लिए स्रोत का खुलासा करने के बारे में कहे जाने पर वर्धन ने संवाददाताओं से कहा, ‘आप स्रोत तलाशिए. उन्होंने ऑन रिकॉर्ड यह बात कही थी कि वेदों में आइंस्टीन के सूत्र से बेहतर सिद्धांत होने की संभावना है. आप भी इस दिशा (स्रोत का पता लगाने की) में थोड़ा काम कीजिए.’

उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि अगर वे अपने शोध में विफल रहते हैं तो उनसे दिल्ली में संपर्क कर सकते हैं.

स्टीफन हॉकिंग और वेद के बारे में सर्च इंजन वेबसाइट ‘गूगल’ पर सर्च किये जाने पर कई लिंक सामने आते हैं, जिनमें से एक www.servveda.org ऐसा ही दावा करता है.

यह साइंटिफिक एंड इंडस्ट्रीज रिसर्च ऑर्गनाइजेशन द्वारा होस्ट किये जाने वाली वेबसाइट है जो वेदों से संबंधित है.

आइंस्टीन के सापेक्षता के सिद्धांत का आधुनिक भौतिक विज्ञान में उल्लेखनीय योगदान रहा है.

Comments